अखिलेश यादव का ऐलान, नहीं लगवाएंगे कोविड वैक्सीन, कहा- भाजपा के टीके पर मुझे भरोसा नहीं

अखिलेश यादव का ऐलान, नहीं लगवाएंगे कोविड वैक्सीन, कहा- भाजपा के टीके पर मुझे भरोसा नहीं

लखनऊ के समाजवादी पार्टी कार्यालय में मीडिया से बातचीत में अखिलेश यादव ने कहा कि भाजपा की वैक्सीन पर उनको भरोसा नहीं है। उन्होंने कहा कि ये टीका तो भाजपा वालों का है। मैं इस पर कैसे विश्वास कर सकता हूं।

समाजवादी पार्टी के मुखिया अखिलेश यादव ने शनिवार को एलान करते हुए कहा कि भारत में कोरोना वायरस की वैक्सीन आने के बाद भी वो टीका नहीं लगवाएंगे।

लखनऊ के समाजवादी पार्टी कार्यालय में मीडिया से बातचीत में अखिलेश यादव ने कहा कि भाजपा की वैक्सीन पर उनको भरोसा नहीं है। उन्होंने कहा कि ये टीका तो भाजपा वालों का है। मैं इस पर कैसे विश्वास कर सकता हूं, 2022 में जब हमारी सरकार आएगी तो सबको फ्री कोरोना वैक्सीन मिलेगी। उन्होंने कहा कि हम भाजपा की वैक्सीन नहीं लगवाएंगे।

अखिलेश यादव ने कहा कि देश मे कोरोनावायरस का संक्रमण कहीं पर भी नहीं है। भाजपा ने तो सिर्फ विपक्ष को डराने के लिए इसका भय फैलाया है। उन्होंने कहा कि मैं तो बिना मास्क के सबके साथ बैठा हूं। उन्होंने मीडिया से कहा कि आप सब लोग ही बता दो कोरोना कहां है।

सपा मुखिया ने कहा कि भाजपा का फैलाया गया कोरोना वायरस का संक्रमण तो केवल विपक्ष के लिए है, जिससे कि कोरोना वायरस के नाम पर विपक्ष प्रदेश तथा देश में कोई कार्यक्रम न कर सके। उन्होंने कहा कि लॉकडाउन के दौरान तो भाजपा इसे थाली बजाकर दूर कर रही थी। फिर अब ड्राई रन की क्या जरूरत है।

उन्होंने शनिवार को अयोध्या से आए सभी धर्म गुरुओं के लोगों से मिलकर उनका आशीर्वाद लिया। सभी धमोर्ं के लोगों से मिलकर उनको आशीर्वाद दिया।

पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि सपा सरकार बनने पर अयोध्या में धार्मिक स्थलों व आम लोगों से नगर निगम द्वारा वसूला जाने वाला टैक्स माफ कर दिया जाएगा। राम की नगरी कर मुक्त होगी।

अयोध्या से आए कई संतों ने अखिलेश के 2022 में मुख्यमंत्री बनने की भविष्यवाणी की। उन्होंने कहा कि उनके कार्यकाल में खूब विकास हुआ है। अखिलेश के नेतृत्व में प्रदेश एक बार फिर विकास के रास्ते पर चलेगा।

जौनपुर के मुंगरा बादशाहपुर सीट से बहुजन समाज पार्टी की निलंबित विधायक सुषमा पटेल के पति रंजीत पटेल शनिवार को समाजवादी पार्टी में शामिल हो गए।

रंजीत पटेल प्रतापगढ़ के सदर विधानसभा क्षेत्र से बसपा के टिकट पर 2017 का चुनाव लड़े थे। सुषमा पटेल के ससुर दूधनाथ पटेल के अलावा उनकी सास सावित्री पटेल जौनपुर के उनको पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव ने समाजवादी पार्टी की सदस्यता दिलाई।

Keep up with what Is Happening!

Related Stories

Best hindi news platform for youth
www.yoyocial.news