Indoor Games: जानिए आसानी से खेले जाने वाले इनडोर गेम्स के बारे में: भाग -2

Yoyocial.News ले कर आया है कुछ ऐसे खेल, जिन्हें घर में रह कर आसानी से खेला जा सकता है। न सिर्फ लॉकडाउन, बल्कि उसके बाद भी बच्चे इन्हें आसानी से खेल सकते हैं। तो आईये जानते हैं वो कौन से खेल हैं।
Indoor Games: जानिए आसानी से खेले जाने वाले इनडोर गेम्स के बारे में: भाग -2

इन दिनों पूरी दुनिया कोरोना वायरस से जूझ रही है। इस कोरोना काल में क्या बच्चे, क्या बुजुर्ग और क्या युवा वर्ग, हर कोई घर में रहने को मजबूर है। हालांकि, ऐसे समय में हर कोई किसी न किसी तरह अपना समय व्यतीत कर रहा है, लेकिन सबसे ज्यादा परेशान बच्चे हैं।

इसी समस्या का अनोखा हल लेकर आये है। यही सही समय है, बच्चों को हिंदुस्तान के पारंपरिक खेलों से जोड़ने का। ये खेल ऐसे हैं, जिन्हें घर में आसानी से खेला जा सकता है। न सिर्फ लॉकडाउन, बल्कि उसके बाद भी बच्चे इन्हें खेल सकते हैं।

Indoor Games: जानिए आसानी से खेले जाने वाले इनडोर गेम्स के बारे में: भाग -2
जानिए आसानी से खेले जाने वाले इनडोर गेम्स के बारे में: भाग -1

घर के अंदर खेले जाने वाले खेलों के नाम :-

यहां हम ऐसे खेलों के नाम बता रहे हैं, जिनके लिए ज्यादा ताम-झाम की जरूरत नहीं है। बस जरूरत है, कुछ साथियों की। इसलिए, बेहतर होगा कि अगर पैरंट्स अपने बच्चों के पार्टनर बनें और उन्हें ये खेल खेलने के लिए प्रेरित करें।

इससे न सिर्फ आपके अपने बच्चों के साथ संबंध और गहरे होंगे, बल्कि आप एक बार फिर से अपने बचपन को जी लेंगे।

Indoor Games: जानिए आसानी से खेले जाने वाले इनडोर गेम्स के बारे में: भाग -2
Amazing Facts : Do you know these facts ?

स्टापू :-

स्टापू भारत के घरों में खेला जाने वाला प्रचलित खेल है। इस खेल को भारत के कई अलग-अलग राज्यों में विभिन्न नाम से जाना जाता है। इसे चिप्पी और लंगड़ी टंग के नाम से भी जाना जाता है। इसे दो से चार बच्चे खेल सकते हैं। इतना ही नहीं इसे अकेले भी खेला जा सकता है। इस खेल को एक पैर से खेला जाता है, इससे बच्चों की संतुलन शक्ति का विकास हो सकता है।

कैसे खेलें :-

  • इसे खेलने के लिए सबसे पहले जमीन पर चॉक से 8 खांचे बना लें। पहले 3 एक-एक खांचे वाले, उससे अगला दो खांचे वाला, फिर एक और अंत में दो खांचे होते हैं।

  • इसके बाद एक पत्थर के छोटे टुकड़े को पहले खाने में फेंका जाता है। ध्यान रखें कि वह पत्थर किसी रेखा को न छू रहा हों। अगर पत्थर रेखा को छुएगा, तो खिलाड़ी आउट हो जाएगा।

  • इसके बाद एक पैर से पत्थर वाले घर को छोड़कर दूसरे खांचों में जाना होता है। दो खांचे वाले स्थान पर आप दोनों पैर को अलग अलग खांचे में रखेंगे।

  • अंतिम खांचे में पहुंचने पर वापस एक पैर में आना होगा। वापस आते समय भी दो खांचों पर दोनों पैर रखने होते हैं। इस आने और जाने के बीच में पैर से कोई भी लाइन टच नहीं होनी चाहिए।

  • फिर जिस खांचे में पत्थर है उसके पहले खांचे में रुक कर झुकते हुए पत्थर को हाथ से बाहर फेंकना होता है।

  • फिर उस खांचे से उस पत्थर के ऊपर कूदना या छूना होता है।

  • ऐसे ही एक के बाद एक खांचों में पत्थर फेंकना होता है, जिससे एक राउंड पूरा न हो जाता है। जो सबसे ज्यादा राउंड पूरे करता है, वह खेल का विजेता होता है।

Indoor Games: जानिए आसानी से खेले जाने वाले इनडोर गेम्स के बारे में: भाग -2
Amazing Facts : Do you know your finger prints and tongue prints are unique ?

स्टैचू :-

हर खेल से बच्चों को किसी न किसी तरह का फायदा जरूर होता है। वैसे ही इस खेल से बच्चों के अंदर धैर्य पैदा होता है, जो हर बच्चे के लिए जरूरी होता है।

कैसे खेलें :-

  • इसे खेलना काफी आसान है। इसके लिए बच्चों के सामने जाकर उन्हें स्टैचू कहना होता है।

  • बच्चे जिस स्थिति में होते हैं, उसी स्थिति में स्टैचू बन जाते हैं। जो नहीं बनता वह आउट हो जाता है।

  • स्टैचू से सामान्य करने के लिए मूव कहना होता है।

Indoor Games: जानिए आसानी से खेले जाने वाले इनडोर गेम्स के बारे में: भाग -2
Amazing Facts : Did you know instrument strings were made from animals?

पंजा लड़ाना :-

इस खेल का विजेता वहीं होता है, जिसमें अधिक शक्ति होती है। इस खेल को दो लोगों के बीच खेला जाता है। ध्यान रहे कि खेलने वाले दोनों बच्चों की उम्र एक सामना होनी चाहिए। इसे बच्चे अपने माता-पिता के साथ भी खेल सकते हैं।

कैसे खेलें :-

  • सबसे पहले दोनों बच्चे एक टेबल के आमने-सामने बैठ जाएं।

  • फिर अपने दाहिने हाथ को टेबल पर रखकर एक दूसरे के पंजे को पकड़ लें।

  • इसके बाद सामने वाले के हाथ को टेबल की तरफ झुकाने की कोशिश करें।

  • जिसका हाथ पहले झुक जाता है, वह हार जाता है।

Indoor Games: जानिए आसानी से खेले जाने वाले इनडोर गेम्स के बारे में: भाग -2
Big Fact : Do you know Octopus reproduce once and die ?

शतरंज (चेस) :-

इस खेल को खेलने के लिए अधिक दिमाग लगाने की जरूरत होती है। बच्चों के मानसिक विकास के लिए इससे बेहतर कोई खेल नहीं हो सकता और हर कोई इस खेल में माहिर नहीं होता है। इस खेल को खेलने के लिए चेस बोर्ड और 36 मोहरों की जरूरत होती है। इनमें से आधी मोहरे सफेद होती हैं और और आधी काली। दोनों खिलाड़ियों को 9-9 सिपाही, 2-2 हाथी, घोड़े व ऊंट और 1-1 वजीर व राजा मिलता है। एक समय में सिर्फ दो लोग इसे खेल सकते हैं।

कैसे खेलें :-

  • दोनों को उनके मोहरे दिए जाते हैं, जो सफेद और काले रंग के होते हैं।

  • खेल की शुरुआत में उनके मोहरे उनकी तरफ रखे होते हैं।

  • फिर दोनों खिलाड़ी एक-एक करके दाव चलते हैं।

  • इसमें राजा की चाल एक घर होता है। वह दाएं-बाएं, आगे-पीछे और आड़ा-तिरछा चल सकता है।

  • इस खेल में वजीर सबसे शक्तिशाली होत है। वह घोड़े को छोड़कर बाकी सभी की तरह चाल चल सकता है। इसका मतलब यह है कि वह हाथी की तरह आगे-पीछे और दाएं-बाएं एकसाथ कई घर चल सकता है। वहीं, ऊंट की तरह आड़ा-तिरछा एकसाथ कई घर चल सकता है।

  • ऊंट को हमेशा तिरछा चलता है। वह एक बार में एक या इससे अधिक घर चल सकता हैं। हां, एक ध्यान देने वाली बात यह है कि काले और सफदे खांचे वाले ऊंट दूसरे रंग वाले खांचे में नहीं जाते हैं।

  • घोड़े को ढाई घर किसी भी दिशा में चल सकते हैं।

  • हाथी आगे-पीछे और दाएं-बाएं एक या इससे अधिक घर चल सकता है।

  • प्यादा अपनी शुरुआती चाल में दो घर सीधे चल सकता है, उसके बाद यह सिर्फ एक कदम सीधे ही चल सकता है। हां, अगर सामने वाले की गोटी को मरना है, तो एक कदम तिरछा चल सकता है।

  • इस खेल में जो खिलाड़ी सामने वाले खिलाड़ी के राजा को शह और मात देता है, वही विजेता होता है। कभी-कभी गेम ड्रॉ भी होता है।

Indoor Games: जानिए आसानी से खेले जाने वाले इनडोर गेम्स के बारे में: भाग -2
Fun Facts : Do you know about the Universe?

पिक्शनरी :-

यह खेल बच्चों की कला को निखारने का काम करता है। इस खेल को तीन या इससे अधिक लोगों के बीच खेला जाता है। इसमें एक बोर्ड और पेंसिल या मार्कर का उपयोग किया जाता है। प्रत्येक के लिए अलग बोर्ड और पेंसिल का उपयोग करना अच्छा होगा। अगर ऐसा संभव न हो, तो सभी एक ही बोर्ड पर बारी-बारी खेल सकते हैं।

कैसे खेलें :-

  • इसमें उन्हें किसी वस्तु या जीव का नाम बोला जाता है, जिसका उन्हें चित्र बनाना होता है।

  • जो सबसे अच्छा चित्र बनाता है, वह खेल का विजेता होता है।

अंताक्षरी :-

अंताक्षरी कई मनोरंजक खेल में से एक है। इसमें जीत-हार से ज्यादा मस्ती और म्यूजिक होता है। इस खेल में एक अक्षर बोला जाता है, जिसे सामने वाले खिलाड़ी को उस अक्षर से शुरू होने वाला गाना गाना होता है। जो नही गा पाता है वो हार जाता है।

Indoor Games: जानिए आसानी से खेले जाने वाले इनडोर गेम्स के बारे में: भाग -2
General Knowledge : Do you know Facts ?

कैसे खेलें :

  • इसे खेलना बहुत ही आसान है। सबसे पहले दो या दो से ज्यादा टीम बना लें।

  • अब सबसे पहले हर टीम की ओर इशार करते हुए यह बोलें “समय बिताने के लिए करना है कुछ काम, शुरू करो अंताक्षरी लेकर प्रभु का नाम”।

  • अब जिस टीम पर “म” अक्षर आएगा उसे इसी से गाना शुरू करना होगा। अब ये टीम जिस अक्षर पर गाना खत्म करेगी, अगली टीम उसी अक्षरा से गाना शुरू करेगी। ऐसा सभी टीमों के बीच चलता रहेगा।

  • जो टीम अंत तक गेम में बनी रहेगी, वही जीतेगी।

ट्रेजर हंट :-

आपने ट्रेजर हंट वाली कई फिल्में देखी होंगी, लेकिन उसे कभी अनुभव नहीं किया होगा। ऐसे में आप अपने बच्चों को इसका अनुभव करने का अवसर दे सकते हैं। इसके लिए आपको कोई भी सामान छुपाना होगा और उसके लिए हिंट देना होगा, ताकि वो उसे ढूंढ सकें।

कैसे खेलें :-

  • अपने बच्चों की पसंदीदा गेम या किसी और चीज को छुपा दें।

  • उसे बताए कि वह सामान घर में ही है। बस उन्हें खोजने की जरूरत है।

  • इसके लिए उन्हें कोई क्लू भी दें।

  • साथ ही वस्तु के ढुंढने पर बच्चों को इनाम देने की बात भी कहें, ताकि वो उस वस्तु को तलाशने में दिलचस्पी दिखाएं।

कंचे :-

बचपन में हर कोई कंचे से जरूर खेलता है। यह एक लोकप्रिय भारतीय खेल है। कंचे मार्बल्स की गोलियां होती हैं। जिसे खेलने के लिए एक गोली से दूसरे गोली को हिट करना होता है। इससे बच्चों की ध्यान केंद्रित कर निशान लगाने की क्षमता बढ़ती है।

कैसे खेलें :-

  • एक समतल स्थान पर कंचे रखे दं और दूर से एक-एक करके दूसरे कंचे से निशाना लगाएं।

  • जो अधिक बार निशाना लगता है, वह खेल को जीत जाता है।

  • कंचे खेलने के इसके अलावा और भी कई तरीके हैं। आप अपना भी किसी नए व अनोखो तरीके से इसे खेल सकते हैं।

चौपड़ :-

इस खेल का ऐतिहासिक महत्व है, जो महाभारत से जुड़ा है। इसे खेलने के लिए एक चॉपट बोर्ड या क्रॉस के आकार में कढ़ाई किए हुए कपड़े की जरूरत होती है। इस क्रॉस के हर भाग को तीन कॉलम में विभाजित किया जाता है व हर एक कॉलम को आठ वर्गों में विभाजित किया जाता है। इसके पासे पर सात कौड़ी के गोले होते हैं। इसके पासे ज्यादातर लकड़ी के बने होते हैं। इसे खेलने के लिए चार आदमी की जरूरत होती है। यह कुछ-कुछ लूडो जैसा लगता है।

कैसे खेलें :-

  • इस खेल को चार बच्चे खेल सकते हैं। इसमें प्रत्येक के पास चार गोटियां होते हैं। सभी की गोटियों का रंग अलग होता है।

  • इसमें दो-दो खिलाड़ियों की टीम होती है, जो एक-दूसरे के आमने-सामने होते हैं।

  • फिर इसे छह कौड़ियों के पासे द्वारा खेलना शुरू किया जाता है। इन कौड़ियों का मुंह एक तरह से खुला हुआ होता है।

  • फिर सभी पासों को फेंका जाता है। अगर एक पासे का खुला हुआ मुंह वाला भाग आया और बाकी बंद वाले, तो इससे 10 पॉइंट मिलते हैं। फिर उसे एक और बार खेलने का मौका मिलता है।

  • अगर 2 मुंह खुला और 4 बंद आए, तो 2 पॉइंट मिलते हैं। इसी तरह 3 खुला और 3 बंद आए, तो 3 पॉइंट, 4 खुला और 2 बंद आए, तो 4 पॉइंट, 5 खुला और 1 बंद आए, तो 5 पॉइंट होते हैं।

  • सभी पासों का मुंह हो, तो 6 पॉइंट मिलते हैं और दोबारा पासा फेंकने का मौका मिलता है।

  • अगर सभी मुंह बंद वाले पासे आते हैं, तो इससे 25 पॉइंट मिलते हैं और पासे को दोबारा फेंकने का मौका मिलता है।

ऊंच-नीच का पापड़ा :-

यह मनोरंजक खेल है। इसे खेलने के लिए ऊंचा और नीचा स्थान चाहिए होता है। इसके लिए आप घर के फ्लोर, सोफा या बेड का चुनाव कर सकते हैं।

कैसे खेलें :-

  • इसमें एक सदस्य बोलता है “ऊंच-नीच का पापड़ा, ऊंच मांगी या नीच।”

  • अगर बाकी खिलाड़ी ऊंचा चुनते हैं, तो उन्हें ऊंचे स्थान पर रहना होता है।

  • ऊंची जगह पर खड़े खिलाड़ी उसे चिढ़ाने या तंग करने के लिए बीच-बीच में नीची जगह पर आते हैं।

  • अगर इस बीच पहले से नीचे खड़ा खिलाड़ी, किसी एक को छू लेता है, तो वह आउट हो जाता है और ऊंच-नीच बोलने की बारी उसकी होती है।

डम्ब शराड :-

दूसरों को सिर्फ अपने हाव-भाव से बात समझाना भी एक कला है और इस कला को डम्ब शराड जैसी गेम खेलकर विकसित किया जा सकता है। बच्चे हों या बड़े, यह गेम हर किसी को पसंद आता है। चार लोग इकट्ठा हुए नहीं कि इसे खेलने का मन हो जाता है। इसमें इशारों की मदद से किसी फिल्म या गाने की पहचान की जाती है। वहीं, बच्चों की बात करें, तो वो अपने पसंदीदा कार्टून को लेकर इस गेम को खेल सकते हैं।

कैसे खेलें :-

  • सबसे पहले दो टीम बना लें।

  • उसके बाद एक टीम दूसरे टीम के किसी एक सदस्य के कान में कार्टून का नाम बताएगी।

  • अब उसे बिना बोले एक्टिंग करके व इशारों से अपने टीम के सदस्यों को उस कार्टून के बारे में बताना है।

  • इस खेल में जो टीम सबसे ज्यादा सही जवाब देगी, वो टीम जीत जाएगी।

Indoor Games: जानिए आसानी से खेले जाने वाले इनडोर गेम्स के बारे में: भाग -2
डांट और मार बच्चों के लिए जरूरी नहीं, इस तरह भी सिखाया जा सकता है अनुशासन

आंख मिचौली :-

इस खेल में सुनने की क्षमता का प्रयोग सबसे ज्यादा किया जाता है, क्योंकि इसे आंखों पर पट्टी बांधकर खेला जाता है। इसे माता-पिता भी बच्चों के साथ खेल सकते हैं। इसे दोनों या उससे अधिक लोग एक साथ खेल सकते हैं।

कैसे खेलें :-

  • सबसे पहले किसी एक खिलाड़ी की आंखों पर पट्टी बांध दें। पट्टी इस तरह बांधें कि उसे कुछ नजर नहीं आना चाहिए।

  • फिर उसे बीच में छोड़ दें। अब वह दूसरे खिलाड़ियों की आवाज सुनकर उन्हें पकड़ कर आउट करने का प्रयास करेगा।

  • जब एक-एक करके सभी आउट हो जाते हैं, तो दूसरे खिलाड़ी की बारी आती है।

घर-घर :-

इस खेल को छोटे बच्चे सबसे ज्यादा इंजॉय करते हैं। बच्चे अपने घर में रखी चादर व अन्य चीजों के लेकर अपने लिए कमरे में ही एक घर बना लेते हैं, जिसे वो कई बार छुपने के लिए भी इस्तेमाल करते हैं। कई बार इन घरों को आर्मी बंकर बना कर दूसरे घरों पर नकली पिस्तौल से हमला भी करते हैं।

कैसे खेलें :-

  • दो टीम बना लें और खिलौना वाली पिस्तौल हाथ में रख लें।

  • फिर इन दूसरे के कैंप से ही गोलियों से हमला करें। बच्चे इस हमले के दौरान मुंह से गोली चलने और बंब की आवाज भी निकालते हैं।

बिजनेस :-

इसे खेलने के लिए एक किट की आवश्यकता पड़ती है, जिसमें कुछ बिजनेस कॉइन और एक बोर्ड होता है। इस खेल के दौरान एक व्यापारी को अपने कॉइन दूसरे को देना पड़ सकता है, खेल के अंत में जिसके पास अधिक कॉइन होता है। वह इस खेल को जीत जाता है।

कैसे खेलें :-

  • इस खेलने के लिए एक बिजनेस बोर्ड और उसके कॉइन की आवश्यकता होती है, जो इसके किट के साथ आता है। यह कॉइन कई अलग-अलग रंग के होते हैं।

  • इस खेलने के लिए दो डाइस और गोटियां भी किट के साथ आती हैं।

  • पहले आप दो अलग-अलग रंग के घर लेंगे और डाइस को फेंकेंगे। जितना नंबर आएगा घर को उतने कॉलम चलेंगे। उस कॉलम में अगर इनकम टैक्स लिखा होगा, तो कीट के साथ आए नियम पेपर में चेक करने होंगे कि इनकम टैक्स कितना पैसा देना। उसी के अनुसार जिसका इनकम टैक्स वाला कॉलम है, उन्हें उतने कॉइन देने होंगे।

  • ऐसे ही फिर दूसरी गोटियों को भी चलना होता है।

  • जिसके पास अंत में सबसे ज्यादा पैसे होते हैं, वह इस खेल को जीत जाता है।

अकड़-बक्कड़ :-

इस खेल में कई बच्चे भाग ले सकते हैं। इसमें हाथों के उपयोग के साथ ही अकड़ बक्कड़ बम्बे बो गीत का भी उपयोग किया जाता है। यह गीत जिसके हाथ में रुकता है वह खेल से निकल जाता है और जो आखिरी में बच जाता है, वह खेल को जीत जाता है।

कैसे खेलें :-

  • इस खेल को खेलने के लिए दोनों हाथों को जमीन पर रखना पड़ता है।

  • फिर अकड़ बक्कड़ बोला जाता है यानी “अकड़-बक्कड़ बंबे बो, 80 90 पूरे 100, 100 में लगा धागा चोर निकलकर भागा, चोर की बीवी ऐसी थी, सज-धज कर बैठी, चाय गरम, कॉफी गरम, पीने वाला बेशर्म। अकड़-बक्कड़ बंबे बो, 80 90 पूरे 100, 100 में लगी बिल्ली, बिल्ली भागी दिल्ली, बिल्ली बड़ी अच्छी, उसने खाई मच्छी, मच्छी में था कांटा, मम्मी ने उसको डांटा।”

  • इस रायम के साथ-साथ एक बच्चा सभी के हाथ के ऊपर से उंगली घुमाता जाता है।

  • वह उंगली जब तक घूमता है, तब तक आखिरी हाथ नहीं बच जाता है।

अब चाहे लॉकडाउन हो या लंबी छुट्टियां, बच्चों को घर में बोर होने की जरूरत नहीं है, क्योंकि ये सभी इंडोर गेम्स है ही इतनी मजेदार। इन गेम्स से न सिर्फ बच्चों का मनोरंजन होगा, बल्कि वह मानसिक तौर मजबूत होंगे और बौद्धिक क्षमता का भी विकास होगा।

Keep up with what Is Happening!

Related Stories

No stories found.
Best hindi news platform for youth. हिंदी ख़बरों की सबसे तेज़ वेब्साईट
www.yoyocial.news