Vastu Tips For Office: रखें इन बातों का ध्यान तो ऑफिस में कभी भी नहीं करेगी नेगेटिव एनर्जी प्रवेश

Vastu Tips For Office: रखें इन बातों का ध्यान तो ऑफिस में कभी भी नहीं करेगी नेगेटिव एनर्जी प्रवेश

वास्तु शास्त्र में आपके हर रोज की दिनचर्या से लेकर घर-परिवार की हर तरह की बातें बताई गई हैं। इन चीजों का अगर आप पालन करेंगे तो आपके घर या ऑफिस में कभी भी नेगेटिव एनर्जी प्रवेश नहीं कर पाएगी।

वास्तु शास्त्र में आपके हर रोज की दिनचर्या से लेकर घर-परिवार की हर तरह की बातें बताई गई हैं। इन चीजों का अगर आप पालन करेंगे तो आपके घर या ऑफिस में कभी भी नेगेटिव एनर्जी प्रवेश नहीं कर पाएगी।

ऑफिस के लिए वास्तु टिप्स :

- वास्तु शास्त्र के अनुसार ऑफिस का प्रवेश द्वार यानि मेन डोर पूर्व या उत्तर दिशा में रखना शुभ माना जाता है।

- ऑफिस का रिसेप्शन काउंटर बाईं तरफ और इंतजार करने का स्थान दाहिनी ओर हो तो वास्तु की दृष्टि में यह बहुत अच्छा माना जाता है।

- ऑफिस में यदि इंतजार करने या वेटिंग रूम की जगह बनाना कठिन हो तो, आने वाले लोगों के लिए मालिक या अधिकारियों के केबिन के बाहर सौफासेट या कुर्सियों को पूर्व या उत्तर दिशा की दीवार से सटा कर रखा जा सकता है।

- वास्तु शास्त्र के मुताबिक ऑफिस के मालिक और सर्वोच्च व्यक्ति का केबिन दक्षिण या पश्चिम भाग में बनाना उचित माना जाता है। इसके अलावा मालिक की कुर्सी का मुंह पूर्व या उत्तर की ओर और आगन्तुकों का मुंह पश्चिम या दक्षिण दिशा की ओर होना भी अच्छा माना जाता है।

- ऑफिस का भंडारघर (पेन्ट्री) या जहां सारा सामान रखा जाता है वह दक्षिण-पूर्व दिशा में बनाना वास्तु की दृष्टि से अच्छा माना जाता है।

- ऑफिस का टायलेट उत्तर-पूर्व और उत्तर-पश्चिम दिशा के अलावा अन्य किसी भी दिशा में बनाया जा सकता है।

- ऑफिस के एकाउन्टेन्ट या कैशियर को उत्तर की ओर तथा बाहर काम करने वाले सेल्समैन, निरीक्षक को उत्तर-पश्चिम दिशा की ओर बैठाना चाहिए।

- वास्तु शास्त्र के मुताबिक ऑफिस का द्वार किसी अन्य ऑफिस के सामने, कैन्टीन या टेलीफोन बूथ के पास होना शुभ नहीं माना जाता है।

Keep up with what Is Happening!

No stories found.
Best hindi news platform for youth
www.yoyocial.news