कोरोना के चलते टॉप 5 की पोजीशन से फिसली भारतीय अर्थव्यवस्था को मुकाम वापस पाने में लगेंगे 5 सालः रिपोर्ट

कोरोना के चलते टॉप 5 की पोजीशन से फिसली भारतीय अर्थव्यवस्था को मुकाम वापस पाने में लगेंगे 5 सालः रिपोर्ट

CEBR एक ताजा रिपोर्ट के अनुसार भारत, जो कि 2020 में कोरोना के चलते दुनिया की टॉप 5 अर्थव्यवस्था की लिस्ट से बाहर हो गया है, वहीं अगले 5 साल में ब्रिटेन को पीछे छोड़कर भारत एक बार फिर 5वीं सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था बन जाएगा। 2030 तक होगा तीसरे नंबर पर।

एक ताजा रिपोर्ट के अनुसार भारत, जो कि 2020 में कोरोना के चलते दुनिया की टॉप 5 अर्थव्यवस्था की लिस्ट से बाहर हो गया है, वहीं अगले 5 साल में ब्रिटेन को पीछे छोड़कर भारत एक बार फिर 5वीं सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था बन जाएगा।

कोरोना संकट से जूझ रही भारतीय अर्थव्यवस्था में रिकवरी अच्छे दिनों का संकेत दे रही है। एक ताजा रिपोर्ट के अनुसार भारत, जो कि 2020 में कोरोना के चलते दुनिया की टॉप 5 अर्थव्यवस्था की लिस्ट से बाहर हो गया है, वहीं अगले 5 साल में ब्रिटेन को पीछे छोड़कर भारत एक बार फिर 5वीं सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था बन जाएगा। यूरोपीय थिंक टैंक के अनुसार भारत की अर्थव्यस्था की जड़ें काफी गहरी हैं और यह 2030 तक दुनिया की तीसरी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था बन सकती है।

बता दें कि भारत 2019 में दुनिया की पांचवीं सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था बनते हुए ब्रिटेन से आगे निकल गया था। लेकिन 2020 में 6 वें स्थान पर वापस आ गया है।अर्थशास्त्र और व्यवसाय अनुसंधान सीईबीआर ने शनिवार को प्रकाशित एक वार्षिक रिपोर्ट में कहा भारत महामारी के प्रभाव से कुछ हद तक प्रभावित हुआ है। नतीजतन, ब्रिटेन इस साल के पूर्वानुमान में भारत से आगे निकल गया है और 2024 तक भारत से आगे रहने की संभावना है।

IANS_ARCH

कोरोना वायरस महामारी से प्रभावित 2020 में भारतीय अर्थव्यवस्था एक पायदान नीचे खिसक कर छठे स्थान पर आ गयी है।भारत 2019 में ब्रिटेन से ऊपर निकल कर पाचवे स्थान पर पहुंच गया था। ब्रिटेन के प्रमुख आर्थिक अनुसंधान संस्थान सेंसटर फार इकोनॉमिक एंड बिजनस रिसर्च (सीईबीआर CEBR) की वार्षिक रपट में कहा गया है, ‘भारत महामरी के असर से रास्ते में थोड़ा लड़खड़ा गया है। इसी का परिणाम है कि भारत 2019 में ब्रिटेन से आगे निकलने के बाद इस साल ब्रिटेन से पीछे हो गया है।

आर्थिक वृद्धि की इस अनुमानित दिशा के अनुसार अर्थव्यवस्था के आकार में भारत 2025 में ब्रिटेन से ,2027 में जर्मनी से और 2030 में जापान से आगे निकल जाएगा। संस्थान का अनुमान है कि चीन 2028 में अमेरिका से ऊपर निकल कर विश्व की सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था हो जाएगा। संस्थान ने कहा है कि भारतीय अर्थव्यवस्था की गति कोविड19 से पहले ही मंद पड़ने लगी थी। 2019 में वृद्धि दर 4.2 प्रतिशत रह गयी थी जो दस साल की न्यूनतम वृद्धि थी।

Keep up with what Is Happening!

Related Stories

Best hindi news platform for youth
www.yoyocial.news