स्वच्छ भारत मिशन : रंग लाई शहरी कार्य मंत्रालय की मुहिम, 2900 शहरों के 60 हजार शौचालय गूगल मैप से जुड़े
राज-काज

स्वच्छ भारत मिशन : रंग लाई शहरी कार्य मंत्रालय की मुहिम, 2900 शहरों के 60 हजार शौचालय गूगल मैप से जुड़े

देश भर में शौचालयों को गूगल मैप से जोड़ने की कवायद चल रही है। शुरूआत में दिल्ली, भोपाल और इंदौर में ही योजना धरातल पर उतारी गई थी। जुलाई, 2020 तक देश के 29 सौ शहरों के शौचालयों को गूगल मैप से जोड़ा गया है।

Yoyocial News

Yoyocial News

स्वच्छ भारत मिशन के तहत शहरों में बने शौचालयों को गूगल मैप से जोड़ने की मुहिम और आगे बढ़ गई है। अब देश के 2900 शहरों के 60 हजार शौचालयों को गूगल मैप से जोड़ने में सफलता मिली है। यह जानकारी आवासन और शहरी कार्य मंत्रालय के सूत्रों ने आईएएनएस को दी है। दरअसल, दो साल पहले गूगल के साथ आवासन और शहरी कार्य मंत्रालय ने एक करार किया था। जिसके तहत देश भर में शौचालयों को गूगल मैप से जोड़ने की कवायद चल रही है। शुरूआत में दिल्ली, भोपाल और इंदौर में ही योजना धरातल पर उतारी गई थी। जुलाई, 2020 तक देश के 29 सौ शहरों के शौचालयों को गूगल मैप से जोड़ा गया है।

आवासन एवं शहरी मंत्रालय के एक अधिकारी ने आईएएनएस को बताया, "2900 शहरों के ये 60 हजार शौचालय करीब 55 प्रतिशत शहरी आबादी को कवर करते हैं। गूगल मैप से शौचालयों को जोड़ने से लोगों को उन्हें ढूंढने में आसानी होगी। इसके लिए सिर्फ गूगल पर 'एसबीएम टॉयलेट नियम मी' लिखना होगा।"

मंत्रालय का कहना है कि देश में साफ-सफाई को बढ़ावा दिए जाने के मकसद से लोगों को जागरूक करने के लिए हरसंभव कोशिशें की जा रही हैं। लोग अब प्रयोग वाले शौचालयों की साफ-सफाई के बारे में ऑनलाइन फीडबैक भी दे सकते हैं। गूगल मैप से शौचालयों के जुड़ने से कोई भी स्मार्टफोन से उन्हें खोज सकता है। अपरिचित शहरों में शौच लगने पर लोगों को भटकने की जरूरत नहीं पड़ेगी। गूगल उन्हें नजदीकी शौचालय ढूंढने में मदद करेगा।

Keep up with what Is Happening!

Best hindi news platform for youth
www.yoyocial.news