IPL13: मैदान में उतरने से पहले अपने पत्ते नहीं खोलना चाहते ईशान पोरेल
IPL 2020

IPL13: मैदान में उतरने से पहले अपने पत्ते नहीं खोलना चाहते ईशान पोरेल

Kings xi punjab के लिए IPL के आगामी सीजन में खेलने जा रहे युवा तेज गेंदबाज ईशान पोरेल पहली बार इस लीग की चुनौती के लिए तैयार हैं, लेकिन वो मैदान में उतरने से पहले अपने पत्ते नहीं खोलना चाहते।

Yoyocial News

Yoyocial News

किंग्स इलेवन पंजाब के लिए आईपीएल के आगामी सीजन में खेलने जा रहे युवा तेज गेंदबाज ईशान पोरेल पहली बार इस लीग की चुनौती के लिए तैयार हैं, लेकिन वो मैदान में उतरने से पहले अपने पत्ते नहीं खोलना चाहते।

इस तेज गेंदबाज को पंजाब के लिए लीग में लगातार खेलते हुए देखा जा सकता है और इसके लिए ईशान तैयारी भी कर रहे हैं लेकिन वो अपनी तैयारी को आम नहीं करना चाहते हैं। उनका कहना है कि आईपीएल में सब दिख ही जाएगा।

ईशान ने दुबई से अपनी तैयारी और गेंदबाजी वैरिएशन पर बात करते हुए कहा, "जो तैयारी की हैं, वो आईपीएल में सभी को देखने को मिलेगी। मैं अभी से कुछ बताना नहीं चाहता। मैं काम कर रहा हूं, चाहे नक्कल गेंद हो, स्लोअर हो। मुख्य बात यह रहेगी कि आप किस तरह से इसे मैदान पर उतारते हो। अगर नहीं कर पाते हो तो रन जा सकते हैं। और बाकी जो वैरिएशन मैं सीख रहा हूं वो आईपीएल में दिख ही जाएंगे।"

कोविड-19 के कारण इस बार आईपीएल का आयोजन संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) में हो रहा है, जहां कि पिचें धीमी मानी जाती हैं लेकिन ईशान को इससे परेशानी नहीं है क्योंकि उन्होंने कोलकाता में अपनी अधिकतर क्रिकेट इसी तरह की पिचों पर खेली है।

युवा गेंदबाज ने कहा, "मुझे इस तरह की विकेटों पर खेलने की आदत है क्योंकि कोलकाता में जहां पर हम लीग मैच खेलते हैं वहां गर्मियों में इसी तरह के विकेट होती है। बस अंतर है वो लीग क्रिकेट है और यह आईपीएल है। मैं बचपन से ही इस तरह की स्थिति में खेलने का आदि हूं तो इसे लेकर मैं कुछ सोच नहीं रहा हूं, मैं सिर्फ अपने प्लान को कैसे लागू करना है इस बारे में सोच रहा हूं।"

ईशान घरेलू क्रिकेट में बंगाल का प्रतिनिधित्व करते हैं और बंगाल से ही खेलने वाले भारतीय टीम के मुख्य गेंदबाजों में शुमार मोहम्मद शमी भी पंजाब के लिए आईपीएल खेलेंगे।

शमी के रहने से ईशान को क्या फायदा होगा? इस पर युवा ने कहा, "मैं उनसे कभी भी जाकर कुछ भी पूछ सकता हूं। शमी भाई भी हर समय बोलते हैं कि कुछ पूछना है तो सोचना नहीं बेझिझक आकर पूछ लेना। वो एक दिक्कज गेंदबाज हैं और जब वो अपना अनुभव शेयर करते हैं तो उससे फायदा होता है। सिर्फ मेरे और शमी भाई का नहीं हमारा गेंदबाजी आक्रमण ही ऐसा है कि हम लोग आपस में बात करते रहते हैं। हम सभी में अच्छी कैमेस्ट्री है, जो मैच में काम आएगी। हां शमी भाई के साथ मुझे थोड़ा जाकर पूछना आसान रहता है और मैदान पर जब वो साथ रहेंगे तो निश्चित तौर पर मुझे सहज महसूस होगा।"

पंजाब की टीम में क्रिस गेल जैसा बल्लेबाज है जो टी-20 में सबसे खतरनाक बल्लेबाजों में गिना जाता है। ईशान ने कहा कि टीम में कुछ और ऐसे बल्लेबाज हैं जो खतरनाक हैं और इन सभी को गेंदबाजी करना उन्हें मददगार साबित होगा।

ईशान ने कहा, "क्रिस गेल ही नहीं हमारी टीम में कई सारे तूफानी बल्लेबाज हैं। जैसे सरफराज भाई हो गए, राहुल भाई हैं। हमारी टीम में कई ऐसे खिलाड़ी हैं जो मुझे मदद कर रहे हैं कि अगर मेरे सामने कोई तूफानी बल्लेबाज आ जाए तो मैं कैसे गेंदबाजी करूं। हां, जाहिर सी बात है कि गेल को गेंदबाजी करने से मदद मिलती है। मैं हमेशा इन लोगों से अपनी गेंदबाजी के बारे में फीडबैक लेता रहता हूं। इससे मुझे ही फायदा होगा क्योंकि मुझे आईपीएल में विराट कोहली, अब्राहम डिविलियर्स, आंद्रे रसेल, माही भाई जैसे खतरनाक बल्लेबाजों को गेंदबाजी करनी होगी।"

ईशान, पृथ्वी शॉ की कप्तानी वाली उस अंडर-19 टीम का हिस्सा थे, जिसने 2018 में अंडर-19 विश्व कप जीता था। वह पिछले साल चोट के कारण आईपीएल नहीं खेल पाए थे लेकिन अब इस बड़े मंच के लिए तैयार हैं।

उन्होंने कहा, "आईपीएल सभी के लिए बड़ा प्लेटफॉर्म है। चाहे आप पहली बार खेल रहे हों या तीसरी-चौथी बार। यह आपको अपने सफर को पूरा करने का मौका देता है। यहां आप अच्छा करते हो तो आपको भारतीय टीम में मौका मिलता है। अंडर-19 और इंडिया-ए अलग प्लेटफॉर्म है और आईपीएल अलग प्लेटफॉर्म है क्योंकि आईपीएल में 90 फीसदी वो खिलाड़ी होते हैं जो अंर्तराष्ट्रीय क्रिकेट खेल चुके होते हैं। अंडर-19 अलग था, इंडिया-ए थोड़ा ऊपर और आईपीएल, जमीन-आसामन में फर्क होता है वैसा है। यह बड़ा और काफी चुनौतीपूर्ण प्लेटफॉर्म है।"

Keep up with what Is Happening!

Best hindi news platform for youth
www.yoyocial.news