कोरोना के कहर से दलाल स्ट्रीट पर हाहाकार, 1400 अंक टूटा सेंसेक्स

कोरोना के कहर से दलाल स्ट्रीट पर हाहाकार, 1400 अंक टूटा सेंसेक्स

पूर्वान्ह 11.12 बजे सेंसेक्स बीते सत्र से 1,397.40 अंकों यानी 2.79 फीसदी की गिरावट के साथ 48,632.43 पर कारोबार कर रहा था। निफ्टी भी बीते सत्र से 379 अंकों यानी 2.55 फीसदी की गिरावट के साथ 14,488.35 पर बना हुआ था।

देश में कोरोना के गहराते कहर से सोमवार को शेयर बाजार सहम गया। बिकवाली के भारी दबाव के चलते दलाल स्ट्रीट पर हाहाकार का आलम रहा। सेंसेक्स बीते सत्र से करीब 1400 अंक टूटा और निफ्टी में भी 400 अंकों से ज्यादा की गिरावट दर्ज की गई।

पूर्वान्ह 11.12 बजे सेंसेक्स बीते सत्र से 1,397.40 अंकों यानी 2.79 फीसदी की गिरावट के साथ 48,632.43 पर कारोबार कर रहा था। निफ्टी भी बीते सत्र से 379 अंकों यानी 2.55 फीसदी की गिरावट के साथ 14,488.35 पर बना हुआ था।

बंबई स्टॉक एक्सचेंज (बीएसई) के 30 शेयरों पर आधारित संवेदी सूचकांक सेंसेक्स बीते सत्र से महज 8.92 अंकों की कमजोरी के साथ 50,020.91 पर खुला और दोपहर से पूर्व के कारोबार के दौरान 48,630.20 तक लुढ़का जबकि इस दौरान सेंसेक्स का उपरी स्तर 50,028.67 रहा।

नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (एनएसई) के 50 शेयरों पर आधारित संवेदी सूचकांक निफ्टी बीते सत्र से 29.65 अंक फिसलकर 14,837.70 पर खुला और कारोबार के दौरान 14,459.50 तक लुढ़का जबकि इस दौरान निफ्टी का उपरी स्तर 14,849.85 रहा।

उधर, देश के विनिर्माण क्षेत्र की गतिविधियों की तस्वीर पेश करने वाले आंकड़े हालांकि खराब नहीं है कि लेकिन बीते महीने के मुकाबले कमजोर जरूर हैं।

जारी मन्युफैक्च रिंग क्षेत्र के परचेजिंग मैनेजर्स इंडेक्स यानी पीएमआई मार्च महीने में 55.4 दर्ज किया गया जोकि फरवरी में 57.5 पर था।

मैन्युफैक्च रिंग पीएमआई के आंकड़े सात महीने के निचले स्तर पर है। हालांकि 50 से उपर पीएमआई के आंकड़े अच्दे माने जाते हैं जबकि 50 से नीचे का स्तर सुस्ती के परिचायक है।

Keep up with what Is Happening!

No stories found.
Best hindi news platform for youth
www.yoyocial.news