सेंसेक्स 740 अंक लुढ़ककर 48440 पर बंद हुआ, 14325 पर निफ्टी

सेंसेक्स 740 अंक लुढ़ककर 48440 पर बंद हुआ, 14325 पर निफ्टी

सेंसेक्स बीते सत्र से 740.19 अंकों यानी 1.51 फीसदी की गिरावट के साथ 48,440.12 पर कारोबार कर रहा था, जबकि निफ्टी पिछले सत्र से 224.50 अंकों यानी 1.54 फीसदी की गिरावट के साथ 14,324.90 पर बना हुआ था।

कमजोर वैश्विक संकेतों और कोरोना के गहराते कहर से बने निराशाजनक माहौल में घरेलू शेयर बाजार में बुधवार को भी मायूसी का आलम रहा। सेंसेक्स बीते सत्र से 740 अंकों से ज्यादा फिसलकर 48,440 पर बंद हुआ और निफ्टी भी करीब 225 अंक टूटकर 14,325 पर ठहरा।

सेंसेक्स बीते सत्र से 740.19 अंकों यानी 1.51 फीसदी की गिरावट के साथ 48,440.12 पर कारोबार कर रहा था, जबकि निफ्टी पिछले सत्र से 224.50 अंकों यानी 1.54 फीसदी की गिरावट के साथ 14,324.90 पर बना हुआ था।

हालांकि बंबई स्टॉक एक्सचेंज (बीएसई) के 30 शेयरों पर आधारित संवेदी सूचकांक सेंसेक्स बीते सत्र से 21.67 अंकों की बढ़त के साथ 49,201.98 पर खुला और दिनभर के कारोबार के दौरान 48,247.95 तक चढ़ने के बाद फिसलकर 48,236.35 पर आ गया।

नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (एनएसई) के 50 शेयरों पर आधारित संवेदी सूचकांक निफ्टी बीते सत्र से 21.50 अंकों की बढ़त के साथ 14,570.90 पर खुला और 14,575.60 तक चढ़ा लेकिन बिकवाली के दबाव में कारोबार के दौरान 14,264.40 तक फिसला।

बीएसई मिडकैप सूचकांक बीते सत्र से 446.64 अंकों यानी 2.22 फीसदी की गिरावट के साथ 19,643.89 पर बंद हुआ और स्मॉलकैप सूचकांक 378.86 अंकों यानी 1.85 फीसदी की गिरावट के साथ 20,062.06 पर ठहरा।

सेंसेक्स 30 शेयरों में से चार शेयरों में बढ़त रही, जबकि 26 शेयर गिरावट के साथ बंद हुए। बढ़त वाले शेयरों में डॉ. रेड्डी (0.74 फीसदी), आईसीआईसीआई बैंक (0.70 फीसदी), एचडीएफसी (0.25 फीसदी) और एलटी (0.21 फीसदी) शामिल रहे। वहीं, सबसे ज्यादा गिरावट वाले पांच शेयरों में मारुति (3.98 फीसदी), हिंदुस्तानयूनीलीवर (3.47 फीसदी), भारती एयरटेल (2.98 फीसदी), बजाज ऑटो (2.86 फीसदी) और एनटीपीसी (2.83 फीसदी) शामिल रहे।

बीएसई के सभी 19 सेक्टरों के सूचकांकों में गिरावट दर्ज की गई, जिनमें से पांच सबसे ज्यादा गिरावट वाले सेक्टरों में टेलीकॉम (3.14 फीसदी), पावर (2.83 फीसदी), ऑटो (2.80 फीसदी), एनर्जी (2.63 फीसदी) और युटिलिटीज (2.59 फीसदी) शामिल रहे।

Keep up with what Is Happening!

No stories found.
Best hindi news platform for youth
www.yoyocial.news