लगातार तीसरे सप्ताह गिरावट के साथ बंद हुए सेंसेक्स, निफ्टी
रुपया पैसा

लगातार तीसरे सप्ताह गिरावट के साथ बंद हुए सेंसेक्स, निफ्टी

इस सप्ताह के आखिरी कारोबारी सत्र में शुक्रवार को बंबई स्टॉक एक्सचेंज (बीएसई) के 30 शेयरों पर आधारित संवेदी सूचकांक सेंसेक्स पिछले सप्ताह से 425.14 अंकों यानी 1.37 फीसदी की गिरावट के साथ 30,672.59 पर बंद हुआ।

By Yoyocial News

Published on :

कोरोना के कहर के कारण मिल रही आर्थिक चुनौतियों से टूटा निवेशकों का मनोबल केंद्र द्वारा लाए गए 20 लाख करोड़ रुपये के पैकेज और भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) के उपायों से भी ऊंचा नहीं हुआ और लगातार तीसरे सप्ताह घरेलू शेयर बाजार गिरावट के साथ बंद हुआ।

इस सप्ताह के आखिरी कारोबारी सत्र में शुक्रवार को बंबई स्टॉक एक्सचेंज (बीएसई) के 30 शेयरों पर आधारित संवेदी सूचकांक सेंसेक्स पिछले सप्ताह से 425.14 अंकों यानी 1.37 फीसदी की गिरावट के साथ 30,672.59 पर बंद हुआ। वहीं, नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (एनएसई) के 50 शेयरों पर आधारित संवेदी सूचकांक निफ्टी पिछले सप्ताह से 97.50 अंकों यानी 1.07 फीसदी की कमजोरी के साथ 9,039.25 पर ठहरा।

अमेरिका और चीन के बीच बढ़ते व्यापारिक तनाव और दुनियाभर में कहर बरपा रही कोरोना महामारी के चलते वैश्विक बाजार से भी उत्साहवर्धक संकेत नहीं मिल पाया और आरबीआई द्वारा देश की आर्थिक विकास की रफ्तार मंद पड़ने की आशंकाओं से बाजार में कारोबारी सप्ताह के आखिरी सत्र में सुस्ती का माहौल बना रहा।

बीएसई मिडकैप सूचकांक पिछले सप्ताह के मुकाबले 230.30 अंकों यानी दो फीसदी की गिरावट के साथ 11,270.02 पर बंद हुआ जबकि स्मॉल-कैप सूचकांक पिछले सप्ताह 164.63 अंकों यानी 1.54 फीसदी की गिरावट के साथ 10,524.23 पर बंद हुआ।

सप्ताह की शुरूआत कमजोरी के साथ हुई और देशव्यापी लॉकडाउन की समयसीमा आगे बढ़ाए जाने से बाजार में शिथिल कारोबार के कारण बिकवाली के भारी दबाव में सोमवार को सेंसेक्स पिछले सत्र से 1,068.75 अंक यानी 3.44 फीसदी लुढ़ककर 30,298.98 पर बंद हुआ। वहीं, निफ्टी सप्ताह के पहले दिन के कारोबार के आखिर में पिछले सत्र से 313.60 अंकों यानी 3.43 फीसदी की गिरावट के साथ 8.823.25 पर बंद हुआ।

हालांकि, कारोबारी सत्र के दूसरे दिन मंगलवार को विदेशी संकेतों से मिले मजबूत संकेतों से सेंसेक्स 167.19 अंकों यानी 0.59 फीसदी की तेजी के साथ 30,196.17 पर बंद हुआ। निफ्टी पिछले सत्र से 55.85 अंकों यानी 0.63 फीसदी की तेजी के साथ 8,879.10 पर बंद हुआ। घरेलू कंपनियों के बीते वित्त वर्ष की चौथी तिमाही के नतीजों से उत्साहित सेंसेक्स पिछले सत्र से 622.44 अंकों यानी 2.06 फीसदी की जबरदस्त तेजी के साथ 30,818.61 पर बंद हुआ।

निफ्टी पिछले सत्र से 187.45 अंकों यानी 2.11 फीसदी के उछाल के साथ 9066.55 पर बंद हुआ। तेजी का यह सिलसिला गुरूवार को भी जारी रहा और सेंसेक्स पिछले सत्र से 114.29 अंकों यानी 0.37 फीसदी की तेजी के साथ 30,932.90 पर बंद हुआ जबकि निफ्टी 39.70 अंकों यानी 0.44 फीसदी बढ़त के साथ 9,106.25 पर ठहरा।

सप्ताह के आखिरी सत्र में आरबीआई द्वारा अचानक रेपो रेट में कटौती समेत राहत के कई उपायों की घोषणा की गई, मगर उससे निवेशकों का मनोबल ऊंचा नहीं हुआ। आरबीआई ने चालू वित्त वर्ष की पहली छमाही में देश की आर्थिक विकास दर यानी सकल घरेलू उत्पाद वृद्धि दर निगेटिव रहने की आशंका जताई है, जिससे शुक्रवार को दलाल स्ट्रीट पर मायूसी छा गई और सेंसेक्स पिछले सत्र से 260.31 अंकों यानी 0.84 फीसदी से गिरावट के साथ 30,672.59 पर बंद हुआ, जबकि निफ्टी 67 अंकों यानी 0.74 फीसदी की गिरावट के साथ 9,039.25 पर ठहरा।

Keep up with what Is Happening!

Best hindi news platform for youth
www.yoyocial.news