लखनऊ: गोमती नगर में मिले 3 कोरोना पॉजिटिव के बाद खास सतकर्ता, कैसरबाग-सदर में अलर्ट
ताज़ातरीन

लखनऊ: गोमती नगर में मिले 3 कोरोना पॉजिटिव के बाद खास सतकर्ता, कैसरबाग-सदर में अलर्ट

स्वास्थ्य विभाग की टीम ने इंजीनियर के मकान से सटे 5 मकानों से 20 लोगों के सैंपल इकट्ठा किए हैं। इन्हें जांच के लिए भेजा गया है। इसके अलावा करीब 500 परिवारों की स्क्रीनिंग की गई है।

Yoyocial News

Yoyocial News

यूपी में कोरोना वायरस के मामले लगातार बढ़ते ही जा रहे हैं। राजधानी लखनऊ के अलग-अलग इलाकों से शनिवार को कई कोरोना पॉजिटिव मरीज मिले हैं। ताजा मामला गोमती नगर के विराम खंड से आया है, जहां के एक इंजीनियर के परिवार के 3 लोगों को कोरोना पॉजिटिव पाया गया है। बताया जा रहा है कि इंजीनियर पति और उसकी पत्नी कुछ दिन पहले अलीगढ़ से लौटे थे। मामले की पुष्टि होने के बाद उनके घर के आसपास रहने वालों के भी सैंपल लिए गए है।

शनिवार सुबह करीब 09:00 बजे पहुंची स्वास्थ्य विभाग की टीम ने इंजीनियर के मकान से सटे 5 मकानों से 20 लोगों के सैंपल इकट्ठा किए हैं। इन्हें जांच के लिए भेजा गया है। इसके अलावा करीब 500 परिवारों की स्क्रीनिंग की गई है। इसके तहत यह जानकारी जुटाई गई है कि क्या वे इंजीनियर परिवार के संपर्क में थे अथवा नहीं।

ज्यादातर लोगों ने इंजीनियर के परिवार से संपर्क होने से इंकार किया है। इन लोगों मैं किसी तरह के लक्षण भी नहीं पाए गए। फिर भी सभी को सावधान रहने के निर्देश दिए गए हैं। साथ ही यह भी कहा गया है कि किसी भी तरह की दिक्कत होने पर तत्काल संबंधित टीम को सूचना देंगे। इसके बाद इनकी सैंपल इन कराई जाएगी।

यूपी में 195 नये केस, 3 मौतें

इसके साथ ही उत्तर प्रदेश में बीते 24 घंटे में 195 नये कोरोना पॉजिटिव केस पाए गये हैं जबकि 3 लोगों की म्रत्यु हुई है. अब तक यूपी में कोरोना के कुल मरीजों की संख्या 4140 और मृतकों की संख्या 95 हो गई है. स्वास्थ्य विभाग केअनुसार राज्य में इस वक्त कोरोना के 1718 एक्टिव केस हैं.

उधर, कोरोना के बढ़ते मामले देख स्वास्थ्य विभाग ने कैसरबाग और सदर इलाके पर निगरानी तेज कर दी है। दोनों इलाकों में स्क्रीनिंग के लिए 40-40 टीमें लगा दी गई हैं। ये घर-घर जाकर लोगों का हाल ले रही हैं। इस दौरान कहीं समस्या पाए जाने पर टीम फिर तीन दिन बाद परिवार की स्क्रीनिंग करेगी। वहीं, सदर में एक बार फिर सैंपल लेने की कवायद भी शुरू कर दी गई है। स्वास्थ्य विभाग ने 24 अप्रैल के बाद सदर में सैंपलिंग बंद कर दी थी। हालांकि, 11 और 13 मई को एक-एक और 14 मई को दो मरीज मिलने के बाद एक बार फिर यह इलाका विभाग के टारगेट पर आ गया है।

सदर से कहीं ज्यादा सावधानी कैसरबाग में बरती जा रही है। इलाके में अब तक 61 मरीज मिल चुके हैं, जबकि अब तक 866 लोगों के सैंपल लिए जा चुके हैं। कैसरबाग सब्जी मंडी के बगल में स्थित मछली मोहाल में 12 मरीज मिल चुके हैं और यहां 500 की सैंपलिंग हो चुकी है। 

शुक्रवार को चार नए मरीज सामने आने के बाद विभाग ने अपनी सक्रियता बढ़ा दी है। यहां भी 40 टीमें नियमित रूप से स्क्रीनिंग करेंगी। ये टीमें जो पॉजिटिव पाए गए हैं, उनके घर और आसपास के लोगों की लगातार स्क्रीनिंग कर डाटा शीट तैयार करेंगे। इसमें परिवार के हर सदस्य की बीमारी के संबंध में जानकारी रखी जाएगी। ऐसे में किसी में कोरोना के लक्षण पाए जाते हैं तो तत्काल चिकित्सकीय टीम उसकी स्क्रीनिंग कर जांच करेगी। इसके अलावा उड़ाका दल की पांच टीमें भी इस इलाके में सक्रिय रहेंगी। यदि सैंपलिंग में कोई पॉजिटिव मिलेगा तो यह टीम उस इलाके में सक्रिय हो जाएगी।

स्वास्थ्य विभाग ने अन्य इलाकों में भी छिटपुट स्क्रीनिंग और सैंपल लेने की रणनीति बनाई है। खदरा, गोमतीनगर विस्तार, डालीगंज नक्खास, मोतीझील, नयागांव आदि इलाकों में दो से तीन टीमें पॉजिटिव मिले मरीजों के परिवार और पड़ोसियों की जानकारी लेती रहेंगी। इन इलाकों में कार्यरत आशा कार्यकर्ता को भी जानकारी रखने के निर्देश दिए गए हैं। अब इन इलाके में किसी में लक्षण पाए जाने के बाद ही सैंपलिंग कराई जा रही है।

बता दें राजधानी लखनऊ में प्रवासी मजदूरों का शहर आना भी जारी है। ऐसे में सभी को क्‍‍‍‍वारंटाइन कर जांंच की जा रही है। सीएमओ की टीम ने क्वारंटाइन सेंटर से सैंपल जांच के लिए भेजे। शन‍िवार सुबह आई र‍िपोर्ट में 7 श्रम‍िक कोरोना संक्रम‍ित म‍िले हैं। इनमें 3 काकोरी, 2 बीकेटी, 1 निगोहा, 1 नगराम निवासी है।

Keep up with what Is Happening!

Best hindi news platform for youth
www.yoyocial.news