गुजरात के 345 मछुआरे पाकिस्तानी जेलों में बंद

गुजरात के 345 मछुआरे पाकिस्तानी जेलों में बंद

गुजरात से कुल 345 मछुआरे पाकिस्तान की जेलों में बंद हैं। राज्य विधानसभा ने गुरुवार को ये जानकारी दी। ये आंकड़ा 31 दिसंबर 2020 तक का है। कांग्रेस सदस्य शैलेश परमार के एक सवाल का जवाब देते हुए, मत्स्य और पर्यटन मंत्री जवाहर चावड़ा ने कहा कि...

गुजरात से कुल 345 मछुआरे पाकिस्तान की जेलों में बंद हैं। राज्य विधानसभा ने गुरुवार को ये जानकारी दी। ये आंकड़ा 31 दिसंबर 2020 तक का है। कांग्रेस सदस्य शैलेश परमार के एक सवाल का जवाब देते हुए, मत्स्य और पर्यटन मंत्री जवाहर चावड़ा ने कहा कि 2019 में, कुल 85 मछुआरों को पकड़ लिया गया और 2020 में, 163 मछुआरों को।

उन्होंने कहा, 2019 से पहले कुल 97 मछुआरे पाकिस्तानी अधिकारियों द्वारा कैद किए गए थे और अभी भी जेल में बंद हैं।

मंत्री ने कहा कि पाकिस्तान की समुद्री सुरक्षा एजेंसी मछुआरों को गिरफ्तार करने के बाद मछली पकड़ने वाली नौकाओं को भी जब्त कर लेती है। एक हजार से अधिक नौकाएं, जो मछुआरों की आजीविका का मुख्य स्रोत हैं, को जब्त किया गया है। इसी तरह, भारतीय तटरक्षक बल (आईसीजी) ने भी पाकिस्तान से मछुआरों की लगभग 300 नौकाओं को जब्त किया है।

उन्होंने यह भी कहा कि गुजरात के मछुआरे, ज्यादा मछली पकड़ने के चक्कर में पाकिस्तानी इलाकों में चले जाते हैं, और कभी-कभी, उन्हें पता होता है कि वो पाकिस्तानी इलाके में हैं, लेकिन वे मौसम की स्थिति के चलते नाव को रोक नहीं सकते।

Keep up with what Is Happening!

No stories found.
Best hindi news platform for youth
www.yoyocial.news