बोर्ड परीक्षाओं के कारण मिस नहीं होगा JEE Exam, नेशनल टेस्टिंग एजेंसी ने दी छात्रों को राहत

बोर्ड परीक्षाओं के कारण मिस नहीं होगा JEE Exam, नेशनल टेस्टिंग एजेंसी ने दी छात्रों को राहत

छात्रों को सही अवसर देने के लिए नेशनल टेस्टिंग एजेंसी यानी NTA उन छात्रों के लिए वैकल्पिक व्यवस्था करेगी जो JEE मेन की परीक्षा वाले दिन बोर्ड परीक्षा में उपस्थित हो रहे हैं। ऐसे छात्रों को उनकी वरीयता की तारीख दी जाएगी।

JEE मेन और 12वीं की बोर्ड परीक्षाओं की तारीखें एक-दूसरे के साथ टकरा रही हैं। दोनों परीक्षाएं मई महीने में निर्धारित हैं।

छात्रों को सही अवसर देने के लिए नेशनल टेस्टिंग एजेंसी यानी NTA उन छात्रों के लिए वैकल्पिक व्यवस्था करेगी जो JEE मेन की परीक्षा वाले दिन बोर्ड परीक्षा में उपस्थित हो रहे हैं। ऐसे छात्रों को उनकी वरीयता की तारीख दी जाएगी।

NTA की वरिष्ठ परीक्षा निदेशक साधना पराशर ने एक नोटिस के माध्यम से कहा, "जेईई मेन और 12 वीं की बोर्ड परीक्षाओं की तारीखें एक-दूसरे से न टकराएं इसे ध्यान में रखते हुए छात्रों के लिए 3 मई से जेईई मेन के लिए आवेदन लिए जाएंगे। इसकी आखिरी तारीख 12 मई है। छात्रों को फॉर्म भरते समय अपनी 12वीं कक्षा का रोल नंबर और बोर्ड की जानकारी एनटीए को देनी होगी।"

मई में आयोजित JEE मेन की परीक्षा 24, 25, 26, 27 व 28 तारीख को होगी। CBSE 12वीं बोर्ड के बायोलॉजी का एग्जाम भी 24 मई को है।

ऐसे में बायोलॉजी के छात्र JEE मेन की परीक्षा को लेकर परेशान थे। हालांकि अब बायोलॉजी के छात्र मई में तय तारीखों में से ही JEE परीक्षा की कोई दूसरी तारीख चुन सकेंगे।

CBSE बोर्ड परीक्षा की तारीखों के ऐलान के बाद कई छात्रों ने यह शिकायत की थी। सबसे बड़ी परेशानी बॉयोलॉजी के छात्रों के समक्ष है।

बॉयोलॉजी के छात्रों की परीक्षा JEE के साथ हो रही है। इसके अलावा गणित की के छात्र भी JEE परीक्षा को लेकर दुविधा में थे।

इस वर्ष जेईई मेन की परीक्षाएं फरवरी, मार्च, अप्रैल और मई माह में आयोजित की जाएंगी। तय कार्यक्रम के मुताबिक जेईई मेन परीक्षा का पहला सत्र 23 से 26 फरवरी के बीच आयोजित किया जाना है।

इससे बीते वर्ष पहले कोरोना वायरस के कारण ही तीन बार JEE (मेन) और NEET की परीक्षा स्थगित करनी पड़ी थी। हालांकि यह दोनों ही परीक्षाएं विलंब से 2020 में पूरी करवा ली गई थी।

इस वर्ष JEE एडवांस 2021 की परीक्षा 3 जुलाई को कंप्यूटर आधारित टेस्ट मोड में आयोजित की जाएगी। कोरोना महामारी के मद्देनजर इस साल IIT में प्रवेश के लिए 12वीं कक्षा में 75 प्रतिशत अंक हासिल करने की पात्रता वाला मानदंड हटा दिया गया है।

Keep up with what Is Happening!

AD
No stories found.
Best hindi news platform for youth
www.yoyocial.news