ओमिक्रोन के खतरे के बीच सीरम इंस्टीट्यूट को मिली बड़ी सफलता, WHO ने Covovax को दी आपातकालीन उपयोग की मंजूरी

विश्व स्वास्थ्य संगठन ने शुक्रवार को नोवावैक्स से लाइसेंस के तहत सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया द्वारा निर्मित और कोवोवैक्स सुविधा पोर्टफोलियो के हिस्से के तहत कोविड वैक्सीन कोवोवैक्स की आपातकालीन उपयोग सूची को मंजूरी दे दी है।
ओमिक्रोन के खतरे के बीच सीरम इंस्टीट्यूट को 
मिली बड़ी सफलता, WHO ने Covovax को दी आपातकालीन उपयोग की मंजूरी

विश्व स्वास्थ्य संगठन ने शुक्रवार को नोवावैक्स से लाइसेंस के तहत सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया द्वारा निर्मित और कोवोवैक्स सुविधा पोर्टफोलियो के हिस्से के तहत कोविड वैक्सीन कोवोवैक्स की आपातकालीन उपयोग सूची को मंजूरी दे दी है।

सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया के सीईओ अदार पूनावाला ने कहा, कोविड-19 के खिलाफ हमारी लड़ाई में यह एक और मील का पत्थर है। कोवोवैक्स को अब आपातकालीन उपयोग के लिए मंजूरी दे दी गई है, जो उत्कृष्ट सुरक्षा और प्रभावकारिता दिखा रहा है। एक महान सहयोग के लिए आप सभी का धन्यवाद।

कोवोवैक्स में दो-खुराक वाली वैक्सीन है और यह डब्ल्यूएचओ से आपातकालीन उपयोग की स्वीकृति प्राप्त करने वाला नौवां वैक्सीन है। हालांकि, इसे भारत में शीर्ष दवा नियामक, डीसीजीआई द्वारा आपातकालीन उपयोग प्राधिकरण (ईयूए) प्रदान किया जाना बाकी है।

वैश्विक स्वास्थ्य निकाय ने कहा कि लिस्टिंग का उद्देश्य विशेष रूप से कम आय वाले देशों में पहुंच बढ़ाना है, जिनमें से 41 अभी भी अपनी 10 प्रतिशत आबादी का टीकाकरण नहीं कर पाए हैं, जबकि 98 देश 40 प्रतिशत तक नहीं पहुंचे हैं।

कोवोवैक्स का मूल्यांकन डब्ल्यूएचओ ईयूएल प्रक्रिया के तहत गुणवत्ता, सुरक्षा और प्रभावकारिता पर डेटा की समीक्षा, एक जोखिम प्रबंधन योजना, प्रोग्रामेटिक उपयुक्तता और भारत के औषधि महानियंत्रक द्वारा किए गए निर्माण स्थल निरीक्षण के आधार पर किया गया था।

डब्ल्यूएचओ द्वारा बुलाई गई और दुनिया भर के विशेषज्ञों से बने तकनीकी सलाहकार समूह फॉर इमरजेंसी यूज लिस्टिंग (टीएजी-ईयूएल) ने यह निर्धारित किया है कि वैक्सीन कोविड -19 के खिलाफ सुरक्षा के लिए डब्ल्यूएचओ के मानकों को पूरा कर लिया है। डब्ल्यूएचओ ने एक बयान में कहा, किसी भी जोखिम से अधिक है और यह कि वैक्सीन का उपयोग विश्व स्तर पर किया जा सकता है।

अमेरिका स्थित नोवावैक्स के साथ साझेदारी में एसआईआई द्वारा विकसित कोवोवैक्स वैक्सीन, डब्ल्यूएचओ द्वारा अनुमोदित भारत से संबंधित तीसरा टीका है। अन्य दो टीके कोविशील्ड और कोवैक्सिन हैं। कोवैक्सीन भारत का पहला स्वदेशी कोविड वैक्सीन है, जबकि कोवीशील्ड ब्रिटेन के एस्ट्राजेनेका का भारतीय संस्करण है।

Keep up with what Is Happening!

Related Stories

No stories found.
Best hindi news platform for youth. हिंदी ख़बरों की सबसे तेज़ वेब्साईट
www.yoyocial.news