बीरभूम में गरजी ममता, बोलीं- कुछ विधायक ले जाने से नहीं टूटेगी TMC

बीरभूम में गरजी ममता, बोलीं- कुछ विधायक ले जाने से नहीं टूटेगी TMC

बता दें कि पश्चिम बंगाल में साल 2021 के मई में विधानसभा का चुनाव होना है। उससे पहले टीएमसी और बीजेपी में राजनीतिक तकरार बढ़ती जा रही है। साथ ही आरोप प्रत्यारोप का दौर भी जारी है।

पश्चिम बंगाल के बीरभूम में मंगलवार को टीएमसी प्रमुख ममता बनर्जी ने पदयात्रा निकाली और बाद में रैली को संबोधित किया।

ममता बनर्जी ने कहा कि अब बीजेपी वाले हर हफ्ते आते हैं, फाइव स्टार वाला खाना खाते हैं और ऐसे दिखाते हैं कि आदिवासी के साथ खाना खा रहे हैं। हम 365 दिन गुरुदेव रवींद्र नाथ टैगोर के साथ हैं, लेकिन बीजेपी हर दिन फर्जी वीडियो फैलाकर समाज को बांटने का काम कर रही है।

ममता बनर्जी ने बीरभूम जिले के बोलपुर में कहा कि बंगाल की संस्कृति को नष्ट करने के लिए षड्यंत्र रचे जा रहे हैं। हिंसा और विभाजनकारी राजनीति बंद करो।

गौरतलब है कि ममता की पूरी पदयात्रा में सांस्कृतिक कार्यक्रमों का भी नजारा देखने को मिला। साथ ही इस पूरी पदयात्रा में बंगाली कल्चर पर फोकस किया जा रहा है।

बंगाल सीएम ने कहा कि चुनाव से पहले बीजेपी यहां पर पैसों को झोंक रही है, अगर वो पैसे दें तो ले लो लेकिन वोट हमें ही दो। ममता बोलीं कि बीजेपी अब हमारे राष्ट्रगान में भी बदलाव करना चाहती है, बंगाल के कल्चर पर निशाना साधा जा रहा है। उन्हें लगता है कि कुछ विधायक खरीदने से टीएमसी को तोड़ देंगे, लेकिन ऐसा नहीं होगा।

बता दें कि पश्चिम बंगाल में साल 2021 के मई में विधानसभा का चुनाव होना है। उससे पहले टीएमसी और बीजेपी में राजनीतिक तकरार बढ़ती जा रही है। साथ ही आरोप प्रत्यारोप का दौर भी जारी है।

बीजेपी की ओर से भी लगातार प्रचार में तेजी आई है। अमित शाह के अलावा जेपी नड्डा समेत बीजेपी के अन्य बड़े नेता लगातार राज्य का दौरा कर रहे हैं और सभाओं को संबोधित कर रहे हैं।

Keep up with what Is Happening!

Related Stories

Best hindi news platform for youth
www.yoyocial.news