सरकार ने MHRD का नाम शिक्षा मंत्रालय किया, नई शिक्षा नीति को भी मंजूरी, एक ही रेगुलेटरी बॉडी का रास्ता साफ
एजुकेशन

सरकार ने MHRD का नाम शिक्षा मंत्रालय किया, नई शिक्षा नीति को भी मंजूरी, एक ही रेगुलेटरी बॉडी का रास्ता साफ

यह फैसले बुधवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अगुवाई वाली कैबिनेट बैठक में लिए गए. नई शिक्षा नीति को भी मंजूरी मिल जाने के बाद अब पूरे उच्च शिक्षा क्षेत्र के लिए एक ही रेगुलेटरी बॉडी होगी ताकि शिक्षा क्षेत्र में अव्यवस्था को खत्म किया जा सके.

Yoyocial News

Yoyocial News

केंद्र सरकार ने मानव संसाधन विकास मंत्रालय का नाम बदलकर शिक्षा मंत्रालय कर दिया है. साथ ही नई शिक्षा नीति (New Education Policy) को भी मंजूरी मिल गई है. यह फैसले बुधवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अगुवाई वाली कैबिनेट बैठक में लिए गए. नई शिक्षा नीति को भी मंजूरी मिल जाने के बाद अब पूरे उच्च शिक्षा क्षेत्र के लिए एक ही रेगुलेटरी बॉडी होगी ताकि शिक्षा क्षेत्र में अव्यवस्था को खत्म किया जा सके.

बताया गया कि इन दोनों फैसलों की शाम को प्रेस वार्ता के दौरान जानकारी दी जाएगी.

बता दें मानव संसाधन और विकास मंत्रालय (MHRD) ने सिफारिश की थी कि उसका नाम बदल कर शिक्षा मंत्रालय (Ministry Of Education) कर दिया जाए. जिसे बुधवार को हुई काबीना बैठक में स्वीकार कर लिया गया.साथ ही इस साल फरवरी में बजट के दौरान घोषित की गई नई शिक्षा नीति (New Education Policy) को भी प्रधानमंत्री की अध्यक्षता वाली कैबिनेट ने स्वीकृति दी. बजट 2020 के दौरान वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने नई शिक्षा नीति का ऐलान किया था. इसे स्वीकृति मिलने के बाद करीब 34 साल बाद फिर से देश को नई एजुकेशन पॉलिसी मिली है.

बता दें कि वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने मोदी सरकार के दूसरे कार्यकाल के दूसरे बजट में एजुकेशन सेक्टर को लेकर कई बड़ी घोषणाएं की थीं और कहा था कि बहुत जल्द ही देश में नई एजुकेशन पॉलिसी लाई जाएगी.

Keep up with what Is Happening!

Best hindi news platform for youth
www.yoyocial.news