दिल्ली में 111 केंद्रों पर NEET परीक्षा, कहीं तनाव तो कहीं छात्रों में है उत्साह
एजुकेशन

दिल्ली में 111 केंद्रों पर NEET परीक्षा, कहीं तनाव तो कहीं छात्रों में है उत्साह

एनटीए द्वारा तय नियम के मुताबिक एक परीक्षा केंद्र पर एक समय में 90 छात्र ही प्रवेश कर रहे हैं। परीक्षा खत्म होने के बाद 24-24 के ग्रुप में छात्रों को बाहर लाया जाएगा।

Yoyocial News

Yoyocial News

देशभर में रविवार दोपहर 02:00 बजे से नीट परीक्षाएं आरंभ हो गई हैं। जेईई की ही भांति नीट परीक्षाओं के लिए भी सभी परीक्षा केंद्रों पर विशेष इंतजाम किए गए हैं। यहां सोशल डिस्टेंसिंग का सबसे अधिक ध्यान रखा जा रहा है। दिल्ली में 111 केंद्रों पर नीट की परीक्षा आयोजित की गई हैं। वहीं, पूरे देश भर में 3,862 केंद्रों पर यह परीक्षा ली जा रही हैं। परीक्षा केंद्रों के मुख्य द्वार पर ही थर्मल स्कैनर से सभी अभ्यार्थियों का तापमान जांचा जा रहा है।

एनटीए यानी राष्ट्रीय परीक्षा एजेंसी द्वारा तय नियम के मुताबिक एक परीक्षा केंद्र पर एक समय में 90 छात्र ही प्रवेश कर रहे हैं। परीक्षा खत्म होने के बाद 24-24 के ग्रुप में छात्रों को बाहर लाया जाएगा। ऐसा इसलिए किया जा रहा है ताकि परीक्षा केंद्रों पर छात्रों की भीड़ न लगे और सोशल डिस्टेंसिंग के नियमों का पालन हो सके। परीक्षा केंद्र पर छात्रों ने कोरोना लक्षण न होने का सेल्फ डिक्लेरेशन भी दिया।

दिल्ली में नीट परीक्षा के लिए जहां 111 परीक्षा केंद्र बनाए गए हैं, वहीं उत्तर भारत में सबसे अधिक 320 परीक्षा केंद्र उत्तर प्रदेश में हैं। महाराष्ट्र में 615 परीक्षा केंद्र बनाए गए हैं। 322 केरल परीक्षा केंद्र केरल में हैं।

एनटीए ने कहा 'कोरोना संक्रमण के प्रति सावधानी बरतते हुए प्रत्येक परीक्षा केंद्र को सैनिटाइज किया गया है। परीक्षा केंद्र के फर्श, दीवारों,फर्नीचर, लिफ्ट, सीढ़ियां और रैम आदि सभी स्थानों को पूरी तरह से सैनिटाइज करने की व्यवस्था की गई है।'

नीट परीक्षा के लिए परीक्षा केंद्र पर पहुंचे पर पहुंचे छात्र विनीत जैन ने कहा 'लंबे इंतजार के बाद आज यह परीक्षाएं हो रही हैं। परीक्षा होने, न होने की अनिश्चितता के कारण हम लोगों पर दबाव बहुत बढ़ गया था। अभी भी दिल्ली से बाहर छात्रों को कई प्रकार की समस्याओं का सामना करना पड़ रहा है। हालांकि कम से कम दिल्ली में परीक्षा केंद्रों तक पहुंचने के लिए यातायात के साधन उपलब्ध हैं।'

नई दिल्ली स्थित एक परीक्षा केंद्र पर परीक्षा देने आई नीतू शर्मा ने कहा 'परीक्षा के तनाव से अधिक चिंता हमें कोरोना वायरस को लेकर लेकर है। परीक्षा केंद्र में सभी आवश्यक उपाय किए गए हैं, लेकिन हम महीनों बाद घर से निकले हैं इस कारण मन में अभी भी चिंता बनी हुई है।'

एक अन्य छात्र दीपक सिंह ने कहा 'यह परीक्षा हमारे भविष्य से जुड़ी हुई है। मैं परीक्षा न होने के कारण चिंतित था। अब जब परीक्षाएं हो रही हैं तो इसे हम एक अवसर की तरह देख रहे हैं। परीक्षा केंद्रों में सोशल डिस्टेंसिंग का पालन हो रहा है जिसके कारण बहुत अधिक तनाव नहीं है।'

उधर, रेलवे घोषणा कर चुका है कि नीट अभ्यार्थियों और उनके अभिभावकों को लोकल ट्रेन में जाने की अनुमति है। छात्रों और उनके अभिभावकों को परीक्षा केंद्र तक जाने और वापस लौटने का टिकट मुहैया कराया जा रहा है। छात्रों द्वारा एडमिट कार्ड प्रस्तुत करने पर यह टिकट दिया गया है। देशभर में अन्य कई स्थानों पर छात्रों को परीक्षा केंद्रों तक पहुंचने के लिए विभिन्न राज्य सरकारों द्वारा विशेष इंतजाम किए गए हैं।

Keep up with what Is Happening!

Best hindi news platform for youth
www.yoyocial.news