जारी हुआ NEET पीजी 2021 का रिजल्ट, 11 सितंबर को हुई थी परीक्षा

उम्मीदवार अपने प्रवेश परीक्षा पत्र पर दी गई जानकारी के आधार पर अपना परीक्षा परिणाम चेक कर सकेंगे। इसके साथ ही उम्मीदवार कैटेगरी वाइस अपना क्वालिफाइंग स्कोर चेक कर सकेंगे।
जारी हुआ NEET पीजी 2021 का रिजल्ट, 11 सितंबर को हुई थी परीक्षा

नीट पीजी 2021 परीक्षा का रिजल्ट जारी कर दिया गया है। अभ्यर्थियों के लिए यह परीक्षा परिणाम आधिकारिक वेबसाइट पर उपलब्ध हैं। परिणाम एक मेरिट सूची के रूप में जारी किया गया है। इसमें रोल नंबर, अंक एवं उम्मीदवारों द्वारा प्राप्त की गई रैंक उपलब्ध कराई गई है।

राष्ट्रीय परीक्षा बोर्ड ने रिजल्ट जारी करते हुए नीट पीजी परीक्षा में शामिल होने वाले सभी उम्मीदवारों का स्कोर जारी किया है।

उम्मीदवार अपने प्रवेश परीक्षा पत्र पर दी गई जानकारी के आधार पर अपना परीक्षा परिणाम चेक कर सकेंगे। इसके साथ ही उम्मीदवार कैटेगरी वाइस अपना क्वालिफाइंग स्कोर चेक कर सकेंगे।

गौरतलब है कि नीट पीजी की परीक्षा इस वर्ष 11 सितंबर को आयोजित की गई थी। नीट पीजी की परीक्षा देश भर के 250 से अधिक शहरों के 800 से अधिक परीक्षा केंद्रों पर ली गई थी।

राष्ट्रीय परीक्षा बोर्ड द्वारा उपलब्ध कराई गई जानकारी के मुताबिक रिजल्ट लिंक जल्द ही वेबसाइट पर सीधा प्रसारित किया जाएगा। यहां परीक्षा परिणाम की सभी श्रेणियों के लिए क्वालिफाइंग कट-ऑफ भी जारी की गई है।

वहीं नीट यूजी 2021 परीक्षा भारत के 202 शहरों में 3,800 से अधिक परीक्षा केंद्रों में रविवार 12 सितंबर को दोपहर 2 बजे से शाम 5 बजे के बीच आयोजित की गई थी। पूरे देश में लगभग 16 लाख छात्रों ने परीक्षा में शामिल होने के लिए आवेदन किया था।

केंद्र सरकार ने इस बार नीट यूजी परीक्षाओं में 27 प्रतिशत ओबीसी आरक्षण को लागू करने का फैसला किया है। साथ ही छात्रों को 13 भाषाओं में यह परीक्षा देने की सुविधा प्रदान की गई थी। केंद्रीय शिक्षा मंत्रालय की पहल पर और नई राष्ट्रीय शिक्षा नीति के प्रावधानों के अंतर्गत इस बार छात्रों को 13 भाषाओं में यह परीक्षा देने की सुविधा प्रदान की गई। नीट परीक्षा जिन 13 भाषाओं में आयोजित की गई उनमें अंग्रेजी, हिंदी, असमिया, बंगाली, गुजराती, कन्नड़, मलयालम, मराठी, ओडिया, पंजाबी, तमिल, तेलुगू शामिल हैं।

नीट परीक्षा में उत्तीर्ण छात्र देश के विभिन्न प्रतिष्ठित मेडिकल कॉलेजों में एमबीबीएस, बीएएमएस, बीएसएमएस, बीयूएमएस और बीएचएमएस समेत विभिन्न कोर्सेज में एडमिशन ले सकेंगे।

राष्ट्रीय चिकित्सा आयोग अधिनियम, 2019 में संशोधन के उपरांत देशभर में स्थित 13 एम्स और पुडुचेरी के जवाहरलाल पीजी चिकित्सा शिक्षा एवं अनुसंधान संस्थान के एमबीबीएस पाठ्यक्रम की प्रवेश परीक्षाएं भी नीट के जरिए से ली गई हैं।

Keep up with what Is Happening!

Related Stories

No stories found.