स्पोर्ट्स

भारतीय भारोत्तोलन महासंघ ने कहा, चीनी उपकरणों के इस्तेमाल पर रोक लगाएंगे

गौरतलब है कि 15 जून को लद्दाख के गलवान घाटी में हुई हिंसक झड़प के बाद चीनी उत्पादों के इस्तेमाल के बहिष्कार की मांग की जा रही है। इस संघर्ष में 20 भारतीय सैनिक शहीद हो गए थे।

Yoyocial News

Yoyocial News

Indian Weightlifting Federation
Indian Weightlifting Federation

भारतीय भारोत्तोलन महासंघ (आईडब्ल्यूएलएफ) चीन की कंपनियों द्वारा बनाए गए उपकरणों के इस्तेमाल पर रोक लगाएगा।

आईडब्ल्यूएलएफ के महासचिव जनरल सहदेव यादव ने कहा है कि महासंघ ने इस मामले में भारतीय खेल प्राधिकरण (साई) को एक पत्र लिखा है।

यादव ने गुरुवार को IANS से कहा, "हमें पत्र के जवाब के लिए इंतजार करने की जरूरत नहीं है। हमने फैसला किया है कि हम चीन की कंपनियों से कोई भी उपकरण नहीं खरीदेंगे।"

महासंघ ने चीनी कंपनी 'जेडकेसी' से पिछले साल चार भारोत्तोलन सेट मंगवाए थे। इस आशय की चर्चाएं रही कि यह उपकरण खराब निकले थे।

यादव ने कहा, "हम सब जानते हैं कि हर कोई चीनी उपकरण के खिलाफ क्यों है। यही एक कारण है कि हम इससे खरीदना नहीं चाहते हैं।"

गौरतलब है कि 15 जून को लद्दाख के गलवान घाटी में हुई हिंसक झड़प के बाद चीनी उत्पादों के इस्तेमाल के बहिष्कार की मांग की जा रही है। इस संघर्ष में 20 भारतीय सैनिक शहीद हो गए थे।

Keep up with what Is Happening!

Best hindi news platform for youth
www.yoyocial.news