Shardiya Navratri 2021: आज है नवरात्रि का सातवां दिन, हाेती है मां कालरात्रि की पूजा, जान लें पूजा विधि

मंगलवार को नवरात्रि का सांतवा दिन है। इस दिन मां काली की पूजा अर्चना की जाती है। मां के नौ स्वरूप में से एक कालरात्रि का रूप काफी रौद्र है, लेकिन उनका दिल बेहद ही कोमल है।
Shardiya Navratri 2021: आज है नवरात्रि का सातवां दिन, हाेती है मां कालरात्रि की पूजा, जान लें पूजा विधि

मंगलवार को नवरात्रि का सांतवा दिन है। इस दिन मां काली की पूजा अर्चना की जाती है। मां के नौ स्वरूप में से एक कालरात्रि का रूप काफी रौद्र है, लेकिन उनका दिल बेहद ही कोमल है। कालरात्रि माता की पूजा जो भी भक्त दिल से करता है, उस पर मां की विशेष कृपा रहती है।

Shardiya Navratri 2021: आज है नवरात्रि का सातवां दिन, हाेती है मां कालरात्रि की पूजा, जान लें पूजा विधि
Vastu Tips: चकला-बेलन भी बनाता है घर की किस्मत, ध्यान न देने पर हो सकती है पैसों की तंगी

इसके साथ ही देवी कालरात्रि अज्ञानता का नाश कर अधंकार मे रोशनी लाती हैं। मां कालरात्रि दुष्टों का विनाश करने वाली हैं। दानव, दैत्य, राक्षस, भूत, प्रेत आदि इनके स्मरण मात्र से ही भयभीत होकर भाग जाते हैं। इनकी पूजा करने से ग्रह-बाधाओं की समस्या भी दूर हो जाती है। इनके उपासकों को अग्नि-भय, जल-भय, जंतु-भय, शत्रु-भय, रात्रि-भय आदि कभी नहीं होते।

इनकी कृपा से सभी भक्त भय-मुक्त हो जाते हैं। देवी कालरात्रि के चार हाथ हैं। उनकेे एक हाथ में खड्ग (तलवार), दूसरे में लौह शस्त्र, तीसरे हाथ वरमुद्रा और चौथे हाथ अभय मुद्रा में हैं। मां कालरात्रि का वाहन गर्दभ है।

Shardiya Navratri 2021: आज है नवरात्रि का सातवां दिन, हाेती है मां कालरात्रि की पूजा, जान लें पूजा विधि
जानें किन पेड़ों पर होता है देवी-देवताओं का वास, किस पेड़ का पूजन करेंगे तो मिलेगी किस देवता की कृपा

मां कालरात्रि का प्रिय पुष्प और शुभ रंग :-

मां कालरात्रि को रातरानी का पुष्प अर्पित करें। मां को रातरानी का पुष्प काफी प्रिय है। मां को लाल रंग प्रिय है।

Shardiya Navratri 2021: आज है नवरात्रि का सातवां दिन, हाेती है मां कालरात्रि की पूजा, जान लें पूजा विधि
Shardiya Navratri 2021: जानें शारदीय नवरात्रि में अखंड ज्योति जलाने के नियम, होगी धन की वर्षा

मां कालरात्रि का भोग :-

मां कालरात्रि को गुड़ सबसे ज्यादा पसंद है। आज के दिन मां को गुड़ का भोग जरूर लगाएं।

कालरात्रि देवी का मंत्र :-

मां दुर्गा के इस स्वरूप की साधना करते समय इस मंत्र का जप करना चाहिए। कालरात्रि का सिद्ध मंत्र

Shardiya Navratri 2021: आज है नवरात्रि का सातवां दिन, हाेती है मां कालरात्रि की पूजा, जान लें पूजा विधि
Shardiya Navratri 2021: जान लें नवरात्रि व्रत करने के जरूरी नियम, भूल से भी न करें यह गलतियाँ
ऊं ऐं ह्रीं क्लीं चामुण्डायै विच्चै ऊं कालरात्रि दैव्ये नम:।

पूजा विधि :-

नवरात्रि के सातवें दिन स्नान आदि से निवृत्त होकर मां कालरात्रि का स्मरण करें, फिर माता को अक्षत्, धूप, गंध, पुष्प और गुड़ का नैवेद्य श्रद्धापूर्वक चढ़ाएं। मां कालरात्रि का प्रिय पुष्प रातरानी है, यह फूल उनको जरूर अर्पित करें। इसके बाद मां कालरात्रि के मंत्रों का जाप करें तथा अंत में मां कालरात्रि की आरती करें।

Shardiya Navratri 2021: आज है नवरात्रि का सातवां दिन, हाेती है मां कालरात्रि की पूजा, जान लें पूजा विधि
VIDEO: जानिए कैसा होगा आपका यह सप्ताह, साप्ताहिक राशिफल (11 अक्टूबर से 17 अक्टूबर 2021)

कालरात्रि माता की आरती :-

कालरात्रि जय-जय-महाकाली। काल के मुह से बचाने वाली। दुष्ट संघारक नाम तुम्हारा। महाचंडी तेरा अवतार। पृथ्वी और आकाश पे सारा। महाकाली है तेरा पसारा। खड्ग खप्पर रखने वाली। दुष्टों का लहू चखने वाली। कलकत्ता स्थान तुम्हारा। सब जगह देखूं तेरा नजारा। सभी देवता सब नर-नारी। गावें स्तुति सभी तुम्हारी। रक्तदंता और अन्नपूर्णा। कृपा करे तो कोई भी दुःख ना। ना कोई चिंता रहे बीमारी। ना कोई गम ना संकट भारी। उस पर कभी कष्ट ना आवें। महाकाली मां जिसे बचावे। तू भी भक्त प्रेम से कह। कालरात्रि मां तेरी जय।

Keep up with what Is Happening!

Related Stories

No stories found.