Rabia ahmadi
Rabia ahmadi
Corona Virus Update

संक्रमण के आगे घुटने नहीं टेके, कोरोना को मात देकर अस्पताल से घर वापस लौटीं 105 वर्षीय बुजुर्ग

गौतमबुद्धनगर के शारदा कोविड-19 अस्पताल से 105 वर्ष की राबिया अहमदी को शुक्रवार को डिस्चार्ज किया गया। दरअसल राबिया अहमदी का पिछले 7 दिनों से शारदा अस्पताल में कोरोना का इलाज चल रहा था।

Yoyocial News

Yoyocial News

गौतमबुद्धनगर के शारदा कोविड-19 अस्पताल से 105 वर्ष की राबिया अहमदी को शुक्रवार को डिस्चार्ज किया गया। दरअसल राबिया अहमदी का पिछले 7 दिनों से शारदा अस्पताल में कोरोना का इलाज चल रहा था। डॉक्टर्स की एक टीम राबिया पर इलाज के दौरन नजर बनाए हुए थी। दरअसल राबिया अहमदी ह्रदय रोग, अनिद्रा और अल्जाइमर रोग से भी पीड़ित हैं।

उसके बाद भी राबिया ने कोरोना संक्रमण के आगे हार नहीं मानी। आखिरकार इतनी उम्र होने के बावजूद राबिया ने इस जंग को जीत कर अन्य मरीजों के हौसले बढ़ा दिए हैं।

इस मौके पर अपर जिलाधिकारी प्रशासन दिवाकर सिंह अस्पताल पहुंचे और कोरोना योद्धा को शुभकामनाएं देते हुए उनके सुखमय जीवन की कामना की।

नोएडा के जिलाधिकारी सुहास एल वाई ने शारदा अस्पताल के सभी डॉक्टर्स की टीम को बधाई दी। गौतमबुद्धनगर में कोरोना संक्रमण का खतरा लगातार बरकरार है। जिले में शुक्रवार को 133 नये संक्रमित मरीज सामने आए तो कुल 66 मरीज स्वस्थ हुए।

105 वर्षीय राबिया अहमदी का कहना है, "जब तक अल्लाह चाहता है तब तक मैं जीवित रहूंगी, कोरोना के बारे में नहीं सोचना ही बेहतर है। व्यक्ति को हमेशा जीवन में हमेशा आगे की ओर देखना चाहिए। मुझे लगता है कि मैं इसलिए मैं अब तक जिंदा हूं। कल, मैं ईद-उल-जुहा पर नमाज पढ़ने जा रही हूँ।”

Keep up with what Is Happening!

Best hindi news platform for youth
www.yoyocial.news