IPL-13 : कोलकाता ने टॉस जीता, बल्लेबाजी करने उतरी

IPL-13 : कोलकाता ने टॉस जीता, बल्लेबाजी करने उतरी

कोलकाता नाइट राइडर्स ने अबू धाबी के शेख जायेद स्टेडियम में तीन बार की विजेता चेन्नई सुपर किंग्स के साथ जारी आईपीएल के 13वें सीजन के 21वें मैच में टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने का फैसला किया है।

दो बार की चैंपियन कोलकाता नाइट राइडर्स ने अबू धाबी के शेख जायेद स्टेडियम में तीन बार की विजेता चेन्नई सुपर किंग्स के साथ जारी आईपीएल के 13वें सीजन के 21वें मैच में टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने का फैसला किया है। महेंद्र सिंह धोनी की कप्तानी वाली चेन्नई की टीम इस सीजन में पांच मैचों में दो जीत और तीन हार के साथ चार अंक लेकर आठ टीमों की अंकतालिका में पांचवें नंबर पर हैं। चेन्नई ने अपने पिछले मैच में किंग्स इलेवन पंजाब को 10 विकेटों से करारी शिकस्त दी थी।

दूसरी तरफ, दिनेश कार्तिक की कप्तानी वाली कोलकाता चार मैचों में दो जीत और दो हार के साथ अंकतालिका में चार अंकों के साथ चौथे नंबर पर हैं। टीम को अपने पिछले मैच में हार का सामना करना पड़ा था।

कोलकाता ने अपनी टीम में कोई बदलाव नहीं किया है, जबकि चेन्नई ने एक बदलाव किया है। चेन्नई ने पीयूष चावला की जगह कर्ण शर्मा को अंतिम एकादश में शामिल किया है।

टीमें :

कोलकाता नाइट राइडर्स : शुभमन गिल, सुनील नारायण, नितीश राणा, आंद्रे रसेल, दिनेश कार्तिक (कप्तान एवं विकेटकीपर), इयोन मोर्गन, पैट कमिंस, राहुल त्रिपाठी, कमलेश नागरकोटी, शिवम मावी, वरुण चक्रवर्ती।

चेन्नई सुपर किंग्स : शेन वॉटसन, फाफ डु प्लेसिस, अंबाती रायडू, महेंद्र सिंह धोनी (कप्तान एवं विकेटकीपर), केदार जाधव, रवींद्र जडेजा, ड्वेन ब्रावो, सैम कुरैन, कर्ण शर्मा, शार्दुल ठाकुर, दीपक चाहर।

चेन्नई के सामने चुनौती है कि वह पंजाब के खिलाफ किए गए प्रदर्शन को बरकरार रखे। सीजन के पहले मैच में मुंबई इंडियंस को हराने के बाद टीम ने लगातार तीन मैच गंवाए थे और फिर जीत हासिल की थी।

उसके लिए एक अच्छी बात यह है कि शेन वाटसन फॉर्म में लौट आए हैं। उन्होंने पिछले मैच में इन फॉर्म बल्लेबाज फाफ डु प्लेसिस के साथ मिलकर पहले विकेट के लिए 181 रनों की साझेदारी की थी और टीम को जीत दिलाई थी।

कोलकाता के खिलाफ भी महेंद्र सिंह धोनी को इन दोनों से इसी तरह की ओपनिंग पार्टनरशिप की उम्मीद होगी। इन दोनों के बाद टीम के पास अंबाती रायडू, केदार जाधव, ड्वेन ब्रावो, रवींद्र जडेजा और खुद धोनी हैं। धोनी के बल्लेबाजी क्रम पर खेलने पर सवाल उठे हैं।

अब देखना यह होगा कि वो आगे के मैचों में किस नंबर पर खेलते हैं। जडेजा का बल्ला चल रहा है। ब्रावो ने अभी तक सिर्फ दो मैच खेले हैं लेकिन बल्लेबाजी नहीं की है।

गेंदबाजी में जरूर ब्रावो असरदार साबित हुए हैं। पंजाब के खिलाफ उन्होंने शार्दुल ठाकुर के साथ मिलकर डेथ ओवरों में प्रभावी गेंदबाजी कर पंजाब को 200 का आंकड़ा नहीं छूने दिया था। ब्रावो और ठाकुर के अलावा तेज गेंदबाजी में सैम कुरैन हैं और स्पिन में जडेजा का साथ देने के लिए पीयूष चावला।

कोलकाता की जहां तक बात की जाए तो उसके लिए कई सारे सवाल है, खासकर बल्लेबाजी में। शुभमन गिल बिना किसी संदेह के फॉर्म में हैं, लेकिन उनके सलामी जोड़ीदार सुनील नारायरण से जो आतिशी बल्लेबाजी की उम्मीद थी वो देखने को नहीं मिली है।

चेन्नई के खिलाफ यहां बदलाव देखने को मिल सकता है। राहुल त्रिपाठी ने पिछले मैच में निचले क्रम में अच्छा किया था और वह मुख्य रूप से सलामी बल्लेबाज ही है। ऐसे में टीम गिल के साथ त्रिपाठी को आजमा सकती है।

वहीं, इयोन मोर्गन के बल्लेबाजी स्थान को लेकर भी टीम निशाने पर है। कई लोगों का मानना है कि मोर्गन को ऊपर बल्लेबाजी करनी चाहिए मुख्यत: चार नंबर पर और कप्तान दिनेश कार्तिक को फिनिशर का रोल निभाना चाहिए। टीम के तूफानी बल्लेबाज आंद्रे रसेल भी अभी तक उस तरह की पारी नहीं खेल पाए हैं जिसकी उनसे उम्मीद है।

कोलकाता की गेंदबाजी युवा कंधों पर है और अनुभव भी उनका साथ दे रहा है। शिवम मावी और कमलेश नागरकोटी जैसे युवा गेंदबाजों ने अपने प्रदर्शन से बेहद प्रभावित किया है और पैट कमिंस भी टीम के लिए उपयोगी रहे हैं।

Keep up with what Is Happening!

Related Stories

Best hindi news platform for youth
www.yoyocial.news