symbolic image
symbolic image
एजुकेशन

बड़ी खबर: CBSE की 1 से 15 जुलाई के बीच होने वाली 10वीं और 12वीं की परीक्षाएं रद्द

सीबीएसई बोर्ड कल यानी शुक्रवार को परीक्षा से संबंधित सभी जानकारी देने के लिए नोटिफिकेशन जारी करेगा. इसमें परीक्षा रद्द होने की सूरत में अंक देने और रिजल्ट जारी करने से संबंधित सभी जानकारी भी दी जाएगी.

Yoyocial News

Yoyocial News

सीबीएसई बोर्ड परीक्षाओं को लेकर बड़ी खबर सामने आई है। मानव संसाधन विकास मंत्रालय और सीबीएसई ने गुरुवार को सुप्रीम कोर्ट में हुई सुनवाई के दौरान बताया कि सीबीएसई की 1 जुलाई से 15 जुलाई के बीच होने वाली 12वीं की परीक्षाएं रद्द करने का फैसला किया गया है। ये फैसला देशभर में कोरोना वायरस के लगातार तेजी से बढ़ते मामलों को देखते हुए लिया गया है।

दरअसल, सीबीएसई बोर्ड की लंबित परीक्षाएं 1 जुलाई से 15 जुलाई तक होनी थीं. मगर एग्जाम रद्द करने को लेकर कुछ अभिवावकों ने सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर की थी, जिसके बाद कोर्ट ने सीबीएसई से पूछा था कि क्या परीक्षाएं रद्द की जा सकती हैं. इसी के बाद अब बोर्ड ने अपना जवाब दाखिल करते हुए कोर्ट को 10वीं और 12वीं की बची परीक्षाएं रद्द करने के फैसले की जानकारी दी. स्थिति सामान्य होने पर 12वीं की परीक्षाएं कराई जा सकती हैं.

- दिल्ली, महाराष्ट्र और तमिलनाडु ने एग्जाम आयोजित करने में असमर्थता जता दी थी.

- 12वीं के स्टूडेंट्स के लिए पिछली तीन परीक्षाओं के आधार पर आकलन किया जाएगा.

- 12वीं के स्टूडेंट्स के लिए बाद में स्थिति सामान्य होने पर परीक्षा आयोजित करने का विकल्प रहेगा.

- 10वीं के छात्रों को कोई परीक्षा नहीं देनी होगी.

सीबीएसई बोर्ड कल यानी शुक्रवार को परीक्षा से संबंधित सभी जानकारी देने के लिए नोटिफिकेशन जारी करेगा. इसमें परीक्षा रद्द होने की सूरत में अंक देने और रिजल्ट जारी करने से संबंधित सभी जानकारी भी दी जाएगी.

1. जिन विषयों की परीक्षाएं होनी थीं, उनमें छात्रों को आंतरिक मूल्यांकन के आधार पर औसत अंक देकर प्रमोट किया जा सकता है.

2. इसके अलावा संबंधित विषयों में अंक सुधार के लिए बाद में परीक्षा देने का विकल्प भी छात्रों को मिल सकता है.

ऐसे में जबकि सीबीएसई बोर्ड ने 10वीं और 12वीं की बची परीक्षाएं रद्द करने का फैसला कर ही लिया है तो स्टूडेंट्स के बीच जल्द ही नतीजे आने की उम्मीद भी परवान चढ़ने लगी है. दरअसल, सीबीएसई बोर्ड ने लॉकडाउन से पूर्व हो चुके पेपर की कॉपियों के मूल्यांकन का काम पहले ही शुरू कर दिया था. अब जबकि बची परीक्षाएं रद्द कर दी गई हैं तो माना जा रहा है कि बोर्ड जुलाई के अंत तक परिणाम की घोषणा कर देगा. बता दें कि पिछले साल 12वीं की परीक्षा का रिजल्ट 2 मई को घोषित कर दिया गया था, जबकि 10वीं की परीक्षा के नतीजे 6 मई को आए थे.

देशभर में कोरोना वायरस के चलते लॉकडाउन घोषित करने से पहले ही सीबीएसई परीक्षाएं शुरू हो चुकी थीं. हालांकि लॉकडाउन के बाद कुछ परीक्षाओं को स्थगित करने का फैसला किया गया. बाद में तय किया गया कि 10वीं और 12वीं के 29 मूल विषयों की परीक्षाएं 1 जुलाई से 15 जुलाई तक आयोजित कराई जाएंगी.

यहां तक कि मानव संसाधन विकास मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक ने इसके लिए डेटशीट भी जारी कर दी थी. इसके तहत 10वीं की परीक्षा केवल उत्तर-पूर्वी दिल्ली के इलाकों में होनी थी, जहां हिंसा के चलते परीक्षाएं आयोजित नहीं की जा सकी थीं. वहीं 12वीं की परीक्षाएं देशभर में आयोजित करने का फैसला लिया गया था. हालांकि, अब कोरोना वायरस के बढ़ते मामलों के मद्देनजर इन परीक्षाओं को रद्द करने का फैसला ले लिया गया है.

Keep up with what Is Happening!

Best hindi news platform for youth
www.yoyocial.news