कोविड-19: फाइजर वैक्सीन को आखिरकार जापान में मिली अनुमति

कोविड-19: फाइजर वैक्सीन को आखिरकार जापान में मिली अनुमति

वैक्सीन को मंजूरी दिलाने में कम से कम एक या दो साल लगते हैं, लेकिन संक्रमितों की बढ़ती संख्या को देखते हुए सरकार ने समीक्षा की समयावधि को घटाकर दो महीने से भी कम कर दिया है।

जापान की सरकार ने अपने यहां की 12.6 करोड़ जनता के लिए कोविड-19 के खिलाफ टीकाकरण अभियान को शुरू करने के मद्देनजर पहली वैक्सीन को मंजूरी दे दी है।

जापान टाइम्स की रिपोर्ट के मुताबिक, जापान में सरकारी समिति से मंजूरी मिलने के दो दिन बाद स्वास्थ्य मंत्री नोरिहिसा तमुरा ने रविवार को फाइजर इंक की कोविड-19 एमआरएनए वैक्सीन को आपातकालीन उपयोग के लिए मंजूरी दे दी है।

अब देश में बुधवार से टीकाकरण अभियान की शुरुआत कर दी जाएगी।

वैक्सीन को मंजूरी दिलाने में कम से कम एक या दो साल लगते हैं, लेकिन संक्रमितों की बढ़ती संख्या को देखते हुए सरकार ने समीक्षा की समयावधि को घटाकर दो महीने से भी कम कर दिया है।

इस वैक्सीन को जिन सात देशों ने सहमति दी है, जापान उनमें सबसे आखिरी नंबर पर है क्योंकि यहां लोगों की सुरक्षा को सुनिश्चित करने के मद्देनजर एक और नैदानिक परीक्षण को आयोजित कराए जाने की आवश्यकता थी।

अमेरिका में स्थित फार्मा कंपनी फाइजर इंक और जर्मन बायोटेक कंपनी बायोएनटेक द्वारा साथ में विकसित की गई फाइजर की खुराक को ब्रिटेन और अमेरिका ने दिसंबर में ही मंजूरी दे दी थी।

Keep up with what Is Happening!

AD
No stories found.
Best hindi news platform for youth
www.yoyocial.news