सेंसेक्स 1407 अंक लुढ़का, निवेशकों के 6.59 लाख करोड़ डूबे
MH_SM

सेंसेक्स 1407 अंक लुढ़का, निवेशकों के 6.59 लाख करोड़ डूबे

कोरोना के नये वायरस के प्रकोप से दुनियाभर में मचे हाहाकार से भारतीय शेयर बाजार में सोमवार को दोपहर बाद के कारोबार के दौरान कोहराम मच गया। सेंसेक्स बीते सत्र के मुकाबले 1407 अंकों की गिरावट के साथ 45,554 पर बंद होने से पहले 44,923 तक लुढ़का।

कोरोना के नये वायरस के प्रकोप से दुनियाभर में मचे हाहाकार से भारतीय शेयर बाजार में सोमवार को दोपहर बाद के कारोबार के दौरान कोहराम मच गया। सेंसेक्स बीते सत्र के मुकाबले 1407 अंकों की गिरावट के साथ 45,554 पर बंद होने से पहले 44,923 तक लुढ़का। वहीं, निफ्टी बीते सत्र से 432 अंक फिसलकर 13,328 पर ठहरा। सेंसेक्स पिछले सत्र से 1406.73 अंकों यानी तीन फीसदी की गिरावट के साथ 45,553.96 पर बंद हुआ, जबकि निफ्टी 432.15 अंकों यानी 3.14 फीसदी की गिरावट के साथ 13,328.40 पर बंद हुआ। सेंसेक्स के भी 30 शेयरों में गिरावट दर्ज की गई।

बंबई स्टॉक एक्सचेंज (बीएसई) के 30 शेयरों पर आधारित प्रमुख संवेदी सूचकांक सेंसेक्स बीते सत्र से 28.51 अंकों की कमजोरी के साथ 46,932.18 पर खुला और दिनभर के कारोबार के दौरान 47,055.69 तक चढ़ा, जबकि इसका निचला स्तर 44,923.08 रहा।

बीएसई के सभी 19 सेक्टरों के सूचकांक गिरावट के साथ बंद हुए।

नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (एनएसई) के 50 शेयरों पर आधारित प्रमुख संवेदी सूचकांक निफ्टी भी पिछले सत्र से 18.65 अंकों की नरमी के साथ 13,741.90 पर खुला और दिनभर के कारोबार के दौरान 13,777.50 तक उछला, लेकिन बाद में बिकवाली के दबाव में लुढ़ककर 13,131.45 पर आ गया।

यूके में कोरोना वायरस के नये वायरस के प्रकोप के चलते लगाए गए प्रतिबंध से यूरोपीय बाजारों में भारी गिरावट आई, जिसका असर भारतीय शेयर बाजार पर भी पड़ा। वहीं, भारत में नागरिक उड्डयन मंत्रालय ने ब्रिटेन से आने और जाने वाली सभी उड़ानों पर 31 दिसंबर तक रोक लगा दी।

ट्रेड स्विफ्ट के डायरेक्टर संदीप कुमार जैन कहते हैं, "बाजार में लगातार तेजी बनी हुई थी, इसलिए यूके में पैदा हुए संकट से मची हलचल के बीच मुनाफावसूली हावी होने से गिरावट आई, जोकि आनी ही था।"

बीएसई मिडकैप सूचकांक बीते सत्र से 736.20 अंकों यानी 4.14 फीसदी की गिरावट के साथ 17,064.98 पर बंद हुआ, जबकि स्मॉलकैप सूचकांक बीते सत्र से 812.11 अंकों यानी 4.57 फीसदी की गिरावट के साथ 16,956.99 पर ठहरा।

बीएसई के सभी 30 शेयरों में गिरावट रही, जबकि सबसे ज्यादा गिरावट वाले पांच शेयरों में ओएनजीसी (9.15 फीसदी), इंडसइंड बैंक (6.98 फीसदी), एमएंडएम (6.26 फीसदी), एसबीआईएन (6.19 फीसदी) और एनटीपीसी (5.98 फीसदी) शामिल रहे।

बीएसई के सभी 19 सेक्टरों में गिरावट रही लेकिन सबसे ज्यादा गिरावट वाले पांच सेक्टरों में धातु (6.05 फीसदी), तेल व गैस (5.99 फीसदी), युटिलिटीज (5.68 फीसदी), रियल्टी (5.13 फीसदी) और आधारभूत सामग्री (4.74 फीसदी) शामिल रहे।

Keep up with what Is Happening!

Related Stories

Best hindi news platform for youth
www.yoyocial.news