कोविड टेस्ट से बचने के लिए 300 से अधिक यात्री सिलचर हवाई अड्डे से भागे

कोविड टेस्ट से बचने के लिए 300 से अधिक यात्री सिलचर हवाई अड्डे से भागे

असम के सिलचर हवाई अड्डे पर पहुंचे 300 से अधिक यात्री भाग निकले और कोविड-19 के लिए अनिवार्य टेस्ट करवाया। दक्षिणी असम के कछार जिले के अतिरिक्त पुलिस उपायुक्त सुमित सतावण ने कहा कि...

असम के सिलचर हवाई अड्डे पर पहुंचे 300 से अधिक यात्री भाग निकले और कोविड-19 के लिए अनिवार्य टेस्ट करवाया। दक्षिणी असम के कछार जिले के अतिरिक्त पुलिस उपायुक्त सुमित सतावण ने कहा कि "वे सभी हवाई यात्रियों की जानकारी जमा कर रहे हैं और फिर उनके खिलाफ कानूनी कार्रवाई की जाएगी।"

सत्वन ने मीडिया से कहा, "भारतीय दंड संहिता की धारा 188 के तहत हवाई यात्रियों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।"

कछार जिला प्रशासन ने मामले की जांच शुरू कर दी है।

हवाई अड्डे और स्वास्थ्य विभाग के सूत्रों ने बताया कि बुधवार को सिलचर हवाई अड्डे पर छह अलग-अलग उड़ानों से पहुंचे 690 यात्रियों में से केवल 189 यात्रियों ने कोविड का टेस्ट करवाया और जिसमें 6 पॉजिटिव मिले, जबकि 200 से अधिक यात्रियों को दूसरे कारणों और सरकार के मानक संचालन प्रक्रियाओं (एसओपी) के कारण टेस्ट की आवश्यकता नहीं पड़ी।

हवाई अड्डे के एक अधिकारी ने कहा, "हमारे हवाईअड्डे के रिकॉर्ड के अनुसार 300 से अधिक लोग अनिवार्य टेस्ट के बिना बाहर चले गए हैं। हालांकि, प्रत्येक व्यक्ति अपने पहचान पत्र दिखाने के बाद बोर्ड पर चढ़ने और उतरने के कारण ट्रेस करने योग्य है।"

स्वास्थ्य विभाग ने पास के अस्पताल में विमान यात्रियों के लिए कोवि-टेस्ट की व्यवस्था की है और परिवहन उपलब्ध कराया है लेकिन 300 से अधिक यात्री इन व्यवस्थाओं से बच गए हैं।

असम सरकार ने बुधवार को अपने पहले के एसओपी को आंशिक रूप से संशोधित करते हुए अपने कोविड टेस्ट की रिपोर्ट नेगेटिव होने पर भी उड़ानों और ट्रेनों से असम आने वाले लोगों के लिए 7-दिन का क्वारंटीन अनिवार्य कर दिया है।

प्रमुख सचिव, स्वास्थ्य और परिवार कल्याण समीर कुमार सिन्हा द्वारा जारी एसओपी, सरकारी अधिकारियों, चिकित्सा कारणों से यात्रा करने वाले, अन्य पूर्वोत्तर राज्यों के नागरिकों और शोक मामलों वाले लोगों को छूट दी जाएगी।

Keep up with what Is Happening!

No stories found.
Best hindi news platform for youth
www.yoyocial.news