कोरोना के खिलाफ अलख जगाने गांव-गांव घूम रहा दिव्यांग

कोरोना के खिलाफ अलख जगाने गांव-गांव घूम रहा दिव्यांग

कोरोना के बढ़ते संक्रमण के बीच हर तरफ से मदद के हाथ बढ़ रहे है। हर व्यक्ति अपने सामथ्र्य के मुताबिक लोगों की मदद के लिए आगे आ रहे है।

कोरोना के बढ़ते संक्रमण के बीच हर तरफ से मदद के हाथ बढ़ रहे है। हर व्यक्ति अपने सामथ्र्य के मुताबिक लोगों की मदद के लिए आगे आ रहे है। मध्य प्रदेश के रायसेन जिले में तो भगवान सिंह खुद दिव्यांग है, ट्राईसकिल पर चलते है और उन्हें सहारे की जरुरत होती है, मगर इस कोरोना काल में उन्होंने लोगों में जागृति लाने का बीड़ा उठाया है।

सॉची जनपद की ग्राम पंचायत मेढ़की में कोरोना वॉलेंटियर दिव्यांग भगवान सिंह कोरोना महामारी के विरूद्ध जारी इस लड़ाई में लोगों को जागरूक करने में लगे हैं। वे गांव-गांव में लोगों को मास्क लगाने, दो गज की दूरी बनाए रखने और कोविड वैक्सीनेशन के लिए जागरूक कर रहे हैं।

भगवान सिंह अपनी ट्राईसकिल पर ग्राम पंचायत के सभी गावों में जाकर ग्रामीणों को कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए मास्क लगाने और सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करने के लिए जागरूक कर रहे हैं। वह लोगों को वैक्सीनेशन के लिए प्रेरित करते हुए कहते हैं कि कोरोना को हमें गंभीरता से लेना हैं। वैक्सीन लगवाने से हम अपने परिवार, समाज और जिले को कोरोना से बचा सकते हैं।

भगवान सिंह ग्रामीणों को समझाते हैं कि वैक्सीन लगवाने के साथ-साथ मास्क लगाना, सोशल डिस्टेंसिंग बनाए रखना, अपने हाथों को बार-बार साबुन से धोते रहना भी जरूरी है। अगर किसी को सर्दी, खांसी, जुकाम, बुखार जैसे लक्षण होते हैं तो वह तुरंत स्वास्थ्य केन्द्र पर जाकर जांच कराएं।

भगवान सिंह लोगों को जागरूक करने के दौरान स्वयं भी सोशल डिस्टेंसिंग का पूरा ध्यान रखते हैं। गांव के लोग भगवान सिंह को भरेासा दिला रहे है कि वे कोरोना से बचाव के जो तरीके बता रहे है उनका पालन करंेगे और अन्य लोगों को भी इन तरीकों से बताएंगे।

Keep up with what Is Happening!

No stories found.
Best hindi news platform for youth
www.yoyocial.news