मुनाफावसूली के दबाव में टूटा बाजार, 38071 पर ठहरा सेंसेक्स
रुपया पैसा

मुनाफावसूली के दबाव में टूटा बाजार, 38071 पर ठहरा सेंसेक्स

पिछले सत्र से सेंसेक्स 421.82 यानी 1.10 फीसदी लुढ़क कर 38071.13 पर बंद हुआ जबकि निफ्टी पिछले सत्र से 97.70 अंकों यानी 0.86 फीसदी की गिरावट के साथ 11202.85 पर ठहरा।

Yoyocial News

Yoyocial News

भारतीय शेयर बाजार में बुधवार को बिकवाली का भारी दबाव रहा जिसके कारण प्रमुख संवेदी सूचकांकों में तकरीबन एक फीसदी की गिरावट दर्ज की गई। हालांकि सेंसक्स 38000 के ऊपर बंद हुआ और निफ्टी 11200 के ऊपर ठहरा। बाजार के जानकार बताते हैं कि मुनाफावसूली के कारण बाजार टूटा, हालांकि बीएसई के मिडकैप और स्मॉलकैप सूचकांक बढ़त के साथ बंद हुए। ऊर्जा व ऑटो सेक्टर के सूचकांकों में बिकवाली रही।

पिछले सत्र से सेंसेक्स 421.82 यानी 1.10 फीसदी लुढ़क कर 38071.13 पर बंद हुआ जबकि निफ्टी पिछले सत्र से 97.70 अंकों यानी 0.86 फीसदी की गिरावट के साथ 11202.85 पर ठहरा।

बंबई स्टॉक एक्सचेंज (बीएसई) के 30 शेयरों पर आधारित प्रमुख संवेदी सूचकांक सेंसेक्स पिछले सत्र से 65.80 अंकों की गिरावट के साथ 38427.15 पर खुला और 37884.41 तक लुढ़का जबकि दिनभर के कारोबार के दौरान सेंसेक्स का ऊपरी स्तर 38617.03 रहा।

नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (एनएसई) के 50 शेयरों पर आधारित प्रमुख संवेदी सूचकांक निफ्टी पिछले सत्र से 23.65 अंकों की गिरावट के साथ 11276.90 पर खुला और 11149.75 तक लुढ़का जबकि निफ्टी का ऊपरी स्तर 11341.40 रहा।

हालांकि, बीएसई मिडकैप सूचकांक पिछले सत्र से 93.63 अंकों यानी 0.68 फीसदी की बढ़त के साथ 13762.55 पर बंद हुआ। वहीं, बीएसई स्मॉलकैप सूचकांक 54.93 अंकों यानी 0.43 फीसदी की तेजी के साथ 12972.35 पर बंद हुआ।

सेंसेक्स के 30 शेयरों में से 12 शेयरों में तेजी रही, जबकि 18 शेयर गिरावट के साथ बंद हुए। सबसे ज्यादा तेजी वाले पांच शेयरों में इंडसइंड बैंक (4.54 फीसदी), टाटा स्टील (4.34 फीसदी), सनफार्मा (2.18 फीसदी), बजाज फाइनेंस (1.36 फीसदी) और अल्ट्राटेक सीमेंट (1.18 फीसदी) शामिल रहे।

सेंसेक्स के सबसे ज्यादा गिरावट वाले पांच शेयरों में रिलायंस (3.75 फीसदी), नेस्ले इंडिया (3.02 फीसदी), एचसीएल टेक (2.66 फीसदी), एमएंडएम (2.55 फीसदी) और एचडीएफसी बैंक (1.94 फीसदी) शामिल रहे।

बीएसई के 19 सेक्टरों में से 10 सेक्टरों में गिरावट रही, जबकि नौ सेक्टरों के सूचकांक बढ़त के साथ बंद हुए। बीएसई के सबसे ज्यादा गिरावट वाले पांच सेक्टरों में ऊर्जा (3.04 फीसदी), ऑटो (1.20 फीसदी), तेल व गैस (1.08 फीसदी), आईटी (1.00 फीसदी) और कंज्यूमर ड्यूरेबल्स (0.90 फीसदी) शामिल रहे।

बीएसई के तेजी वाले पांच सेक्टरों में हेल्थकेयर (2.13 फीसदी), धातु (0.98 फीसदी), आधारभूत सामग्री (0.87 फीसदी), टेलीकॉम (0.69 फीसदी) और युटिलिटीज (0.31 फीसदी) शामिल रहे।

बीएसई पर कुल 3108 शेयरों में कारोबार हुआ, जिनमें से 1498 शेयरों में तेजी रही, जबकि 1453 शेयर गिरावट के साथ बंद हुए। कारोबार के आखिर में 157 शेयर बिना किसी बदलाव के बंद हुए।

Keep up with what Is Happening!

Best hindi news platform for youth
www.yoyocial.news