Harsha Bhogle with Sachin Tendulkar
Harsha Bhogle with Sachin Tendulkar
स्पोर्ट्स

हर्षा भोगले ने 90s में भारतीय क्रिकेट की 10 बड़ी घटनाओं का किया जिक्र, बोले- सचिन के आने से बदली किस्मत

हर्षा भोगले ने 90s के दौरान भारतीय क्रिकेट में घटित हुई 10 बड़ी घटनाओं का जिक्र ट्विटर के माध्यम से किया है।

Yoyocial News

Yoyocial News

भारत के मशहूर क्रिकेट कमेंटेटर हर्षा भोगले ने 90s के दौरान भारतीय क्रिकेट में घटित हुई 10 बड़ी घटनाओं का जिक्र ट्विटर के माध्यम से किया है।

ट्विटर के द्वारा आयोजित किए गए कार्यक्रम के तहत भोगले ने 90s के उन यादों को फैन्स के साथ शेयर किया जिसने भारतीय क्रिकेट को शिखर पर पहुंचाया।

बता दें कि ट्विटर ने 90s की यादों को शेयर करने के लिए इमोजी भी लांच की है।

भोगले ने पहले नंबर पर सचिन तेंदुलकर के भारतीय क्रिकेट में आगमन को सबसे बड़ी घटना के तौर पर याद किया है।

भोगले ने ट्वीट कर लिखा, तेंदुलकर के आने से भारतीय क्रिकेट में बदलाव आया.

दूसरे नंबर पर भोगले ने 1996 वर्ल्डकप क्वार्टर फाइनल में पाकिस्तान के खिलाफ मैच को दूसरी सबसे यादगार घटना बतलाया है।

उन्होंने अपने ट्वीट में लिखा कि उस मैच के दौरान भारतीय फैन्स टीवी से एक पल के लिए भी अलग नहीं हुए थे।

भोगले ने सिद्धू की पारी, वेंकेटेश प्रसाद और आमिर सोहेल के बीच घटित हुई स्लेजिंग को सबसे यादगार घटना बताया.।

वहीं, तीसरे नंबर पर भोगले ने महान कपिल देव (Kapil Dev) के द्वारा वर्ल्ड रिकॉर्ड बनाना, नाइंटीज की तीसरी सबसे बड़ी घटना भारतीय क्रिकेट में होना बताया है।

भोगले ने कहा कि कपिल ने ही नए बॉल को बल्लेबाजों के खिलाफ कैसे हथियार बनाया जाता है, अगली पीढ़ी को सिखाया.

इस लिस्ट में उन्होंने चौथे नंबर पर भारत और पाकिस्तान के बीच 1999 में टेस्ट सीरीज का होना सबसे यादगार घटना के तौर पर याद किया है।

भोगले ने कहा कि भारत और पाकिस्तान की टीम नाइंटीज में काफी क्रिकेट खेलती थी जो फैन्स के लिए काफी यादगार रही।

भोगले ने ट्वीट में लिखा, चेन्नई टेस्ट और फिर कुंबले का दिल्ली टेस्ट मैच में 10 विकेट चटकाना भारतीय क्रिकेट की सबसे बड़ी घटना में से एक है।

इसके अलावा पांचवें नंबर पर क्रिकेट मैचों के टीवी प्रसारण को विस्तार मिलना भोगले की नजर में नाइंटीज की बड़ी घटनाओं में से एक रही।

मशहूर क्रिकेट कमेंटेटर ने छठे नंबर पर मैच फिक्सिंग प्रकरण को रखा है। भारतीय क्रिकेट में मैच फिक्सिंग का आना अहम घटना रही जिसने क्रिकेट को शर्मसार किया।

इसके अलावा हर्षा ने कुंबले, द्रविड़, सौरव गांगुली और लक्ष्मण के भारतीय क्रिकेट में आगमन एक बड़ी घटना रही जिसने भारतीय क्रिकेट को एक अलग दिशा दी।

इसके अलावा भोगले ने सहवाग के आने को भी भारतीय क्रिकेट की बड़ी घटनाओं में शूमार किया है.

नंबर 8 पर भोगले ने भारत के 1992-93 में दक्षिण अफ्रीका के दौरे को लिस्ट में शामिल किया है।

इसके अलावा उन्होंने नंबर 9 पर भारत का विदेशी धरती पर औसत परफॉर्मेंस को भी लिस्ट में जगह दी है।

भोगले ने कहा कि 90s में भारतीय टीम अपने घर पर टेस्ट जीत और ड्रा करा रही थी लेकिन विदेशी धरती पर या तो मैच हारती या फिर मैच ड्रा कराती थी।

तेदुलकर के करियर में पहली विदेशी टेस्ट जीत उनके डेब्यू के 12 साल बाद आई थी।

भोगले ने नंबर 10 पर एडवरटाइजिंग की दुनिया में क्रिकेट की पहुंच को अहम बताया है।

भोगले ने कहा कि 90s में एडवरटाइजिंग का क्रिकेट की दुनिया में तेजी से बढ़ना भारतीय किकेट को दुनिया का अमीर बोर्ड बनाने में कारगार साबित हुआ।

Keep up with what Is Happening!

Best hindi news platform for youth
www.yoyocial.news