असम में डबल म्यूटेंट कोविड स्ट्रेन का पता चला, पूर्वोत्तर में पहली दस्तक

असम में डबल म्यूटेंट कोविड स्ट्रेन का पता चला, पूर्वोत्तर में पहली दस्तक

असम में कोविड-19 के मामलों की बढ़ती संख्या के बीच, डिब्रूगढ़ हवाईअड्डे पर नोवल कोरोनावायरस के डबल म्यूटेंट वेरिएंट के नमूने पाए गए हैं। अधिकारियों ने शुक्रवार को कहा कि पूर्वोत्तर क्षेत्र में पहली बार इस तरह के नमूने मिले हैं।

असम में कोविड-19 के मामलों की बढ़ती संख्या के बीच, डिब्रूगढ़ हवाईअड्डे पर नोवल कोरोनावायरस के डबल म्यूटेंट वेरिएंट (दोहरे उत्परिवर्ती संस्करण) के नमूने पाए गए हैं। अधिकारियों ने शुक्रवार को कहा कि पूर्वोत्तर क्षेत्र में पहली बार इस तरह के नमूने मिले हैं। स्वास्थ्य अधिकारियों ने कहा कि असम से पहले महाराष्ट्र, दिल्ली और पश्चिम बंगाल में डबल म्यूटेंट स्ट्रेन के नमूने पाए गए थे।

असम के स्वास्थ्य मंत्री हिमंत बिस्वा सरमा ने ट्वीट किया : "डिब्रूगढ़ हवाईअड्डे पर मिले हालिया नमूने बी.1.617 स्ट्रेन या इंडियन डबल म्यूटेंट (एल452आर और ई484क्यू) के पॉजिटिव हैं, जो सार्स-कोव-2 के स्ट्रेन हैं। हमें बहुत सावधान रहने की जरूरत है।"

डबल म्यूटेंट (बी.1.617) स्ट्रेन को महाराष्ट्र में कोविड-19 मामलों और भारत के कुछ अन्य राज्यों में संक्रमण में आए मौजूदा उछाल के लिए जिम्मेदार माना जाता है।

वैज्ञानिकों ने पहले आशंका जताई थी कि टीके डबल म्यूटेंट स्ट्रेन से सुरक्षा नहीं दे सकते, क्योंकि यह स्ट्रेन प्रतिरक्षा प्रणाली से बचकर निकल सकता है।

एक स्वास्थ्य अधिकारी ने कहा, "मंगलवार की रात असम में 7,685 सक्रिय मामले थे और ये गुरुवार की देर रात बढ़कर 10,571 हो गए। अब तक 2,31,069 सकारात्मक मामले सामने आए हैं, जबकि 1,160 मरीजों ने वायरस से दम तोड़ दिया है।"

Keep up with what Is Happening!

No stories found.
Best hindi news platform for youth
www.yoyocial.news