अहमदाबाद में प्राइवेट नौकरी छोड़ गांव में खुद शुरू किया नमकीन का StartUp, अब हो रही लाखों की कमाई

युवा उद्यमी विवेक कुमार ने बताया 10 लोगों को उद्योग लगाकर रोजगार दिया गया है. इनके कंपनी में काम कर रहे मार्केटिंग मैनेजर विकास कुमार ने बताया 15 हजार के मासिक सैलरी पर काम कर रहे हैं. उनके अन्य साथियों को भी इसी के आस-पास सैलरी मिल रही है.
अहमदाबाद में प्राइवेट नौकरी छोड़ गांव में खुद शुरू किया नमकीन का StartUp, अब हो रही लाखों की कमाई

बिहार में मुख्यमंत्री उद्यमी योजना लोगों को रोजगार का अवसर प्रदान करने में महत्वपूर्ण कड़ी का काम कर रहा है. सरकार योजना के तहत स्टार्टअप के लिए लोन मुहैया कराती है. इस योजना का लाभ लेकर बिहार के युवा न सिर्फ आत्मनिर्भर बन रहे हैं बल्कि दूसरों को रोजगार भी मुहैया करा रहे हैं.

बेगूसराय जिला अंतर्गत मंसूरचक के रहने वाले विवेक कुमार अहमदाबाद में प्राइवेट कंपनी में जॉब कर रहे थे. इसी दौरान उन्हें मुख्यमंत्री उद्यमी योजना के बारे में जानकारी मिली तो नौकरी छोड़कर वापस बेगूसराय आ गए.

जहां कागजी प्रक्रिया पूरी करने के बाद उद्योग विभाग से 10 लाख का का लोन लिया और खुद का स्टार्टअप शुरू किया. इससे न सिर्फ उन्हें अच्छी खासी आमदनी हो रही है बल्कि लोगों के लिए रोजगार का अवसर भी प्रदान किया है.

बेगूसराय जिले के मंसूरचक के रहने वाले विवेक कुमार ने बताया कि अहमदाबाद में एक प्राइवेट कंपनी में 25 हजार की सैलरी पर टेक्नीशियन का काम कर रहे थे. इस दौरान उन्हें बिहार में उद्यमी योजना के बारे में जानकारी मिली.

इसके बाद मन में आइडिया आया कि क्यों न खुद का उद्योग लगाकर अन्य साथियों को भी अपने गांव में ही रोजगार दे. जिसके बाद बेगूसराय लौट आए और साल 2022 में मुख्यमंत्री एससी-एसटी उद्यमी योजना के जरिए 10 लाख का लोन लेकर मंसूर नमकीन नमक उद्योग लगाया.

युवा उद्यमी विवेक कुमार ने बताया 10 लोगों को उद्योग लगाकर रोजगार दिया गया है. इनके कंपनी में काम कर रहे मार्केटिंग मैनेजर विकास कुमार ने बताया 15 हजार के मासिक सैलरी पर काम कर रहे हैं. उनके अन्य साथियों को भी इसी के आस-पास सैलरी मिल रही है.

मासिक सेल की बात करें तो लगभग तीन से चार लाख प्रति महीने कुरकुरे, टकाटक, दालमोट, नमकीन आदि प्रोडक्ट की बिक्री हो जाती है.

विवेक कुमार ने बताया यहां 10 प्रकार के प्रोडक्ट बनाए जाते हैं जो बेगूसराय, समस्तीपुर, मुजफ्फरपुर, वैशाली सहित आस-पास के इलाकों में बेचे जाते हैं.

Keep up with what Is Happening!

Related Stories

No stories found.
Best hindi news platform for youth. हिंदी ख़बरों की सबसे तेज़ वेब्साईट
www.yoyocial.news