अप्रैल महीने में 3 हजार पाकिस्तानी बच्चे कोरोना का शिकार

अप्रैल महीने में 3 हजार पाकिस्तानी बच्चे कोरोना का शिकार

पाकिस्तान में संघीय स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा जारी किए गए आंकड़ों के अनुसार 1 से 10 साल की उम्र के करीब 3,000 से अधिक बच्चे अप्रैल में कोरोनो वायरस का शिकार हुए।

पाकिस्तान में संघीय स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा जारी किए गए आंकड़ों के अनुसार 1 से 10 साल की उम्र के करीब 3,000 से अधिक बच्चे अप्रैल में कोरोनो वायरस का शिकार हुए। जियो टीवी के अनुसार 1 से 10 साल की उम्र के 3,315 बच्चे और 11 से 20 वर्ष के 12,162 लड़के, लड़कियां, अप्रैल में कोविड का शिकार हुए।

यह भी पता चला कि इस महीने के दौरान कोरोनावायरस के कारण कम से कम 19 बच्चों की मौत हो गई है।

लड़कियों में, 1 से 10 आयु वर्ग के 1,424 और 11 से 20 आयु वर्ग 5,205 लड़कियां पीड़ित है।

लड़कों में, 1,891 लड़के एक से 10 आयु वर्ग के थे, जबकि 11 से 20 आयु वर्ग 6,957 लड़के शामिल है।

पाकिस्तान कोरोनोवायरस की एक घातक तीसरी लहर के बीच में है जिसने सरकार को देश के कई इलाकों में लॉकडाउन लगाने के लिए मजबूर कर दिया है।

नेशनल कमांड एंड ऑपरेशन सेंटर ने बताया कि आज पिछले 24 घंटों में 4,696 लोगों ने सकारात्मक परीक्षण किया।

Keep up with what Is Happening!

No stories found.
Best hindi news platform for youth
www.yoyocial.news