महिला क्रिकेट: ऑस्ट्रेलिया के सामने भारत का दमदार प्रदर्शन, एकमात्र डे-नाइट टेस्ट मैच ड्रॉ

भारत की पारी में मंधाना के अलावा दीप्ति ने 167 गेंदों पर आठ चौकों की मदद से 66 रन बनाए। ऑस्ट्रेलिया की ओर से एलिसे पेरी, स्टेला कैंपबेल और सोफी मोलिनेयुक्स को दो-दो विकेट मिले जबकि एश्ले गार्डनर ने एक विकेट लिया।
महिला क्रिकेट: ऑस्ट्रेलिया के सामने भारत का दमदार प्रदर्शन, एकमात्र डे-नाइट टेस्ट मैच ड्रॉ

भारतीय महिला क्रिकेट टीम और ऑस्ट्रेलियाई महिला टीम के बीच यहां कारारा ओवल में खेले गए एकमात्र डे-नाइट टेस्ट मैच ड्रॉ पर खत्म हुआ। भारतीय टीम ने पहली पारी आठ विकेट पर 377 रन पर घोषित की थी।

इसके जवाब में ऑस्ट्रेलिया ने पहली पारी नौ विकेट पर 241 रन पर घोषित की। मैच का नतीजा निकले इसलिए भारत ने चौथे और अंतिम दिन चाय के बाद पारी घोषित करने का फैसला लिया।

भारत ने पहली पारी में 136 रन की बढ़त हासिल ली थी। उसने अपनी दूसरी पारी 3 विकेट पर 135 रन पर घोषित की। ऑस्ट्रेलिया को जीत के लिए 272 रन का लक्ष्य मिला। जिस समय भारत ने दूसरी पारी घोषित की थी, तब 32 ओवर फेंके जाने शेष थे।

हालांकि, 15 ओवर के बाद ही दोनों कप्तान यानी मिताली राज और मेग लेनिंग मैच खत्म करने के लिए तैयार हो गईं। जिस समय मैच ड्रॉ घोषित किया गया, उस समय ऑस्ट्रेलिया का स्कोर 15 ओवर में 2 विकेट पर 36 रन था। पहली पारी में शतक लगाने वाली स्मृति मंधाना प्लेयर ऑफ द मैच चुनी गईं। स्मृति मंधाना ने पहली पारी में 127 और दूसरी पारी में 31 रन बनाए थे।

भारत की ओर से दूसरी पारी में झुलन गोस्वामी और पूजा वसत्राकर ने एक-एक विकेट लिए।

इससे पहले, ऑस्ट्रेलिया ने चौथे दिन तीन विकेट पर 143 रन पर खेलना शुरू किया। एलिस पैरी (नाबाद 68) और एशले गार्डनर (51) 89 रन की साझेदारी कर चुकी थीं। इसके बाद भारतीय तेज गेंदबाजों ने ऑस्ट्रेलिया के बल्लेबाजी क्रम को ताबड़तोड़ झटके दिए और नौ विकेट पर 240 रन तक पहुंचा दिया। जिसके बाद ऑस्ट्रेलिया की कप्तान मेग लैनिंग ने पारी घोषित करने का फैसला लिया।

Keep up with what Is Happening!

Related Stories

No stories found.