डॉमीनिक थीम
डॉमीनिक थीम
स्पोर्ट्स

US Open: जीत के बाद थीम ने कहा, काश दो विजेता हो सकते..

थीम अपने देश के लिए ग्रैंड स्लैम जीतने वाले दूसरे खिलाड़ी बन गए हैं। उनसे पहले थॉमस मस्टर ने 1995 में फ्रेंच ओपन का खिताब जीता था।

Yoyocial News

Yoyocial News

इस साल पुरुष एकल वर्ग में अमेरिका ओपन का खिताब जीतने वाले आस्ट्रिया के टेनिस खिलाड़ी डॉमीनिक थीम ने अपने विपक्षी जर्मनी के एलेक्जेंडर ज्वेरेव की प्रशंसा की है।

दोनों के बीच अमेरिका ओपन का फाइनल खेल गया थो जो बेहद कड़ा और रोचक रहा था। रविवार शाम को खेले गए इस मैच में थीम ने गजब की वापसी की और 2-6, 4-6, 6-4, 6-3, 7-6 से मैच जीत खिताब अपने नाम किया।

इसी के साथ यह फाइनल टूर्नामेंट इतिहास का पहला फाइनल बन गया जिसका फैसला पांचवें सेट के टाई ब्रेकर में निकला।

थीम ओपन इरा में अमेरिका ओपन में पहले दो सेट हारने के बाद खिताब अपने नाम करने वाले पहले खिलाड़ी भी बन गए। इसी के साथ 27 साल का यह जर्मन खिलाड़ी 1990 में पैदा होने वाले खिलाड़ियों में पहला ग्रैंड स्लैम विजेता बना है।

एटीपी की वेबसाइट के मुताबिक थीम ने कहा, "हम एक दूसरे को 2014 से जानते हैं और तभी से हमारी दोस्ती बढ़ी.. और फिर एक बेहतरीन प्रतिद्वंदिता। हम कोर्ट के अंदर और बाहर अच्छी चीजें मुमकिन करते हैं। यह शानदार है कि हमारे सफर ने हमें यह पल साझा करने का मौका दिया है। काश आज हमारे पास दो विजेता हो सकते। हम दोनों इसके हकदार थे।"

थीम अपने देश के लिए ग्रैंड स्लैम जीतने वाले दूसरे खिलाड़ी बन गए हैं। उनसे पहले थॉमस मस्टर ने 1995 में फ्रेंच ओपन का खिताब जीता था। वह अपने शुरुआती तीन ग्रैंड स्लैम फाइनल हार गए थे जिसमें से एक इसी साल आस्ट्रेलियन ओपन का फाइनल था जहां नोवाक जोकोविक ने उन्हें मात दी थी।

उन्होंने कहा, "यह ऐसा ही होना था। मेरा करियर हमेशा से वैसा ही रहा है जैसा आज का मैच था- कई उतार-चढ़ाव और यह जिस तरह से हुआ है वो मुझे काफी पसंद आया।"

ज्वरेवे ने पहली बार ग्रैंड स्लैम के फाइनल में कदम रखा था। उन्होंने भी थीम की जमकर तारीफ की।

उन्होंने कहा, "मैं थीम को पहले ग्रैंड स्लैम खिताब के लिए बधाई देना चाहता हूं। काश तुम थोड़ा और चूक जाते तो यह ट्रॉफी मेरे हाथ में होती, लेकिन मैं यहां उप-विजेता के तौर पर बोल रहा हूं।"

उन्होंने कहा, "मैं अपनी टीम का मेरे साथ बने रहने के लिए शुक्रिया कहना चाहता हूं। बीते दो साल मेरे टेनिस करियर के लिए आसान नहीं रहे हैं। हम निश्चित तौर पर आगे बढ़ रहे हैं और मैं उम्मीद है हम एक दिन साथ ट्रॉफी उठाएंगे।"

Keep up with what Is Happening!

Best hindi news platform for youth
www.yoyocial.news