शिक्षा मंत्री निशंक ने किया NEET परीक्षा के नतीजों की तारीख का ऐलान...
एजुकेशन

शिक्षा मंत्री निशंक ने किया NEET परीक्षा के नतीजों की तारीख का ऐलान...

देशभर में आयोजित की गई नीट परीक्षाओं का परिणाम 16 अक्टूबर को घोषित किया जाएगा। इस वर्ष नीट परीक्षा में 13 लाख से अधिक अभ्यार्थी शामिल हुए। सोमवार को केंद्रीय शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक ने नीट परीक्षाओं के परिणाम घोषित किए जाने की जानकारी दी।

Yoyocial News

Yoyocial News

देशभर में आयोजित की गई नीट परीक्षाओं का परिणाम इसी माह 16 अक्टूबर को घोषित किया जाएगा। इस वर्ष कोरोना संक्रमण के बीच हुई नीट परीक्षाओं में 13 लाख से अधिक अभ्यार्थी शामिल हुए थे। सोमवार को केंद्रीय शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक ने नीट परीक्षाओं के परिणाम घोषित किए जाने की जानकारी दी। निशंक ने कहा, "नेशनल टेस्टिंग एजेंसी, नीट परीक्षाओं का परिणाम 16 अक्टूबर को घोषित करने जा रहा है। परीक्षाओं का परिणाम 16 अक्टूबर को कितने बजे अपलोड किया जाएगा इसकी जानकारी बाद में उपलब्ध कराई जाएगी।" इसके साथ ही केंद्रीय शिक्षा मंत्री ने नीट परीक्षा में शामिल होने वाले सभी छात्रों को शुभकामनाएं दी हैं।

नीट देश की सबसे महत्वपूर्ण परीक्षाओं में से एक है। इस परीक्षा में उत्तीर्ण होने वाले छात्रों को देश के प्रतिष्ठित मेडिकल कॉलेजों में एडमिशन लेने का मौका मिलता है। 13 सितंबर को यह परीक्षा अपने निर्धारित शेड्यूल के हिसाब से हुई। परीक्षा के दौरान कोरोना वायरस महमारी को लेकर जारी दिशा-निर्देशों का भी विशेष ध्यान रखा गया।

निशंक ने हाल ही में आयोजित की गई जेईई और नीट परीक्षाओं के विषय में जानकारी देते हुए कहा, "जेईई परीक्षाओं में इस बार 97 फीसदी छात्रों की उपस्थिति रही। मैं उन सभी छात्रों को बधाई देता हूं। नीट परीक्षा तो दुनिया की बड़ी परीक्षाओं में से एक है। कोरोना काल में 13-14 लाख बच्चों का देश के हजारों परीक्षा केंद्रों में बैठकर परीक्षा देना इसकी कल्पना भी नहीं कर सकते, लेकिन यह हुआ है। बच्चों ने आत्मविश्वास के साथ परीक्षा दी। छात्रों ने बहुत खुश होकर इस परीक्षा का मुकाबला किया। मैं समझता हूं कि यह हमारे देश के लिए बहुत सुखद क्षण है।"

केंद्रीय शिक्षा मंत्रालय ने इस बात पर संतोष जाहिर किया है कि नीट और जेईई जैसी परीक्षाएं संपन्न होने के कारण छात्रों का 1 वर्ष खराब नहीं हुआ है। वहीं शिक्षा मंत्रालय ने विश्वविद्यालयों में अंतिम वर्ष की परीक्षाएं करवाए जाने की प्रक्रिया को बिल्कुल सही ठहराया है। शिक्षा मंत्री निशंक के मुताबिक जहां इससे छात्रों का 1 वर्ष बचा है। वहीं हमारे छात्रों पर यह ठप्पा भी नहीं लगा कि इनको यह डिग्री कोरोना के कारण मिली है।

नीट परीक्षाओं के लिए भी सभी परीक्षा केंद्रों पर विशेष इंतजाम किए गए थे। यहां सोशल डिस्टेंसिंग का सबसे अधिक ध्यान रखा गया। दिल्ली में 111 केंद्रों पर नीट की परीक्षा आयोजित की गई। वहीं पूरे देश में 3862 केंद्रों पर यह परीक्षा ली गई।

दिल्ली में नीट परीक्षा के लिए जहां 111 परीक्षा केंद्र बनाए गए, वहीं उत्तर भारत में सबसे अधिक 320 परीक्षा केंद्र उत्तर प्रदेश में थे। महाराष्ट्र में 615 परीक्षा केंद्र बनाए गए थे। 322 परीक्षा केंद्र केरल में थे।

Keep up with what Is Happening!

Best hindi news platform for youth
www.yoyocial.news