UP Board 10वीं और 12वीं के नतीजे घोषित, खत्म हुआ 56 लाख बच्चों का इन्तजार, CM योगी आदित्यनाथ ने दी शुभकामनायें, यहाँ देखें नतीजे
एजुकेशन

UP Board 10वीं और 12वीं के नतीजे घोषित, खत्म हुआ 56 लाख बच्चों का इन्तजार, CM योगी आदित्यनाथ ने दी शुभकामनायें, यहाँ देखें नतीजे

डॉ. दिनेश शर्मा ने UP Board 10वीं और 12वीं के रिज़ल्ट की घोषणा कर दी. इसी के साथ परीक्षा में शामिल 56 लाख से अधिक छात्र-छात्राओं का इंतजार खत्म हो गया है। कोरोना महामारी और लॉकडाउन के कारण इस बार नतीजे पूरे एक माह विलम्ब से घोषित हुए हैं.

Yoyocial News

Yoyocial News

इन्तजार खत्म हुआ और UP Board की 10 वीं और 12वीं (यूपी बोर्ड हाईस्कूल और इंटर परीक्षा) का रिजल्ट आ गया. रिजल्ट https://upmsp.edu.in, https://upresults.nic.in और https://upmspresults.up.nic.in, www.upmsp.nic.in, www.uttar-pradesh.indiaresults.com, www.examresults.net/up पर देखा जा सकता है। यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सभी छात्रों को शुभकामनाएं दी हैं।

उत्तर प्रदेश के उपमुख्यमंत्री डॉ. दिनेश शर्मा लखनऊ में नतीजों ( up board high school and intermediate result 2020 ) की घोषणा की। इसी के साथ परीक्षा में शामिल 56 लाख से अधिक छात्र-छात्राओं का इंतजार खत्म हो गया है। कोरोना महामारी और लॉकडाउन के कारण इस बार नतीजे पूरे एक माह विलम्ब से घोषित हुए हैं.

यह पहली बार हुआ है जब यूपी बोर्ड परीक्षा के दोनों नतीजे (10 वीं और 12वीं) एक साथ पहली बार प्रदेश की राजधानी लखनऊ से जारी हो रहे हैं, वह भी उप मुख्यमंत्री द्वारा। इससे पहले परीक्षा के परिणाम बोर्ड मुख्यालय प्रयागराज से ही जारी होते थे। हालांकि, इससे पहले बोर्ड के सभापति एवं सचिव में आपसी तालमेल नहीं होने के चलते दो बार हाईस्कूल के परिणाम लखनऊ स्थित माध्यमिक शिक्षा निदेशक (सभापति) के कार्यालय से जारी हो चुके हैं।

इस बार 10वीं-12वीं की परीक्षा एक साथ 18 फरवरी को शुरू हुई थीं। 10वीं की परीक्षा 3 मार्च जबकि इंटर की परीक्षा 6 मार्च को समाप्त हुई थी। इस बार कोरोना वायरस संक्रमण के चलते मूल्यांकन कार्य बाधित हुआ, इसलिए परीक्षा परिणाम एक माह देरी से जारी हो रहा है। परम्परा के अनुसार इसे मई के अंतिम सप्ताह में आ जाना चाहिए था.

शिक्षा विभाग से मिली जानकारी के अनुसार बोर्ड परीक्षा के परिणाम 27 जून को दोपहर 12:00 बजे मिल जाएंगे। इस बार बोर्ड की हाईस्कूल व इंटरमीडिएट 2020 की परीक्षा में 56,07,118 परीक्षार्थी शामिल हुए, जिसमें हाईस्कूल के 30,22,607 परीक्षार्थी और इंटरमीडिएट के 25,84,511 परीक्षार्थी हैं। इसके लिए प्रदेश भर में 7784 परीक्षा केन्द्र बनाए गए। इस बार प्रत्येक परीक्षा केंद्रों पर सीसीटीवी कैमरे लगाए गए थे।

बोर्ड परीक्षाओं की निगरानी के लिए प्रदेश भर में कुल 19 लाख कैमरे लगाए गए। इसके अलावा 1.88 लाख कक्ष निरीक्षक नियुक्त किए गए थे, जिनको परीक्षा केंद्र पर अपने पहचानपत्र और आधार कार्ड के साथ ड्यूटी करने को कहा गया था। इस बार संवेदनशील परीक्षा केन्द्रों की संख्या 700 तथा अतिसंवेदनशील परीक्षा केन्द्रों की संख्या 275 थी।

कोरोना संकट के चलते इस बार छात्रों को डिजिटल अंक पत्र और प्रमाण पत्र दिए जाएंगे। अंक और प्रमाण पत्र को वेबसाइट से डाउनलोड कर स्कूलों से छात्रों को वितरित किए जाएंगे। डिजिटल अंक पत्र और प्रमाण पत्र तीन दिनों के अंदर स्कूलों के प्रधानाचार्य के माध्यम से छात्रों को मिल जाएंगे। यूपी बोर्ड ऑफिस से घोषित होने के बाद रिजल्ट बोर्ड की आधिकारिक वेबसाइट पर देखा जा सकता है।

Keep up with what Is Happening!

Best hindi news platform for youth
www.yoyocial.news