तेजी से गिरे यूपी के मामले, 25 दिन में 75 फीसदी घटा संक्रमण

कोरोना के मोर्चे पर देश के सर्वाधिक आबादी वाले सूबे यूपी से अच्छी खबर है। 25 दिन में यहां 24 घंटे के दौरान मिलने वाले कोरोना संक्रमण के नए मामलों में 75 फीसद की कमी आई है। 24 अप्रैल को 24 घंटे में प्रदेश में नए संक्रमण के रिकॉर्ड 38055 मामले मिले थे।
तेजी से गिरे यूपी के मामले, 25 दिन में 75 फीसदी घटा संक्रमण

कोरोना के मोर्चे पर देश के सर्वाधिक आबादी वाले सूबे यूपी से अच्छी खबर है। 25 दिन में यहां 24 घंटे के दौरान मिलने वाले कोरोना संक्रमण के नए मामलों में 75 फीसद की कमी आई है। 24 अप्रैल को 24 घंटे में प्रदेश में नए संक्रमण के रिकॉर्ड 38,055 मामले मिले थे।

उस समय कुछ संस्थाओं ने आशंका जताई थी कि मई में पीक पर यह संख्या एक लाख तक जा सकती है। पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की आक्रामक ट्रेस, टेस्ट और ट्रीट नीति के जरिए न केवल सारी आशंकाएं निर्मूल साबित हुईं बल्कि राज्य में कोरोना बहुत हद तक नियंत्रण में है। कोरोना महामारी के खिलाफ लड़ाई में ट्रेस, टेस्ट और ट्रीट को सबसे प्रभावी हथियार बनाने के कुछ दिनों बाद से कोरोना के लिहाज से हर मोर्चे पर आने वाली खबरें राहत पहुंचाने वाली हैं।

इन कोशिशों का ही नतीजा है कि महज एक पखवाड़े में ही प्रदेश के कोरोना मरीजों की तादाद में 52 फीसदी तक कमी आ गई है। ढाई से तीन लाख टेस्ट हर दिन करने के बाद भी स्थिति यह है कि दैनिक केस की संख्या में लगातार कमी हो रही।

प्रदेश के 75 जिलों में से 44 जिले ऐसे हैं जहां कुल कोरोना मरीजों की संख्या 2000 से कम रह गई है, जबकि 30 जिलों में 5000 से कम एक्टिव केस हैं। बीते माह 30 अप्रैल को प्रदेश में 03 लाख 10 हजार 783 कोरोना मरीज थे, यह समूचे कोविड काल में अब तक का पीक था। इसके सापेक्ष 17 मई को 1,49,032 लाख एक्टिव केस रहे।

अधिकृत आंकड़ों को देखें तो 14 लाख 62 हजार से अधिक प्रदेशवासियों ने कोविड से जंग जीती है। बीते 24 घंटे में 2 लाख 55 हजार टेस्ट हुए। यूपी का रिकवरी दर बढ़कर 89.8 हो गया है।

एक्टिव केस में गिरावट और बेहतर होते रिकवरी दर को संतोषजनक बताने के साथ मुख्यमंत्री कोरोना को लेकर पूरी तरह सतर्क हैं। इसी क्रम में संक्रमण में ठीक ठाक कमी के बावजूद मुख्यमंत्री ने टेस्टिंग क्षमता को और बढ़ाने के निर्देश दिए हैं।

मुख्यमंत्री योगी ने कहा कि संक्रमण की चेन तोड़ने के लिए लोगों के सहयोग से गांव-गांव टेस्टिंग का जो महाअभियान चल रहा है उसे युद्ध स्तर पर चलाएं। निगरानी समितियां घर-घर जाएं, स्क्रीनिंग करें, होम आइसोलेशन के मरीजों को मेडिकल किट उपलब्ध कराएं। लक्षणयुक्त लोगों के बारे में आरआरटी को सूचना देकर उनका एंटीजन टेस्ट कराएं।

मुख्यमंत्री का निर्देश है की होम आइसोलेशन में इलाज करा रहे लोगों को समय से मेडिकल किट जरूर दी जाए। मुख्य सचिव और मुख्यमंत्री कार्यालय से इसकी समीक्षा की जाए। निगरानी समितियां जिन लोगों को मेडिकल किट दें उनका विवरण आईसीसीसी को उपलब्ध कराएं। आईसीसीसी इसका सत्यापन करे। जिला प्रशासन के जरिए स्थानीय जनप्रतिनिधियों को भी ये सूची उपलब्ध कराई जाए। सीएम हेल्पलाइन से भी इसका सत्यापन कराएं।

मालूम हो कि यूपी में हर दिन औसतन सवा दो लाख कोविड टेस्ट किये जा रहे हैं। बीते 01 मई को नया रिकॉर्ड बनाते हुए प्रदेश में 02 लाख 97 हजार टेस्ट किये गए। इसके बाद भी घटता संक्रमण राहत देता है।

1 से 17 मई तक दैनिक नए केस की स्थिति

1 मई- 30,317, 2 मई- 30,983, 3 मई- 29,192, 04 मई- 25,858, 5 मई- 21,265, 6 मई - 26,780, 7 मई -28,076, 8 मई- 26,847, 9 मई- 23,333, 10 मई- 21,331, 11 मई- 20,463, 12 मई- 18,125, 13 मई- 17,775, 14 मई- 15,747, 15 मई- 12,500, 16 मई- 10,682, 17- मई - 9,391।

Keep up with what Is Happening!

No stories found.
Best hindi news platform for youth. हिंदी ख़बरों की सबसे तेज़ वेब्साईट
www.yoyocial.news