Shanivar ke Upay : शनिवार के दिन क्या नहीं करना चाहिए जाने, वरना जिंदगी भर पड़ेगा पछताना

सप्ताह में शनिवार का दिन भगवान शनि देव को समर्पित माना गया है. मान्यतानुसार, ऐसा कहा जाता है कि शनिदेव न्याय के देवता हैं, जो हर जीव को उसके कर्मों के अनुसार उचित फल देते हैं. शनिदेव जिस पर प्रसन्न हो जाते हैं, उसका भाग्य उदय हो जाता है.
Shanivar ke Upay : शनिवार के दिन क्या नहीं करना चाहिए जाने, वरना जिंदगी भर पड़ेगा पछताना

सप्ताह में शनिवार का दिन भगवान शनि देव को समर्पित माना गया है. मान्यतानुसार, ऐसा कहा जाता है कि शनिदेव (Shanivar ke Upay) न्याय के देवता हैं, जो हर जीव को उसके कर्मों के अनुसार उचित फल देते हैं. शनिदेव जिस पर प्रसन्न हो जाते हैं, उसका भाग्य उदय हो जाता है.

वहीं अगर किसी पर शनिदेव की अशुभ छाया पड़ती है, तो उसके बुरे दिन शुरू हो जाते हैं और उसे हर क्षेत्र में असफलता ही हाथ लगती है. गौरतलब है कि शनिवार के दिन कुछ कार्यों को करने और कुछ कार्यों को न करने की सलाह दी जाती है. तो चलिए जानते हैं कि इस दिन क्या करें और क्या न करें.

शनिवार के दिन क्या नहीं करना चाहिए? :-

शनिवार के दिन मांस मदिरा के साथ साथ किसी भी प्रकार के नशे का सेवन नहीं करना चाहिए. ऐसा करने से शनिदेव आप से नाराज हो सकते हैं.

शनिवार के दिन तेल, लकड़ी, कोयला, नमक, लोहा या लोहे की वस्तु नहीं खरीदना चाहिए. ऐसा करने से जीवन में संकट आना शुरू हो जाते हैं.

शनिवार के दिन कैंची की खरीददारी नहीं करनी चाहिए. ऐसा करने से घर में ग्रह कलेश की स्तिथि बनने लगती है.

शनिवार के दिन नमक का लेन देन नहीं करना चाहिए व इसके साथ ही नमक की खरीददारी भी नहीं करनी चाहिए. ऐसा करने से स्वास्थ्य बिगड़ता है.

शनिवार के दिन सरसो का तेल नहीं खरीदना चाहिए. ऐसा करने से आपके घर में नकारात्मकता आती है. आप दान के लिए तेल खरीद सकते हैं.

शनिवार के दिन क्या करना चाहिए? :-

1- शनिवार के दिन विधि विधान से भगवान शनिदेव की पूजा अर्चना करनी चाहिए.

2- शनिवार के दिन पीपल के पेड़ के नीचे शाम को जल चढ़ाना चाहिए और तिल के तेल का दीपक जलाना चाहिए.

3- शनिवार के दिन कौवे को रोटी खिलानी चाहिए, ऐसा करने से आपको पितरों का आशीर्वाद प्राप्त होता है.

4- शनिवार के दिन सरसो के तेल का दान बहुत ही शुभ माना गया है, ऐसा करने से आपको काफी लाभ मिलता है.

5- गुरुवार की तरह शनिवार को भी अपनी गलती की क्षमा मांगी जा सकती है.

Keep up with what Is Happening!

Related Stories

No stories found.
Best hindi news platform for youth. हिंदी ख़बरों की सबसे तेज़ वेब्साईट
www.yoyocial.news