राहुल गांधी का नरेंद्र मोदी और नीतीश कुमार पर सियासी हमला, कहा ये दोनों अलग नहीं, एक ही हैं
राज-काज

राहुल गांधी का नरेंद्र मोदी और नीतीश कुमार पर सियासी हमला, कहा ये दोनों अलग नहीं, एक ही हैं

इसी क्रम में बुधवार को कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी अररिया पहुंचे और चुनावी रैली को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर ताबड़तोड सियासी हमला बोला।

Yoyocial News

Yoyocial News

बिहार विधानसभा चुनाव को लेकर तीसरे और अंतिम चरण के मतदान को लेकर सभी दलों ने अपनी पूरी ताकत झोंक दी है। इसी क्रम में बुधवार को कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी अररिया पहुंचे और चुनावी रैली को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर ताबड़तोड सियासी हमला बोला।

उन्होंने दोनों को एक ही चीज बताते हुए कहा कि ये दोनों अलग नहीं है। प्रधानमंत्री जी नीतीश कुमार की तारीफ करते हैं और प्रधानमंत्री, नीतीश कुमार को मुख्यमंत्री बनाते हैं।

राहुल गांधी ने अररिया में एक चुनावी सभा को संबोधित करते हुए लोगों से पूछा कि आपने भाजपा और जदयू को वोट दिया लेकिन उन्होंने आपको धोखा दिया। उन्होंने कहा कि नीतीश कुमार ने आपके पेट में छूरा मारा। कांग्रेस नेता ने कहा कि पिछले चुनाव में आपने गठबंधन को वोट दिया, लेकिन बाद में नीतीश कुमार भाजपा के साथ मिल गए।

राहुल ने इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीन (EVM) को एमवीएम (मोदी वोटिंग मशीन) बताया। हालांकि उन्होंने कहा कि ईवीएम हो एमवीएम हो, इस बार यहां के युवा में गुस्सा है और महागठबंधन जीतने जा रहा है।

गांधी ने वादा करते हुए कहा, यहां की सरकार ने किसानों के लिए कुछ नहीं किया। हमारी सरकार बनी तो बिहार में फूड प्रोसेसिंग के कारखाने लगाएंगे। जब तक मक्के के कारखाने यहां नहीं लगेंगे तब तक किसानों को अपने अनाज का सही रेट नहीं मिलेगा। पंजाब में फूड प्रोसेसिंग के कारखाने हैं इसलिए किसानों को सही रेट मिलता है।

उन्होंने कहा कि हम चाहते हैं कि बिहार का अनाज यहीं बिके। कोशिश खेत के बिल्कुल पास मक्के को प्रोसेस करने की फैक्ट्री लगाएंगे।

गांधी ने कहा कि नफरत की लड़ाई प्यार से जीती जा सकती है। उन्होंने कहा, वे मुझे गाली देते हैं, अभद्र भाषा का प्रयोग करते हैं लेकिन मैं नरेंद्र मोदी जी से तमीज से बात करता हूं। वह जितनी नफरत फैलाने की कोशिश करते हैं, मैं उतने ही प्यार से पेश आता हूं। मैं तब तक पीछे नहीं हटूंगा जब तक मोदी को हरा ना दूं।

उन्होंने कहा कि हम विचारधारा की लड़ाई लड़ रहे हैं। उन्होंने दावा करते हुए कहा कि उनकी सोच के खिलाफ लड़ाई लड़ रहे हैं और उन्हें हम हराएंगे।

इससे पहले गांधी ने मधेपुरा के बिहारीगंज में एक रैली को संबोधित किया और महागठबंधन के लिए वोट मांगें।

Keep up with what Is Happening!

Best hindi news platform for youth
www.yoyocial.news