अपने शतक को दोहरे या तिहरे शतक में बदलना नहीं आता था सचिन को: कपिल देव
Kapil Dev

अपने शतक को दोहरे या तिहरे शतक में बदलना नहीं आता था सचिन को: कपिल देव

तेंदुलकर के 51 शतकों में से सिर्फ 20 ही ऐसे हैं, जिसमें उन्होंने 150 से ज्यादा रन बनाए। हालांकि, वे वनडे में जरूर दोहरा शतक लगाने वाले पहले बल्लेबाज हैं।

भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान कपिल देव ने सचिन तेंदुलकर के टेस्ट में ज्यादा दोहरे शतक न लगा पाने पर सवाल उठाए हैं।

कपिल ने कहा कि सचिन शतक बनाना तो जानते थे, लेकिन वह उसे दोहरे और तिहरे शतक में बदलने की कला में बहुत माहिर नहीं थे। उन्होंने डब्ल्यू वी रमन से इंटरव्यू में यह बातें कहीं।

भारत के पूर्व महान बल्लेबाज और बल्लेबाजी में क्रिकेट का लगभग हर रिकॉर्ड अपने नाम रखने वाले सचिन तेंदुलकर ने टेस्ट क्रिकेट में छह दोहरे शतक लगाए हैं।

हालांकि, ऐसा करने के लिए उन्हें 200 टेस्ट लग गए और इसी कारण वह दोहरा शतक लगाने वाले बल्लेबाजों की टॉप-10 लिस्ट में नहीं हैं।

सचिन ने टेस्ट में सबसे ज्यादा 51 शतक लगाए हैं। उन्हें पहला दोहरा शतक लगाने में 10 साल का वक्त लगा। उन्होंने 1999 में न्यूजीलैंड के खिलाफ हैदराबाद में पहली बार डबल सेंचुरी बनाई थी।

Sachin Tendulkar
Sachin Tendulkar

तेंदुलकर के 51 शतकों में से सिर्फ 20 ही ऐसे हैं, जिसमें उन्होंने 150 से ज्यादा रन बनाए। हालांकि, वे वनडे में जरूर दोहरा शतक लगाने वाले पहले बल्लेबाज हैं।

कपिल देव ने भी इस चीज पर गौर किया है और कहा है कि सचिन शतक को बड़ी पारी में नहीं बदल पाते थे।

भारत के लिए टेस्ट में सबसे ज्यादा 7 दोहरे शतक मौजूदा कप्तान विराट कोहली ने लगाए हैं। वहीं, अब तक दो भारतीय बल्लेबाज वीरेंद्र सहवाग (2) और करुण नायर (1) ने तिहरे शतक लगाए हैं।

12 दोहरे शतक के साथ ऑस्ट्रेलियाई बल्लेबाज डॉन ब्रैडमेन पहले नंबर पर हैं।

Keep up with what Is Happening!

Related Stories

Best hindi news platform for youth
www.yoyocial.news