BSP से निष्कासित पूर्व मंत्री लालजी वर्मा और रामअचल राजभर ने की अखिलेश से मुलाकात

उत्तर प्रदेश में विधानसभा चुनाव से पहले अपना राजनीतिक भविष्य तय करने के लिए नेता अपनी गोटियां सेट करने में लग गए हैं।
BSP से निष्कासित पूर्व मंत्री लालजी वर्मा और रामअचल राजभर ने की अखिलेश से मुलाकात

उत्तर प्रदेश में विधानसभा चुनाव से पहले अपना राजनीतिक भविष्य तय करने के लिए नेता अपनी गोटियां सेट करने में लग गए हैं। शुक्रवार को बहुजन समाज पार्टी से निष्कासित पूर्व मंत्री तथा विधायक लालजी वर्मा व रामअचल राजभर ने शुक्रवार को दिन में समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव से भेंट की।

इसके बाद अखिलेश यादव ने फोटो को ट्वीट कर इसको शिष्टाचार भेंट बताया है। उल्लेखनीय है कि बसपा ने पूर्व कैबिनेट मंत्री लालजी वर्मा के साथ ही रामअचल राजभर को अक्टूबर 2020 में पार्टी विरोधी गतिविधियों के कारण पार्टी से निष्कासित कर दिया है।

इसके बाद बीती जून में लालजी वर्मा के साथ रामअचल राजभर के सपा में शामिल होने की चर्चा ने जोर पकड़ा। बसपा के कुछ और विधायकों ने बगावती तेवर दिखाया तो उनको भी निलंबित कर दिया गया।

राम अचल राजभर अकबरपुर से पांच बार विधायक चुने गए हैं। राजभर बड़े कद के नेता हैं। मायावती सरकार में कैबिनेट मंत्री भी रहे हैं। बसपा के प्रदेश अध्यक्ष और राष्ट्रीय महासचिव भी रहे हैं। वहीं लालजी वर्मा बड़े कद्दावर नेता हैं। वह भी बसपा सरकार में मंत्री रहे हैं। बसपा के महत्वपूर्ण पदों पर रह चुके हैं।

माना जा रहा है कि बसपा को एक और बड़ा झटका लगने की प्रबल संभावना है। बसपा के विधानमण्डल दल के नेता लाल जी वर्मा के साथ ही कैबिनेट मंत्री रहे रामअचल राजभर के अखिलेश यादव के सम्पर्क में आने के बाद इनके सपा में शामिल होने की संभावना जताई जा रही है।

दोनों ही बसपा की स्थापना के समय से पार्टी में रहे हैं। मायावती ने इन दोनों नेताओं को बसपा से बाहर कर दिया था।

Keep up with what Is Happening!

Related Stories

No stories found.