पहली खेप की कोरोना वैक्सीन पहुंची मैक्सिको

पहली खेप की कोरोना वैक्सीन पहुंची मैक्सिको

साइनोवैक कंपनी की पहले खेप की कोरोना वैक्सीन 20 फरवरी को मैक्सिको की राजधानी मैक्सिको सिटी के अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डे पहुंचीं।

साइनोवैक कंपनी की पहले खेप की कोरोना वैक्सीन 20 फरवरी को मैक्सिको की राजधानी मैक्सिको सिटी के अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डे पहुंचीं।

मैक्सिको के विदेश मंत्री की विशेष प्रतिनिधि, उप विदेश मंत्री मार्ता डेलगाडो और मैक्सिको स्थित चीनी राजदूत च्वू छिंगछाओ ने हवाई अड्डे पर वैक्सीन का स्वागत किया।

मार्ता डेलगाडो ने मैक्सिको सरकार की ओर से वैक्सीन प्रदान करने के लिए चीन का आभार प्रकट किया। उन्होंने कहा कि पिछले वर्ष चीन महामारी की रोकथाम के क्षेत्र में मैक्सिको और चीन के बीच सहयोग में बड़ी उपलब्धियां हासिल हुईं।

चीन ने एयर ब्रिज के माध्यम से मैक्सिको को महामारी की रोकथाम करने के लिए बड़ी मात्रा में सामग्री प्रदान की।

वर्तमान में दोनों पक्षों के बीच वैक्सीन सहयोग में लगातार नई प्रगतियां हासिल हुईं। मैक्सिको लातिन अमेरिका का एकमात्र देश है जिसने दो चीनी टीकों के आपात उपयोग को मंजूरी दी है।

दोनों पक्षों के बीच वैक्सीन सहयोग अंतर्राष्ट्रीय महामारी विरोधी सहयोग की आदर्श मिसाल बन गया है।

च्वू छिंगछाओ ने भाषण देते हुए कहा कि कोविड-19 महामारी फैलने से अब तक चीन और मैक्सिको ने एक दूसरे को सहायता दी।

चीन ने अपने यहां वैक्सीन की बहुत बड़ी मांग होने, कंपनी की क्षमता सीमित होने की स्थिति में भी मैक्सिको को तत्काल वैक्सीन प्रदान की, जिससे मैक्सिको के साथ संबंधों पर चीन का बड़ा ध्यान और मैक्सिको की जनता के साथ गहन मैत्री दिखाई गई।

चीनी वैक्सीन का मैक्सिको पहुंचना दोनों देशों के बीच महामारी रोधी सहयोग में नई महत्वपूर्ण प्रगति हासिल करने का प्रतीक है।

Keep up with what Is Happening!

AD
No stories found.
Best hindi news platform for youth
www.yoyocial.news