Naomi Osaka
Naomi Osaka
स्पोर्ट्स

US Open: नाओमी ओसाका ने जीता महिला सिंगल का खिताब

ओसाका ने तीसरे सेट में 3-1 की बढ़त ले ली थी और यहां एजारेंका के पास तीन ब्रेक प्वाइंट जीत मैच में वापसी का मौका था जिसे वह भुना नहीं सकीं और ओसाका ने बढ़त को 4-1 कर लिया।

Yoyocial News

Yoyocial News

चौथी सीड जापान की नाओमी ओसाका ने शनिवार को अमेरिका ओपन के महिला एकल वर्ग का खिताब अपने नाम कर लिया।

ओसाका ने फाइनल में विक्टोरिया एजारेंका को 1-6, 6-3, 6-3 से मात दे कर खिताब पर कब्जा जमाया। यह ओसाका का दूसरा अमेरिका ओपन और तीसरा ग्रैंड स्लैम खिताब है। इससे पहले वो 2018 में अमेरिका ओपन और 2019 में आस्ट्रेलियन ओपन का खिताब अपने नाम कर चुकी हैं।

समाचार एजेंसी सिन्हुआ ने ओसाका के हवाले से लिखा है, "अंत में मेरा ध्यान सिर्फ इस बात पर था कि मैं कोर्ट पर किस चीज को नियंत्रण में कर सकती हूं। मेरा ध्यान 2018 में भी इसी बात पर था। मुझे लगता है कि इस बार भी मैंने यही किया।"

ओसाका ने 2018 में सेरेना विलियम्स को मात दे खिताब जीता था।

बेलारूस की एजारेंका पहले सेट को अपने नाम करने में सफल रहीं। उन्होंने महज 26 मिनट में पहला सेट 6-1 से जीत लिया। ओसाका ने इस सेट में 13 अनफोर्सडज एरर कीं।

दूसरे सेट में एजारेंका ने ओसाका की सर्विस को फिर तोड़ा और 2-0 से आगे हो गईं लेकिन यहां से ओसाका ने वापसी करते हुए दो बार सर्विस तोड़ी और 4-3 की बढ़त ले ली।

ओसाका ने फिर मैच में अपना पलड़ा भारी कर लिया और तीसरी बार सर्विस तोड़ा और मैच को तीसरे सेट में ले गईं।

ओसाका ने इस पर कहा, "पहले सेट में मैं घबराई हुई थी। मैं अपने पैर नहीं हिला पा रही थी। मुझे लग रहा था कि मैं अपना सर्वश्रेष्ठ नहीं खेल रही हूं। मेरे दिमाग में काफी कुछ चल रहा था। एक घंटे में इस मैच को हारना काफी खराब होता इसलिए मैं अपना सर्वश्रेष्ठ देती रही।"

ओसाका ने तीसरे सेट में 3-1 की बढ़त ले ली थी और यहां एजारेंका के पास तीन ब्रेक प्वाइंट जीत मैच में वापसी का मौका था जिसे वह भुना नहीं सकीं और ओसाका ने बढ़त को 4-1 कर लिया।

यहां से ओसाका ने पीछे मुड़कर नहीं देखा और ट्रॉफी अपने नाम की।

एजारेंका ने कहा, "लंबे समय से मैंने यह परिणाम नहीं देखा। इसलिए मैं काफी उत्साहित थी। आज, मुझे हार मिली, लेकिन इसने मुझे ज्यादा बदला नहीं। जाहिर सी बात है कि मैं जीतना पसंद करती।"

उन्होंने कहा, "मैं आज कोर्ट पर जो कर सकती थी किया। मुझे लगा कि मैं काफी आगे बढ़ी हूं। मैंने काफी शानदार मैच खेले। मुझे लगाता है कि मैंने अपने आप को मानसिक और शारीरिक तौर पर काफी परखा। यह शानदार सफर रहा। मैं इसे जारी रखना चाहती हूं।"

Keep up with what Is Happening!

Best hindi news platform for youth
www.yoyocial.news