ब्रिटेन में भारतीय कोविड वैरिएंट के लगभग 3,000 मामले सामने आए

भारतीय वैरिएंट की वजह से इंग्लैंड के 21 जून के लिए निर्धारित कोविड-19 प्रतिबंधों के रोडमैप के अंतिम चरण में देरी हो सकती है।
ब्रिटेन में भारतीय कोविड वैरिएंट के लगभग 3,000 मामले सामने आए

ब्रिटेन के स्वास्थ्य सचिव मैट हेनकॉक ने कहा कि भारत में पाए गए कोरोनावायरस वैरिएंट के लगभग 3,000 मामले ब्रिटेन में सामने आए हैं।

समाचार एजेंसी सिन्हुआ की रिपोर्ट के अनुसार, संसद के निचले सदन हाउस ऑफ कॉमन्स में बुधवार को एक बयान में, हेनकॉक ने कहा कि अब इंडियन वैरिएंट के 2,967 मामले दर्ज किए गए हैं, जिसकी संख्या सोमवार को 2,300 से अधिक थी।

स्वास्थ्य सचिव के अनुसार, बेडफोर्ड, बर्नले, हाउंस्लो, किर्कलीज, लीसेस्टर और नॉर्थ टाइनसाइड सहित प्रभावित क्षेत्रों में सर्ज परीक्षण और टीकाकरण शुरु किया जाएगा।

उन्होंने कहा कि स्कॉटिश सरकार ग्लासगो और मोरे में भी इसी तरह के कदम उठा रही है।

भारतीय वैरिएंट की वजह से इंग्लैंड के 21 जून के लिए निर्धारित कोविड-19 प्रतिबंधों के रोडमैप के अंतिम चरण में देरी हो सकती है।

प्रधान मंत्री बोरिस जॉनसन ने बुधवार को सांसदों से कहा कि विश्वास बढ़ रहा है कि मौजूदा टीके वायरस के सभी प्रकारों के खिलाफ प्रभावी होंगे, जिसमें भारतीय स्ट्रेन भी शामिल है।

सोमवार से, इंग्लैंड में पब, बार और रेस्तरां को खोलने की अनुमति दी गई, जबकि सिनेमा, संग्रहालय और बच्चों के खेलने के क्षेत्रों सहित इनडोर मनोरंजन फिर से शुरू हो गया।

इस बीच, होटल, हॉस्टल और बी एंड बी सहित शेष सभी आवास 24 मई से फिर से खुल सकते हैं।

यूके में अब तक 4,468,355 कोविड 19 मामले सामने आए हैं और 127,956 मौतें हुई हैं।

Keep up with what Is Happening!

No stories found.
Best hindi news platform for youth. हिंदी ख़बरों की सबसे तेज़ वेब्साईट
www.yoyocial.news