JDU में नेता 'यात्राओं' के जरिए दिखा रहे अपनी ताकत !

JDU में आर सी पी सिंह को हटाकर पार्टी की कमान ललन सिंह को दिए जाने तथा पूर्व अध्यक्ष सिंह के केंद्रीय मंत्री बनने और उपेंद्र कुशवाहा के जदयू में आने के बाद पार्टी के ये नेता अपनी ताकत दिखाने में जुटे हैं।
JDU में नेता 'यात्राओं' के जरिए दिखा रहे अपनी ताकत !

बिहार में 'यात्रा' की राजनीति कोई नई नहीं है। यहां कई नेता यात्राओं के नाम पर राज्य का दौरा करते रहे हैं, लेकिन हाल के दिनों में सत्ताधारी पार्टी जनता दल (युनाइटेड) के अंदर ही 'यात्रा' के नाम पर सियासत हो रही है। पार्टी में अपनी ताकत को दिखाने के लिए नेता यात्रा पर निकले हैं।

जदयू में आर सी पी सिंह को हटाकर पार्टी की कमान ललन सिंह को दिए जाने तथा पूर्व अध्यक्ष सिंह के केंद्रीय मंत्री बनने और उपेंद्र कुशवाहा के जदयू में आने के बाद पार्टी के ये नेता अपनी ताकत दिखाने में जुटे हैं। ऐसे में ये सभी नेता यात्रा के जरिए अपनी ताकत दिखा रहे हैं।

जदयू के एक नेता नाम नहीं प्रकाशित करने की शर्त पर बताते हैं कि पहले पार्टी में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार सर्वेसर्वा होते थे, लेकिन अब पार्टी के अंदर ही कई केंद्र बन गए हैं। उन्होंने हाल के दिनों में जदयू के पूर्व राष्ट्रीय अयक्ष और केंद्रीय मंत्री आरसीपी सिंह के करीबी माने जाने वाले पार्टी मीडिया सेल के अध्यक्ष डॉ अमरदीप के पद छोड़े जाने की चर्चा करते हुए कहा कि उनका इस्तीफा इसका एक उदाहरण है।

उल्लेखनीय है कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को भेजे गए अपने इस्तीफे में अमरदीप ने कहा कि वह खुद को आत्मसम्मान के साथ अपनी जिम्मेदारियों का निर्वहन करने में सक्षम नहीं पा रहे हैं।

जदयू के ललन सिंह, आरसीपी सिंह और उपेंद्र कुशवाहा इन दिनों यात्रा पर निकले हैं। अब इन यात्राओं के राजनीतिक मायने भी निकाले जा रहे हैं।

गौरतलब है कि ललन सिंह के पार्टी के अध्यक्ष बनाए जाने के बाद जब वे पहली बार पटना पहुंचे तब उनका कार्यकर्ताओं द्वारा जोरदार स्वागत किया गया। इसकी तैयारी उनके अध्यक्ष बनने के बाद ही प्रारंभ हो गई थी। उनके स्वागत में जो भीड़ उमड़ी, उसके बाद जदयू के अंदर ही सियासत प्रारंभ हो गई।

ललन सिंह के कुछ ही दिनों के बाद जब केंद्रीय मंत्री बनने के बाद पहली बार आरसीपी सिंह पटना पहुंचे तो उनके समर्थकों ने भी उनके स्वागत में अपनी पूरी ताकत झोंक दी। इसके बाद इन दोनों नेताओं के स्वागत को शक्ति परीक्षण के रूप में देखा जाने लगा।

जदयू के नेता हालांकि इस मामले में कुछ भी खुलकर नहीं बोलते हैं। पार्टी के अध्यक्ष ललन सिंह कहते हैं कि पार्टी का नाम ही जनता दल (युनाइटेड) है, हम सभी लोग युनाइटेड हैं। इसमें आपको गुट कहां नजर आता है।

फिलहाल ललन सिंह जहां अपने संसदीय क्षेत्र मुंगेर में लोगों के बीच पहुंच रहे हैं वहीं कुशवाहा बिहार की यात्रा पर कार्यकर्ताओं से मिल रहे हैं। इधर, आरसीपी सिंह भी राज्य का दौराकर अपनी लोकप्रीयता माप रहे हैं।

वैसे, जदयू के लिए यात्रा कोई बात नहीं है। बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार विभिन्न यात्राओं के जरिए राज्य का दौरा करते रहे हैं।

बहरहाल, जदयू में यात्रा को लेकर सियासत चरम पर हैं तथा नेता इन यात्राओं के जरिए जहां अपनी ताकत मजबूत करने में जुटे हैं तथा अपनी लोकप्रियता भी नाप रहे हैं।

Keep up with what Is Happening!

Related Stories

No stories found.
Best hindi news platform for youth. हिंदी ख़बरों की सबसे तेज़ वेब्साईट
www.yoyocial.news