Chris Gayle
Chris Gayle
स्पोर्ट्स

क्रिस गेल ने सरवन मामले में मांगी माफी

गेल ने तालावाज के सहायक कोच सरवन को 'कोरोनावायरस से भी बुरा' करार दिया था और कहा कि सरवन सांप की तरह है।

Yoyocial News

Yoyocial News

वेस्टइंडीज के सलामी बल्लेबाज क्रिस गेल ने कहा है कि अपनी पूर्व कैरिबियन प्रीमियर लीग (सीपीएल) फ्रेंचाइजी जमैका तालावाज से निकाले जाने के बाद दिए गए अपने बयान पर वह अभी भी कायम हैं।

गेल ने हालांकि स्वीकार किया कि जमैका तालावाज के खिलाफ दिया गया उनका 'कोरोनावायरस से भी बदतर' वाला बयान हानिकारक था।

जमैका तालावाज ने 2020 सीजन के लिए गेल को रिटेन नहीं किया था। इसके बाद गेल ने तालावाज के सहायक कोच सरवन को 'कोरोनावायरस से भी बुरा' करार दिया था और कहा कि सरवन सांप की तरह है।

गेल ने सरवन पर आरोप लगाया था कि सरवन ने उन्हें सीपीएल की टीम जमैका तलावाज से बाहर करने की साजिश रची थी।

Ram Naresh Sarwan
Ram Naresh Sarwan

CPL की वेबसाइट ने शुक्रवार को गेल का आधिकारिक बयान जारी किया।

बयान के अनुसार गेल ने कहा, " हाल में मैंने अपने यूट्यूब चैनल पर तीन वीडियो पोस्ट की थी, जिसमें जमैका तालावाज फ्रेंचाइजी से मुझे निकाले जाने के संबंध में प्रतिक्रिया दी थी।"

उन्होंने कहा, " मैंने अपनी प्रतिक्रिया केवल एक मकसद से दी थी। मैंने जमैका के फैन्स को बताया था कि आखिर क्यों दूसरी बार मैं इस फ्रेंचाइजी से अलग हुआ। मेरी सबसे बड़ी इच्छा थी कि जमैका के लिए खेलते हुए ही अपने करियर को अलविदा कहूं। अपने घरेलू मैदान सबीना पार्क में दर्शकों के सामने ही आखिरी मैच खेलना चाहता था। इस फ्रेंचाइजी के लिए ही मैंने दो सीपीएल जीते हैं।"

सलामी बल्लेबाज ने कहा, " जहां तक मेरी नाराजगी का सवाल है मैं अब भी अपने बयान पर कायम हूं। मैंने जो भी बोला दिल से बोला था।"

उन्होंने हालांकि स्वीकार किया कि इस तरह के बयान क्रिकेट वेस्टइंडीज (सीडब्ल्यू) की छवि और सीपीएल के ब्रांड को भी नुकसान पहुंचा सकते थे।

गेल ने कहा, " इस टी 20 टूर्नामेंट को नुकसान पहुंचाना मेरा मकसद नहीं था। सीपीएल ने मुझे पिछले सात साल से यह मौका दिया है कि मैं अपने कैरिबियाई फैन्स के सामने क्रिकेट खेल सकूं। ये मेरे लिए बेहद सम्मान की बात है और मैं कभी इसे हल्के में नहीं ले सकता हूं।"

इससे पहले, सीडब्ल्यूआई के प्रमुख रिकी स्किरिट ने कहा था कि अपनी पूर्व सीपीएल फ्रेंचाइजी जमैका तालावाज के सहायक कोच रामनरेश सरवन के खिलाफ अभद्र टिप्पणी करने के मामले में सलामी बल्लेबाज क्रिस गेल के खिलाफ कार्रवाई हो सकती है।

लेकिन अब CPL की समिति ने यह फैसला किया है कि वो क्रिस गेल के खिलाफ पेश मामले में किसी प्रकार के ट्रिब्यूनल की सलाह नहीं मांगेगी क्योंकि गेल ने सभी के साथ अच्छे संबंध रखने का आश्वासन दिया है।समिति ने इसके साथ ही गेल से जुड़े मामले को भी बंद कर दिया।

Keep up with what Is Happening!

Best hindi news platform for youth
www.yoyocial.news