MSK Prasad
MSK Prasad
स्पोर्ट्स

गेंदबाजों को पसीना और थूक के उपयोग से रोका जाना चाहिए: प्रसाद

इस बात पर खूब चर्चा हो रही है कि COVID-19 का दौर खत्म होने के बाद जब खेल शुरू होगा तो क्या गेंदबाजों को गेंद चमकाने के लिए पसीने और थूक के इस्तेमाल की इजाजत मिलनी चाहिए ?

Yoyocial News

Yoyocial News

कोरोनावायरस के कारण हालिया दौर में सभी क्रिकेट गतिविधियां बंद हैं, लेकिन इस बात पर खूब चर्चा हो रही है कि कोविड-19 का दौर खत्म होने के बाद जब खेल शुरू होगा तो क्या गेंदबाजों को गेंद चमकाने के लिए पसीने और थूक के इस्तेमाल की इजाजत मिलनी चाहिए?

कई पूर्व खिलाड़ियों ने इसकी खिलाफत की है, लेकिन भारत के पूर्व मुख्य चयनकर्ता एमएसके प्रसाद ने कहा है कि गेंदबाजों को थूक और पसीने से गेंद चमकाने से रोका जाना चाहिए।

प्रसाद ने स्टार स्पोर्ट्स तेलुगू के एक कार्यक्रम में कहा, "नियम कहते हैं कि आप गेंद को चमकाने के लिए अतिरिक्त चीजों का इस्तेमाल नहीं कर सकते, क्योंकि यह बॉल टेम्परिंग की श्रेणी में आता है। फिर भी खिलाड़ी गेंद को चमकाने के लिए अपने पसीने और थूक का इस्तेमाल करते हैं। लेकिन मौजूदा स्थिति को देखते हुए इस तरीके पर रोक लगा देनी चाहिए और आईसीसी को कुछ अलग विकल्पों के साथ आना चाहिए।"

Keep up with what Is Happening!

Best hindi news platform for youth
www.yoyocial.news