Arthik Bhavishyafal 19 April 2023: किन राशियों को होगा आर्थिक लाभ या हानि, जानें कैसा रहेगा बुधवार का दिन

किन राशियों को होगा आर्थिक लाभ या हानि, जानें कैसा रहेगा बुधवार का दिन...
Arthik Bhavishyafal 19 April 2023: किन राशियों को होगा आर्थिक लाभ या हानि, जानें कैसा रहेगा बुधवार का दिन

मेष राशि :-

आज आपके जन्म स्थान से द्वादश चंद्रमा तथा एकादश शनि और मंगल का योग बना हुआ है। अतः प्रयास करके सभी आवश्यक कार्य निपटा लें। राजनीतिक और सामाजिक क्षेत्र में विरोधी परेशानी खड़ी कर सकते हैं। कार्यक्षेत्र में निरंतर परिश्रम की आवश्यकता है। सायंकाल के समय अतिथियों के आगमन से खर्चा बढ़ेगा। अच्छे परिणाम के लिए रुद्राभिषेक सोमवार को करते रहें।

वृषभ राशि :-

आज राशि का स्वामी शुक्र व चंद्र के साथ प्रथम भाव में कोई नई परेशानी खड़ी कर सकते हैं। कार्य की अधिकता के कारण स्वास्थ्य पर विपरीत प्रभाव पड़ सकता है, इसलिए खान-पान पर विशेष नियंत्रण रखें। कला व साहित्य में मान-प्रतिष्ठा बढ़ेगी। कार्यक्षेत्र में किसी बड़े बुजुर्ग के सहयोग से व्यवसाय में प्रगति होगी। सायंकाल से रात्रि तक शुभ कार्यों में खर्चा होगा, जिससे आपकी कीर्ति बढ़ेगी।

मिथुन राशि :-

एकादश भाव में मेष राशि का राहु और नवम भाग्य भाव में बृहस्पति होने के कारण आज आपका मूड सुबह से ही अच्छा रहेगा। सभी क्षेत्रों में बुद्धि और कौशल का प्रयोग करेंगे तो सफलता मिलेगी। राजनीतिक क्षेत्र में पिछले कुछ दिनों से जो असमंजस की स्थिति बनी हुई थी, आज समाप्त हो जाएगी। संतान पक्ष से भी संतोषजनक समाचार मिलेगा।

कर्क राशि :-

कर्क राशि वालों के लिए आज नौकरी, व्यवसाय व राजनीतिक क्षेत्र में प्रगति की स्थिति रहेगी। बड़े बुजुर्ग कार्यक्षेत्र में हरेक प्रकार की मदद करेंगे। खर्चों में कटौती करें अन्यथा आर्थिक कष्ट उठाना पड़ सकता है। कला-क्रीड़ा व साहित्य के क्षेत्र में आ रही बाधा दूर होने की संभावना है। सायंकाल से रात्रि तक पुत्र व पुत्री के लिए विवाह के रिस्ते आएंगे।

सिंह राशि :-

दिन के पूर्वार्द्ध में पारिवारिक जीवन में कुछ खटपट रहेगी। साहस व धैर्य से काम लेना होगा, किसी भी कार्य में जल्दबाजी न करें। कार्यक्षेत्र में प्रगति की बहुत संभावनाएं हैं। व्यवसाय में उतार-चढ़ाव रहेगा। लेनदारियां वापिस आने का समय है। सायंकाल में दूर या पास की यात्रा का योग है।

कन्या राशि :-

आज आपकी राशि का स्वामी बुध अष्टम भाव में संचार कर रहा है। राजनीतिक व सामाजिक क्षेत्र में तनाव की स्थिति रहेगी। विद्यार्थियों को निरंतर परिश्रम की आवश्यकता है। परिवार में संपत्ति को लेकर भी कुछ तनाव उत्पन्न हो सकता है। सायंकाल के समय व्यापार में कुछ की आशा बंधेगी, जिसका आपको आगे चलकर अत्यंत फायदा होगा।

तुला राशि :-

मीन राशि का चंद्रमा षष्ठम भाव में आज पराक्रम व धन की वृद्धि करेगा। कोर्ट कचहरी के मामलों में विजय होगी। कार्यक्षेत्र में सफलता के शीर्ष पर पहुंचेंगे। अचल संपत्ति के व्यापार से लाभ होगा। संतान की सफलता के समाचार से आप आनन्दित होंगे। सायंकाल के समय किसी नए कार्य का आरंभ होगा। समाज में सम्मान मिलेगा।

वृश्चिक राशि :-

राशि का स्वामी मंगल अपनी मिथुन राशि पर और चंद्रमा मीन राशि पंचम भाव में संचार कर रहा है। ’आद्य चन्द्र श्री कुर्यात-मन संतोष द्वितीयक‘ प्रमाण के अनुसार आज आपके प्रभाव प्रताप में वृद्धि होगी। व्यवसाय में अच्छे अवसर मिलेंगे। राजनीतिक और सामाजिक क्षेत्र में परिश्रम और साहस की आवश्यकता है। शत्रु पक्ष कमजोर होगा।

धनु राशि :-

धनु राशि वालों को आज संतान पक्ष से हर्षवर्धक समाचार मिलेगा। नए-नए खर्चे निकल कर सामने आएंगे। कार्यक्षेत्र में कोई झूठा आरोप भी आप पर लग सकता है। सायंकाल से लेकर रात्रि पर्यन्त यात्रा का योग है, उसमें खास कर चौकन्ने रहें। क्रोध पर नियंत्रण रखें। व्यवसाय में लाभ होगा।

मकर राशि :-

आपकी राशि का स्वामी शनि द्वितीय भाव में और राशि से तृतीय भाव मीन राशि का ही गुरु आज आपको सुव्यवस्था का कोई कार्य सौपेगा। राजनीतिक और सामाजिक क्षेत्र में नए संपर्क बनेंगे। शिक्षा क्षेत्र में विशेष प्रगति होकर समाज में सम्मान मिलेगा। सिंह राशि वाला कोई व्यक्ति आपके सामने कोई प्रस्ताव रखे तो उसे अस्वीकार कर दें।

कुंभ राशि :-

चंद्रमा द्वितीय भाव में मीन राशि पर संचार कर रहा है। लेन-देन के मामलों में सावधानी बरतें। व्यय की अधिकता के कारण आज आपको किसी से कर्जा भी लेना पड़ सकता है। पारिवारिक कार्यों की वजह से दौड़ धूप रहेगी। आप अपनी कार्यकुशलता से औरों को प्रभावित करेंगे। सायंकाल के समय कोई विशेष कार्य निपट जाने से उत्साह बढ़ेगा।

मीन राशि :-

राशि का स्वामी मीन में तथा द्वितीय देशाटन प्रमुख केंद्र भाव में सूर्य राज्य विजय कारक है। आज आप कार्य स्थल पर अपने प्रतिद्वंदियों के लिए सिरदर्द बने रहेंगे। परिवार में आपके प्रति प्रेम व आदर की भावना बढ़ेगी। देव, गुरू व ब्राह्मणों के प्रति भक्ति भावना में इच्छित कार्यों की सफलता में चल रहा व्यवधान समाप्त हो जाएगा। सायंकाल के समय किसी मंगल कार्य में सम्मिलित होने का अवसर प्राप्त होगा।

Keep up with what Is Happening!

Related Stories

No stories found.
Best hindi news platform for youth. हिंदी ख़बरों की सबसे तेज़ वेब्साईट
www.yoyocial.news