देश की तरक्की में Startups का है बड़ा योगदान, क्या आपको पता है कि भारत के 10 सबसे बेस्ट स्टार्टअप कौन से हैं.? पढ़े यहाँ

आजादी के बाद देश ने काफी तरक्की की है और इसमें उसके स्टार्टअप्स का बड़ा योगदान है। दुनियाभर में डिजिटल क्रांति आने के बाद देश में कई स्टार्टअप्स शुरू हुए। आइए जानते हैं ऐसे ही 10 बेस्ट स्टार्टअप्स के बारे में।
देश की तरक्की में Startups का है बड़ा योगदान, क्या आपको पता है कि भारत के 10 सबसे बेस्ट स्टार्टअप कौन से हैं.? पढ़े यहाँ

15 अगस्त, 2022 को भारत की स्वतंत्रता के 75 साल पूरे हो रहे हैं। यही वजह है कि भारत अपनी आजादी का अमृत महोत्सव (Aazadi Ka Amrit Mahotsav) मना रहा है।

इस महोत्सव की शुरुआत पीएम नरेंद्र मोदी ने 12 मार्च, 2021 को गुजरात के साबरमती आश्रम से की थी। आजादी का अमृत महोत्सव अगले साल यानी 15 अगस्त, 2023 तक चलेगा।

आजादी के बाद देश ने काफी तरक्की की है और इसमें उसके स्टार्टअप्स का बड़ा योगदान है। दुनियाभर में डिजिटल क्रांति आने के बाद देश में कई स्टार्टअप्स शुरू हुए। आइए जानते हैं ऐसे ही 10 बेस्ट स्टार्टअप्स के बारे में।

1. BYJU'S -

बायजूस 2011 में बायजू रवींद्रन और दिव्या गोकुलनाथ द्वारा स्थापित एड-टेक स्टार्टअप है। बायजू के ग्लोबल लेवल पर 15 मिलियन से ज्यादा स्टूडेंट हैं। जुलाई 2021 में इस प्लेटफॉर्म की वैल्यूएशन 16.5 अरब डॉलर थी।

2. Zomato -

जोमैटो एक फूड स्टार्टअप है। इसकी स्थापना 2008 में दीपेंदर गोयल और पंकज चड्डा ने की थी। इस ऑनलाइन ऑर्डरिंग और सब्सक्रिप्शन सेवा के कुछ के भारत में करोड़ों ग्राहक हैं। यह 24 देशों के 10 हजार से ज्यादा शहरों में काम करता है। जुलाई 2021 तक Zomato का वैल्यूएशन करीब 8 बिलियन डॉलर था।

3. Paytm -

पेटीएम ई-कॉमर्स फाइनेंस इंडस्ट्री का एक हिस्सा है। यह भारत का सबसे बड़ा यूनिकॉर्न स्टार्टअप है क्योंकि भारत के डिजिटल भुगतान बाजार में इसकी हिस्सेदारी करीब 12% है। जून 2021 के आंकड़ों के अनुसार पेटीएम देश की तीसरी सबसे पॉपुलर यूपीआई सर्विस भी है।

जून 2021 के आंकड़ों के मुताबिक पेटीएम की वैल्यूएशन करीब 16 अरब डॉलर है। इसका हेड ऑफिस नोएडा में है।

4. OYO -

OYO एक हॉस्पिटैलिटी स्टार्टअप है। पहले इसे एक होटल स्टार्टअप के रूप में स्थापित किया गया था, लेकिन अब यह तेज गति से बढ़ रहा है। वर्तमान में, यह 80 देशों के 800 से ज्यादा शहरों में काम करता है। इसका हेड ऑफिस गुड़गांव में है। इसमें करीब 19 हजार कर्मचारी काम करते हैं।

5. OLA -

ओला कैब्स स्टार्टअप के फाउंडर भाविश अग्रवाल हैं। यह एक ट्रांसपोर्ट बेस्ड स्टार्टअप है, जो कि लोगों को टैक्सी सुविधा उपलब्ध करवाता है। रिपोर्ट के मुताबिक, इसके 15 लाख से ज्यादा ड्राइवर देश के 250 से ज्यादा शहरों में कंपनी के लिए काम कर रहे हैं।

2018 में ओला कैब का विस्तार ऑस्ट्रेलिया और न्यूजीलैंड में भी हुआ। कंपनी की वैल्यूएशन करीब 6.5 अरब डॉलर है। इसकी स्थापना 2010 में हुई। इसका हेड ऑफिस बेंगलुरू में है।

6. MEESHO -

मीशो एक ई-कॉमर्स स्टार्टअप है। इसकी शुरुआत 2015 में हुई थी। देश भर के छोटे निर्माता, कारीगर और बुनकर इस ऐप पर सेल्समैन हैं। मीशो पर काम करने के लिए या सेलिंग के लिए आपको किसी तरह के लाइसेंस की जरूरत नहीं पड़ेगी।

सिर्फ मीशो एप इंस्टॉल कर अपना अकाउंट बनाना है। मीशो के जरिए आपका कोई सामान बिकता है तो उस पर आपको कमीशन भी मिलता है।

7. Flipkart -

फ्लिपकार्ट की स्थापना 2007 में बिन्नी बंसल और सचिन बंसल ने की थी। ये एक ई-कॉमर्स स्टार्टअप है, जिसके पास विभिन्न श्रेणियों में 80 मिलियन से अधिक प्रोडक्ट्स हैं।

इसके देश में 20 से अधिक मॉर्डर्न वेयरहाउस हैं। जुलाई 2021 तक फ्लिपकार्ट का वैल्यूएशन 37.6 अरब डॉलर था। इसका मुख्यालय बैंगलुरू में है।

8. Unacademy -

यह एक एजुकेशन स्टार्टअप है, जिसकी स्थापना 2010 में तीन दोस्तों ने मिलकर की थी। गौरव मुंजाल ने यूट्यूब पर Unacademy की शुरुआत की थी। इस दौरान उन्होंने जावा कोडिंग क्लास शुरू की।

कम्प्यूटर साइंस से जुड़े सवालों के मामले में Quora पर उनके सबसे ज्यादा फॉलोअर थे। इसके बाद 2015 में उन्होंने अपने दो दोस्तों हेमेश सिंह और रोमन सैनी के साथ कंपनी को ब्रांड के तौर पर रजिस्टर कराया।

9. Acko -

Acko Insurance स्टार्टअप की शुरुआत वरुण दुआ ने 2016 में की। ये भी एक यूनिकॉर्न कंपनी है, जिसका वैल्यूएशन 1.1 अरब डॉलर के करीब है।

कंपनी का दावा है कि वो देश की पहली डिजिटल बीमा कंपनी है। इस कंपनी को बीमा नियामक IRDAI से जनरल इंश्योरेंस का लाइसेंस भी मिला हुआ है।

10. CRED -

कुणाल शाह एक भारतीय उद्यमी और उद्यम पूंJeepति हैं, जो CRED के संस्थापक हैं, जिसे भारत में दूसरी सबसे तेजी से बढ़ती यूनिकॉर्न कंपनी माना जाता है। 2021 में, इस स्टार्टअप को $ 200 मिलियन के वित्तपोषण के साथ $ 2 बिलियन के मूल्यांकन तक पहुँचने के लिए निर्धारित किया गया था।

CRED ऐप एक साधारण मोबाइल एप्लिकेशन है। जो एंड्राइड और आईओएस दोनों को सपोर्ट करता है। यह प्लेटफॉर्म विशेष रूप से केवल क्रेडिट कार्ड का उपयोग करने वालों के लिए बनाया गया है।

Keep up with what Is Happening!

Related Stories

No stories found.
Best hindi news platform for youth. हिंदी ख़बरों की सबसे तेज़ वेब्साईट
www.yoyocial.news