Vastu Tips: घर की उत्तर पूर्व दिशा का रखें खास ध्यान, भूलकर न रखें ये सामान

Vastu Tips: घर की उत्तर पूर्व दिशा का रखें खास ध्यान, भूलकर न रखें ये सामान

वास्तु के अनुसार उत्तर पूर्व दिशा एक महत्‍वपूर्ण दिशा मानी जाती है। इससे निकलने वाली ऊर्जा का सीधे तौर पर हमारे जीवन एवं स्‍वास्‍थ्‍य पर असर पड़ता है।

वास्तु शास्त्र के अनुसार कुछ खास बातों का ध्यान रख कर खुशहाल जीवन और सुख-समृद्धि प्राप्त की जा सकती है।

वास्तु के अनुसार उत्तर पूर्व दिशा एक महत्‍वपूर्ण दिशा मानी जाती है। इससे निकलने वाली ऊर्जा का सीधे तौर पर हमारे जीवन एवं स्‍वास्‍थ्‍य पर असर पड़ता है। वास्तु शास्त्र के अनुसार कुछ खास बातों का ध्यान रख कर खुशहाल जीवन और सुख-समृद्धि प्राप्त की जा सकती है।

आइए जानते हैं घर से जुड़े खास वास्तु टिप्स।

  • घर के ईशान कोण (पूर्व-उत्तर दिशा) को खाली रखें और साफ-सफाई का खास ध्यान रखें।हो सके तो यहां पूजा घर बनाएं। इससे घर के ऐसे दोष खत्म होंगे जो पैसों को रोकते हैं।

  • उत्तर-पूर्व दिशा में कोई भी नकारात्मक वस्तु जैसे जूते, चप्पल न रखें। इससे उत्तर पूर्व दिशा में दोष उत्पन्न हो जाता है।

  • इस क्षेत्र में साफ सफाई का विशेष ध्यान रखें। यहीं से कॉस्मिक ऊर्जा का निर्माण होता है, जिससे व्यक्ति स्वस्थ रहता है। ध्यान रहे कि उत्तर-पूर्व दिशा के खुला होने के पीछे एक वैज्ञानिक कारण भी है कि इसमें कॉस्मिक किरणों का उदय एवं प्रवाह बेहतर ढंग से संभव हो पाता है।

  • उत्तर-पूर्व भूमि तत्व की दिशा है, जिन व्यक्तियों की जन्म तिथि में 2, 5 एवं 8 अंक नहीं होता है वो हड्डियों के रोग से ग्रसित हो सकते हैं। ऐसे व्यक्तियों को उत्तर-पूर्व एवं दक्षिण-पश्चिम जोन में पीला रंग करवाना चाहिए।

  • किसी की कुंडली में यदि गुरु शुभ प्रभाव में नहीं है और आपके उत्तर-पूर्व जोन में वास्तु दोष है तो ऐसे व्यक्तियों को पाचन तंत्र संबंधी, गॉल ब्लैडर, रक्त चाप, पीलिया आदि रोग होने की आशंका होती है।

Keep up with what Is Happening!

No stories found.
Best hindi news platform for youth
www.yoyocial.news