कितनी संपत्ति छोड़ के गईं हैं ब्रिटेन की Queen Elizabeth II, कितनी थी महारानी की सैलरी

महारानी को आय सोवरिन ग्रांट नाम के टैक्सपेयर फंड से होती थी, जो ब्रिटिश राजघराना हर साल हासिल करता था।
कितनी संपत्ति छोड़ के गईं हैं ब्रिटेन की Queen Elizabeth II, कितनी थी महारानी की सैलरी

ब्रिटेन की महारानी एलिजाबेथ द्वितीय का गुरुवार को निधन हो गया। 96 वर्ष की आयु में उन्होंने स्कॉटलैंड स्थित आवास पर अंतिम सांस ली। महारानी के निधन के बाद उनकी संपत्ति को लेकर चर्चाएं जारी हैं। अब उनके पास कितनी संपत्ति थी?

निधन के बाद इसका हकदार कौन होगा? आय का स्त्रोत क्या था? जैसे सवाल उठ रहे हैं। ब्रिटिश राजघराने के इस आर्थिक पहलू को विस्तार से समझते हैं।

महारानी को आय सोवरिन ग्रांट नाम के टैक्सपेयर फंड से होती थी, जो ब्रिटिश राजघराना हर साल हासिल करता था।

अब सवाल है कि यह ग्रांट क्या है। दरअसल, इसकी शुरुआत किंग जॉर्ज तृतीय की तरफ से किए गए एक समझौते से होती है। उन्होंने अपने और आने वाली पीढ़ियों को सालाना भुगतान के लिए अपनी आय सरेंडर कर दी थी। पहले इसे सिविल लिस्ट कहा जाता था। 2012 में इसे सोवरिन ग्रांट कहा गया।

2021 और 2022 में ग्रांट की राशि 86 मिलियन डॉलर निर्धारित थी। राजघराने को यह रकम आधिकारिक यात्रा, संपत्ति के रखरखाव और बकिंघम पैलेस के खर्चों के लिए आवंटित की जाती है। हालांकि, महारानी को सालाना सैलरी नहीं मिलती है।

खबर है कि महारानी अपने पीछे 500 मिलियन डॉलर की संपत्ति छोड़कर गई हैं। यह उन्होंने 70 साल गद्दी पर रहने के बाद हासिल की थी। खबर है कि महारानी के निधन के बाद यह गद्दी प्रिंस चार्ल्स को मिलेगी।

फिलहाल, यह कहना जटिल है कि अब संपत्ति का क्या होगा। लेकिन मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, इसे रॉयल फर्म से जोड़कर भी देखा जा रहा है।

Keep up with what Is Happening!

Related Stories

No stories found.
Best hindi news platform for youth. हिंदी ख़बरों की सबसे तेज़ वेब्साईट
www.yoyocial.news